Aerospace Engineer Kaise bane।Career in Aerospace Engineering

Career in Aerospace Engineering:  क्या आप ऐरोस्पेस इंजीनियरिंग में कैरियर बनाना चाहते हैं। क्या ये जानना चाहते हैं कि Aerospace Engineer kaise bane. अगर आपको ऐरोस्पेस इंजीनियरिंग के बारे में सारी जानकारी चाहिए, तो इस पोस्ट को ध्यान से पढ़े। इस पोस्ट में मैने Aerospace Engineering Me Career kaise banaye इसके बारे में डिटेल में बताया है। जिससे आप आसानी से इस फील्ड में कैरियर बना सकेंगे। इस आर्टिकल में Aerospace Engineering Career Scope, कोर्स, कॉलेज, एडमिशन की प्रक्रिया, कैरियर ऑप्शन आदि के बारे में सारी इन्फॉर्मेशन दी है। इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपके Aerospace Engineering से रिलेटेड हर तरह की जानकारी मिल जाएगी। चलिए अब जान लेते हैं कि Aerospace Engineer kaise bane.

Aerospace Engineer kaise bane

ऐरोस्पेस इंजीनियरिंग काफी संभावनाओं से भरा कैरियर है। अगर आप भी Aerospace Engineering में Career बनाना चाहते हैं, तो इसके लिए आवश्यक योग्यता पीसीएम सब्जेक्ट से 12वीं पास है। Aerospace Engineering Course में एडमिशन प्रवेश परीक्षा के माध्यम से मिलता है। इसके लिए कई सारे एंट्रेंस एग्जाम आयोजित किये जाते हैं। जिनको क्वालीफाई कर Aerospace Engineering में बीटेक या बीई कर आप ऐरोस्पेस इंजीनियर बनने का सपना पूरा कर सकते हैं।

Career Scope in Aerospace Engineering

आज के समय मे अच्छे ऐरोस्पेस इंजीनियर की काफी डिमांड है। इस सेक्टर में कैरियर की काफी अच्छा स्कोप है। Aerospace Engineering में एयरलाइंस, एयर फ़ोर्स, सरकारी अनुसंधान,कॉर्पोरेट अनुसंधान, हेलीकॉप्टर कंपनियां,फिक्स्ड विंग, एयरक्राफ्ट, रक्षामंत्रालय, मिसाइल,एयरशिप्स, विमानन कंपनियां,उपग्रह, अंतरिक्ष यान,अंतरिक्ष शिल्पअंतरिक्ष यात्री आदि जगहों पर कैरियर की अच्छी संभावनाएं हैं।

Work of Aerospace Engineer

ऐरोस्पेस इंजीनियर के मुख्य काम स्पेस क्राफ्ट, एयरक्राफ्ट, उपग्रह और मिसाइल को डिज़ाइन करना होता है। डिजाइन के आकलन के लिए ये लोग प्रोटोटाइप का परीक्षण करते हैं। इसके अलावा Aerospace Engineer इंजन, एयरफ्रेम, विंग्स , लैंडिंग गियर, इंस्ट्रूमेंट्स  और कंट्रोल सिस्टम आदि का निर्माण अथवा इसके घटकों का डिजाइन करने का काम करते हैं। आमतौर पर ऐरोस्पेस इंजीनियर ऑफिस एनवायरमेंट में काम करते हैं, लेकिन किसी कारणवश वे मेनूफैक्चरिंग और टेस्टिंग फैसिलिटी सेंटर पर भी काम के लिए जाते हैं।
अधिकतर Aerospace Engineer सरकारी एजेंसियों और मेन्युफैक्चरिंग इंडस्ट्रीज में कार्य करते हैं। इसके अतिरिक्त, कुछ चुनिंदा एयरोस्पेस इंजीनियरों को नासा जैसे अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पर काम करने के लिए भी कुछ अच्छे Aerospace Engineer की नियुक्ति की जाती है। Also Read- एरोनॉटिकल इंजीनियर कैसे बने

Aerospace Engineering Course

बीटेक
बीई
एमटेक
एमई
पीएचडी

Aerospace Engineer Salary

ऐरोस्पेस इंजीनियर की सैलरी काफी ज्यादा होती है। एक अच्छे ऐरोस्पेस इंजीनियर की सैलरी 70 हजार से लाखों रुपये तक मिलती है। 

Entrance Exam for Aerospace Engineering

एयरोस्पेस इंजीनियरिंग में एडमिशन में एडमिशन के लिए आप निम्न प्रवेश परीक्षाएं दे सकते हैं। जैसेकि-

द इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ एरोनौटिक्स (आईआईए) इंट्रेंस एग्जाम 
दिल्ली यूनिवर्सिटी कंबाइंड इंट्रेंस एग्जामिनेशन (सीईई)
हिंदुस्तान यूनिवर्सिटी इंट्रेंस एग्जामिनेशन (एचआईटीएसईई)
ऑल इंडिया इंजीनियरिंग / आर्किटेक्चर इंट्रेंस (एआईईईई)
आईआईएसएटी इंट्रेंस एग्जाम  (आईआईएसटी, तिरुवनंतपुरम)
एसआईएलईटी इंट्रेंस एग्जाम (एसईटी)
एसआरएम इंजीनियरिंग इंट्रेंस एग्जाम (एसआरएम ईईई) एडमिशन
आईआईटी द्वारा आयोजित जेईई (ज्वाइंट इंट्रेंस एग्जाम)
ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग (गेट)
पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज पीएचडी इंट्रेंस एग्जाम  
सत्यबामा यूनिवर्सिटी एमई इंट्रेंस एग्जाम  

College for Aerospace Engineering

स्कूल ऑफ एरोनॉटिक्स, द्वारका (गुजरात)
सथ्यबामा यूनिवर्सिटी, चेन्नई (तमिलनाडु)
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस (आईआईएस), बैंगलोर
इंस्टिट्यूट ऑफ इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग ट्रेनिंग एकेडमी, पुणे (महाराष्ट्र)
गुरू ग्राम इंस्टिट्यूट ऑफ एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, गुड़गांव
नेहरू इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी (एनआईईटी), कोयंबटूर
फ्लाईटेक एविएशन एकेडमी, सिकंदराबाद
वी.एस.एम. इंस्टीट्यूट ऑफ़ एयरोस्पेस इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, बैंगलोर
जया इंजीनियरिंग कॉलेज, तिरुवल्लूरहिंदुस्तान इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, कोयंबटूर (तमिलनाडु)
कर्पगम इंस्टिट्यूट ऑफ टैक्नोलॉजी, कोयंबटूर
कुमारगुरु कॉलेज ऑफ टैक्नोलॉजी, कोयंबटूर
जैन यूनिवर्सिटी, बैंगलोर (कर्नाटक)
एम.एल.आर.इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, हैदराबाद
एम.वी.जे.कॉलेज ऑफ़ इंजीनियरिंग, बैंगलोर
मणिपाल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, मणिपाल
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग, देहरादून
पार्क कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, कोयंबटूर
टैगोर इंजीनियरिंग कॉलेज (टीईसी), चेन्नई
नेहरू कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड रिसर्च सेंटर, थ्रिसुर
साई फ्लाईटेक एविएशन प्राइवेट लिमिटेड, बिलासपुर
सिद्धार्थ इंस्टीट्यूट ऑफ एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग एंड इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, बैंगलोर (कर्नाटक)
राजस्थान इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड इंजीनियरिंग साइंस, कोटा
एयरोनॉटिकल एंड मैरीन इंजीनियरिंग इंस्टीट्यूट, बैंगलोर (कर्नाटक)
अधीयमान कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, होसूर
इंजीनियर्स ट्रेनिंग सेंटर (ईटीसी), त्रिशूर
गुरु नानक इंजीनियरिंग कॉलेज, हैदराबाद
हिंदुस्तान इंस्टिट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग टैक्नोलॉजी (एचआईईटी), चेन्नई
हिंदुस्तान यूनिवर्सिटी, केल्ंबक्कम (तमिलनाडु)
गुरु ग्राम इंस्टिट्यूट ऑफ एरोनॉटिकल 
इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, नागपुर
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ एयरोनॉटिकल 
इंजीनियरिंग एंड इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, पुणे (महाराष्ट्र)
हिंदुस्तान कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी (एचआईसीईटी), कोयंबटूर
भारत इंस्टिट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टैक्नोलॉजी (बीआईईटी), हैदराबाद
मोहम्मद सथक इंजीनियरिंग कॉलेज, रामानथपुरम
वेले टेक इंजीनियरिंग कॉलेज, चेन्नई (तमिलनाडु)
पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज, चंडीगढ़
एम.एन.आर कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, हैदराबाद

Question Covered in This Article

Aerospace Engineer kaise bane,
Aerospace Engineering Career scope,
Aerospace Engineering Entrance Exam,
Aerospace Engineering College,
Aerospace Engineering Course,

ये भी पढ़े –


Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *