B Pharma Kya hai

What is B Pharma in Hindi- क्या आप बीफार्मा कोर्स करना चाहते हैं? क्या आप बीफार्मा के बारे में जानकारी चाहते हैं? आज की इस पोस्ट में हम आपको B Pharma Kya hai और इसमे कैसे कैरियर बनाएं। इसके बारे में ही बताएंगे। अगर आपका भी सपना Pharmacist बनने का है या फार्मेसी फील्ड के अन्य सेक्टर में कैरियर बनाना चाहते हैं तो इस लेख में बीफार्मा कोर्स से जुड़ी हर जानकारी मिलेगी (B Pharma Course Details in hindi). वैसे तो अपने बहुत से लेख B Pharma Me Career kaise banaye इसके बारे में आपने पढ़े होंगे।

लेकिन वंहा पर भी आपको इसके बारे में डिटेल में जानकारी नही मिल पाएगी। लेकिन मैंने इस आर्टिकल में B Pharma Course से संबंधित सभी बिंदुओं पर चर्चा की है। इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद में आपके दिमाग मे इस फील्ड से रीलेटेड कोई सवाल नही रह जायेगा। इतना ही नही यंहा पर आपको पूरा B Pharma Career का ओवरव्यू मिलेगा। जिससे आपको अपना कैरियर चुनने में मदद मिलेगी। चलिये सबसे पहले हम आपको बता दें कि B Pharma kya hai?

B Pharma kya hai

बी फार्मा एक बैचलर डिग्री कोर्स होता है। जोकीं फार्मेसी से संबंधित अंडरग्रेजुएट कोर्स है। इस कोर्स को करने के बाद विभिन्न हेल्थ केअर सेंटर में कैंडिडेट फार्मासिस्ट के तौर पर कार्य कर सकते हैं, या फिर लाइसेंस लेकर खुद की फार्मेसी खोल सकते हैं। इतना तो जरूर हैंकि B Pharma में Career की ग्रोथ काफी तेज है। जिस वजह से इस इंडस्ट्री के लोगों को बहुत ही आसानी से जॉब मिल जाती है।

Qualification for B Pharm Course in Hindi

बीफार्मा एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स होता है। इसके लिए आवश्यक योग्यता की बात करें तो जो उम्मीदवार 12वीं फिजिक्स, केमेस्ट्री, बायलॉजी/ मैथ से किये हैं। ऐसे कैंडिडेट इस कोर्स को कर सकते हैं। बहुत से स्टूडेंट्स भ्रमित हो जाते हैं कि अगर 12वीं पीसीएम ग्रुप से हैं तो B Pharma नही किया जा सकता है, लेकिन ऐसा नही है, लेकिन इस बात में बिल्कुल भी सच्चाई नही है। आप 12वीं मैथ से हैं तो भी B Pharma Course कर सकते हैं।

B Pharma Course Duration

ये बैचलर डिग्री होती है। इसकी ड्यूरेशन 4 साल होती है। कुछ यूनिवर्सिटीज में ये एअर बाई होता है और कुछ यूनिवर्सिटी में ये सेमेस्टर के हिसाब से होता है। चूंकि 4 साल का ये कोर्स है जिसमे 8 सेमेस्टर होंगे। प्रत्येक सेमेस्टर की ड्यूरेशन 6 माह निर्धारित होती है।

B Pharma Course fees in hindi

बहुत से स्टूडेंट्स बी फार्मा की फीस कितनी होती है? ये जानना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि इसकी फीस का कोई भी निश्चित क्राइटेरिया नही होता है। गवर्नमेंट कॉलेजों और यूनिवर्सिटीज में कम फीस होती है। प्राइवेट कॉलेज और यूनिवर्सिटीज में फीस काफी हाई होती है। जोकीं लाखो रुपये तक हो सकती है। फिलहाल B Pharma ki Fees ढाई लाख से लेकर 7 लाख रुपये के बीच मे होती है। अगर आपको कम फीस में कोर्स करना है तो गवर्नमेंट कॉलेज से करें।

How Can I Get Admission in B Pharma Course (बीफार्मा में कैसे मिलेगा प्रवेश)

इंटरमीडिएट कोर्स के बाद या कोर्स के दौरान आप बी फार्मा कोर्स के लिए आवेदन कर सकते हैं। लेकिन एडमिशन के समय आप इंटरमीडिएट पास कर चुके हों। इसमे एडमिशन दो तरह से मिल सकता है। पहला तो है प्रवेश परीक्षा के माध्यम से और दूसरा डायरेक्ट ही। बहुत से स्टूडेंट्स के दिमाग मे ये भ्रम रहता है कि उन्होंने डायरेक्ट ही एडमिशन लिया है तो डिग्री की वैल्यू नही।

अगर कॉलेज पीसीआई से एप्रूव्ड है तो चाहें आप एडमिशन आप डायरेक्ट लें या एंट्रेंस एग्जाम के जरिये। समान ही महत्व मिलेगा। अंतर फीस का हो जाता है और दूसरा अंतर ये हो जाता है कि जो संस्थान डायरेक्ट ही एडमिशन दे देते हैं, वो ज्यादा अच्छे नही होते है। वंहा से कोर्स करने के बाद में जॉब आपको खुद ही सर्च करनी होगी। कोई अच्छी कंपनी कैम्पस प्लेसमेंट के लिए आती ही नही है। जो अच्छे संस्थान होंगे या गवर्नमेंट उनमें प्रवेश परीक्षा क्वालीफाई करने पर ही दाखिला मिलता है। चलिये अब हम आपको B Pharma Entrance exam के बारे में बता देते हैं। जिनके माध्यम से आप अच्छे B Pharma College में प्रवेश ले सकते हैं।

Which is the entrance exam for B Pharm?

बी फार्मा में एडमिशन के लिए अनेकों एंट्रेंस एग्जाम आयोजित किये जाते हैं। कुछ स्टेट लेवल के एंट्रेंस एग्जाम होते हैं और कुछ यूनिवर्सिटी लेवल के। कुछ मोस्ट पॉपुलर B Pharma एंट्रेंस एग्जाम निम्न हैं। UPSEE, MET, MET, WBJEE, GPAT आदि।

Career Scope in B Pharma Course in Hindi

इस फील्ड में कैरियर के काफी रास्ते खुल जाते हैं। कोर्स करने के बाद में आप नृसिंग होम, हॉस्पिटल, क्लीनिक और फार्मेसी सेंटर में फार्मासिस्ट के तौर पर कार्य कर सकते हैं। इसके अलावा आप मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव और फार्मा मार्केटिंग के फील्ड में सेल्स मैनेजर, एरिया सेल्स मैनेजर के तौर पर कार्य कर सकते हैं।

इतना ही नही जितनी भी ड्रग मैन्युफैक्चरिंग कंपनी हैं, उन सभी मे आप प्रोडक्ट मैनेजर, केमिस्ट, क्वालिटी कंट्रोलर, रिसर्चर के तौर पर जॉब कर सकते हैं। इन दिनों में हेल्थ वेबसाइट की भरमार सी हो गई है, ऐसे में आप इन वेबसाइट के लिए मेडिकल कंटेंट राइटर, मेडिकल स्क्रिप्ट राइटर के तौर पर शानदार कैरियर बना सकते हैं। यह सेक्टर हैंकि कोर्स करने के बाद में आप बेरोजगार नही रहेंगे। अगर आप जॉब करने के इक्छुक नही है तो आप खुद की फार्मेसी और सर्जिकल इक्विपमेंट शॉप खोल सकते हैं। बी फार्मा करने के बाद में M Pharma करके आप टीचिंग और रिसर्च के फील्ड में जाने की तैयारी कर सकते हैं।

प्राइवेट सेक्टर में तो जॉब के भरपूर अवसर हैं ही, साथ ही आप गवर्नमेंट सेक्टरों में भी जॉब कर सकते हैं। गवर्नमेंट हॉस्पिटल, कम्युनिटी सेंटर, प्राथमिक हेल्थकेयर सेंटर, रेलवे, नेवी, आर्मी, इन सभी की जॉब के लिये वैकेंसी निकलने पर अप्लाई कर सकते हैं। ड्रग इंस्पेक्टर तो आप लोगों ने नाम सुना ही होगा तो आप B Pharma Course करने के बाद में ड्रग इंस्पेक्टर भी बन सकते हैं।

Pharmacist Salary

बी फार्मा के बाद में सैलरी की बात करें तो 12 से 20 हजार के बीच मे शुरुआती सैलरी मिल जाती है। जैसे- जैसे अनुभव बढेगा तो सैलरी भी बढ़ेगी।

Best B Pharma College in India

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मसऑटिकल्स रिसर्च एंड एजुकेशन मोहाली

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी

जामिया हमदर्द यूनिवर्सिटी

हैदराबाद यूनिवर्सिटी

बिरला इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी पिलानी

बिरला इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी रांची

आंध्र यूनिवर्सिटी

श्रीरामचंद्र यूनिवर्सिटी

लखनऊ यूनिवर्सिटी

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी

एमजेपी रुहेलखंड यूनिवर्सिटी

Important Question Related to B Pharma course

बी फार्मा और डी फार्मा में क्या अंतर होता है?

बी फार्मा एक बैचलर डिग्री कोर्स होता है। जोकीं एक डिग्री है। जबकि D Pharma एक डिप्लोमा कोर्स होता है।

Pharmacist Banne के लिए B Pharma व D Pharma दोनो में से कौन सा बेहतर होगा।

दोनो ही कोर्स अच्छे हैं, दोनो ही कोर्स के बाद आप फार्मासिस्ट बन सकते हैं। हाँ फार्मेसी में कुछ ऐसी जॉब होती हैं, जंहा पर सिर्फ B Pharma Qualification ही मांगी जाती है। अगर आपके पास पैसे और टाइम की प्रॉब्लम है तो आप D फार्मा कर सकते हैं, नही तो B फार्मा तो अच्छा कोर्स होता ही है, क्योंकि ये डिग्री कोर्स होता है।

Is Neet Require for B Pharma Course

अगर आपको B फार्मा करना है तो नीट एग्जाम की जरूरत नही होती है। ये सिर्फ डॉक्टर डॉक्टर बनने वाले कोर्स के लिए जरूरी होता है जैसेकि MBBS, BAMS, BDS, नाकि बी फार्मा के लिए। बी फार्मा के लिए मैंने जो ऊपर आर्टिक्ल में एंट्रेंस एग्जाम बताये हैं, उनको दे सकते हैं या अन्य एग्जाम भी दे सकते हैं।

बी फार्मा के बाद क्या कर सकते हैं?

बीफार्मा कोर्स के बाद में M फार्मा करने का भी आपको ऑप्शन मिल जाता है। जिससे आपकी क्वालिफिकेशन तो बढ़ेगी ही। इसके साथ ही इंडस्ट्री में ओहदा भी बढ़ जाएगा। M Pharma के बाद पीएचडी करके रिसर्च और टीचिंग के फील्ड में कैरियर बनाया जा सकता है।

बी फार्मा करने के लिए क्या करना पड़ता है?

बी फार्मा करने के लिए आपको 12वीं पीसीबी या पीसीएम ग्रुप से कम से कम 50 फीसदी अंकों से करना होगा। इसके बाद में आप सरकारी या प्राइवेट कॉलेज से B Pharma Course कर सकते हैं।

बी फार्मा के बाद सरकारी नौकरी कौन सी मिल सकती हैं।

बी फार्मा के बाद में सरकारी नौकरी आप सामुदायिक स्वास्थ्य केंद, प्राथमिक उपचार केंद, ड्रग इंस्पेक्टर, केन्द्र व राज्य सरकारों में फार्मासिस्ट की जॉब मिलती है।

बी फार्मा में कौन कौन से विषय होते हैं?

चूंकि B फार्मा फार्मेसी फील्ड का कोर्स होता है। इसलिए इसमे फार्मेसी से ही जुड़े शब्द पढ़ाये जाते हैं। जैसेकि फार्मास्यूटिकल केमिस्ट्री, बायोलॉजी, फार्ममाकलॉजी, फिजियोलॉजी, बायोकेमिस्ट्री आदि इसी से रीलेटेड सब्जेक्ट पढ़ाये जाते हैं।

B Pharma ke baad job kaise milegi

सबसे पहले तो आप अच्छे कॉलेज से बी फार्मा करें, इसके बाद अच्छे संस्थान में इंटर्नशिप करें। अगर आप इंटर्नशिप के दौरान सही कार्य करेंगे, सीखने पर ज्यादा फोकस करेंगे तो आपको वंहा से भी जॉब आफर हो सकती है। इसके अलावा आप हॉस्पिटल, नृसिंग होम, इमरजेंसी ट्रामा सेंटर इनमे जॉब के लिए अप्लाई करें।

इनके अलावा आप फार्मसऑटिकल्स कंपनी में भी जॉब के लिए अप्लाई करें। इतना ध्यान रखे कि अपना रिज्यूम सही से बनाएं। आपके रेज़्यूमे को देखकर ही आआपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है। ये भी ध्यान रखे कि रिज्यूम में कुछ भी झूंठ न लिखें। नही तो इंटरव्यू के दौरान आपका झूट पकड़ा जा सकता है। उसी फील्ड में जॉब आसानी से मिल सकती हैं, जिसमे आपने इंटर्नशिप की होती है।

बी फार्मा का फॉर्म कब निकलेगा

बहुत से स्टूडेंट्स ये पूंछते रहते हैं कि B फार्मा के लिए फॉर्म कब निकलते हैं तो हम आपको बता दें कि फॉर्म की शुरुआत हर बर्ष अप्रैल से हो जाती हैं। आप अखबार या इंटरनेट से जानकारी लेते रहें। समय आने पर तुरंत अप्लाई करें।

बी फार्मा करने से कौन सी नौकरी मिलती है?

तमाम स्टूडेंट्स का सवाल रहता है कि B Pharma Course करने से कौन सी नौकरी मिलती है तो हम आपको बता दें कि B Pharma course करने के बाद आप फार्मासिस्ट की जॉब पॉ सकते हैं। सरकारी क्षेत्र में भी फार्मासिस्ट बन सकते हैं। ड्रग इंस्पेक्टर भी बन सकते हैं। ड्रग मैन्युफैक्चरिंग कंपनी में प्रोडक्शन डिपार्टमेंट में जॉब पॉ सकते हैं।

बी फार्मा के बाद क्या करना चाहिए?

बी फार्मा के बाद आपको जॉब करना चाहिए। अगर पैसों की दिक्कत नही है तो इसके बाद M फार्मा भी कर सकते हैं। M Pharma के बाद भी पीएचडी का विकल्प होता है। आप ये भी कर सकते हैं।

बी फार्मा की 1 साल की फीस कितनी है?

बी फार्मा कोर्स की एक साल की फीस 50 हजार से लेकर 1.5 लाख तक हो सकती है।

बी फार्मा के लिए सरकारी कॉलेज कैसे मिलेगा?

अगर आप चाहते हैं कि आपको सरकारी बी फार्मा कॉलेज में एडमिशन मिल जाये तो इसके लिए आपको सरकारी बी फार्मा कॉलेज के एंट्रेंस एग्जाम देना पड़ेगा। इसके लिए आपको तैयारी भी अच्छे से करनी पड़ेगी। इसलिए 12वीं से ही B Pharma Entrance Exam की तैयारी में जुट जाएं। जब आप एंट्रेंस एग्जाम क्वालीफाई कर लेने तो सरकारी कॉलेज में एडमिशन मिल जाएगा।

इतना ध्यान रखें कि आप एक ही यूनिवर्सिटी या कॉलेज में एंट्रेंस एग्जाम के लिये अप्लाई न करें। कंही एक मे सफल न हुए तो इसलिए कम से कम 5 यूनिवर्सिटी के एंट्रेंस एग्जाम के लिए अप्लाई जरूर करें। ऐसा करने से कंही न कंही तो जरूर ही सेलेक्शन हो जायेगा, अगर सही से तैयारी करेंगे तो।

B Pharma ki Full Form kya hoti hai

बी फार्मा की फुल फॉर्म बैचलर ऑफ फार्मेसी होती है और डी फार्मा की फुल फॉर्म डिप्लोमा इन फार्मेसी होती है।

Kya B Pharma करने के बाद क्लिनिक स्टार्ट कर सकते हैं?

बी फार्मा हेल्थ सेक्टर का बहुत ही अहम कोर्स होता है। इसमे भी दवाओं के बारे में पढ़ाया जाता है। लेकिन बी फार्मा करने के बाद आप ड्रग एक्सपर्ट (Drx) तो बन जाते हैं, लेकिन डॉक्टर नही। इसलिए आप बी फार्मा के बाद में क्लिनिक भी नही स्टार्ट कर सकते हैं। हां कुछ राज्यों में बी फार्मा के स्टूडेंट्स के लिए फार्मेसी क्लिनिक का प्रावधान किया गया है। यानिकि ये लोग फार्मा क्लीनिक स्टार्ट करके डॉक्टर की तरह मरीजो का उपचार कर सकते हैं। हो सकता है कि भविष्य में भारत के अन्य राज्यों में भी यह सुविधा शुरू हो जाये।

B Pharma Benefits (बी करने का फायदा क्या होता है)

बी फार्मा करने का फायदा ये होता है कि इसके बाद में आपको जॉब आसानी से मिल जाती है अन्य सेक्टर की तुलना में। क्योंकि हर गली, मोहल्ले और गांव में क्लीनिक, हॉस्पिटल और मेडिकल स्टोर हो चुके हैं। जंहा पर जॉब के अच्छे अवसर रहते हैं।

इस कोर्स का फायदा ये भी है कि आज के समय मे ड्रग मैन्युफैक्चरिंग काफी ज्यादा बढ़ चुका है ऐसे में दवा बनाने वाली कंपनियों में अच्छी जॉब और अच्छी सैलरी मिल सकती है।

बी फार्मा कोर्स का सबसे बड़ा फायदा तो ये है कि अगर आपको जॉब नही मिल पाती है या आप जॉब नही करना चाहते हैं तो खुद की फार्मेसी या ड्रग मैन्युफैक्चरिंग कंपनी स्टार्ट कर सकते हैं।

फार्मा मार्केटिंग के फील्ड में अब तो फार्मेसी के स्टूडेंट्स को प्राथमिकता दी जाती है। इसलिए यंहा पर आपको मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव के तौर पर काफी आसानी से जॉब मिल सकती है।

उम्मीद करते हैं कि B Pharma kya hai और B Pharma Me Career kaise banaye ये पोस्ट आपको पसन्द आयी होगी। अगर आपके कोई सवाल हैं तो आप कमेंट के माध्यम से हमसे पूंछ सकते हैं।

Tags- B Pharma kya hai, What is B Pharma in hindi, B Pharma kaise kare, B Pharma me Career kaise banye, How make career in B pharma, B Pharma Course details in hindi, Pharmacist kaise bane, B Course fees in hindi, B pharma course duration, B Pharma course Qualification, Best B Pharma college in hindi.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *