Bollywood Film Editor kaise bane

Bollywood Film Editor kaise bane in hindi- आज की इस पोस्ट में हम बतायेंगे कि बॉलीवुड में फ़िल्म एडिटर कैसे बने (how Become Bollywood film editor). अगर आपका भी सपना बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री में वीडियो एडिटर बनने का है तो इस पोस्ट में आपको Film Editing Career और Film Editing Course से जुड़ी हर जानकारी मिलेगी।

अभी आपके दिमाग मे बहुत सारे क्वेश्चन उठ रहे होंगे, जैसे कि बॉलीवुड फिल्मों में Video Editor बनने के लिए कौन सा कोर्स करना चाहिए। इसके कोर्स की फीस क्या होगी। इस कोर्स के लिए इंडिया के बेस्ट कॉलेज कौन से हैं। अगर कोई गरीब कैंडिडेट है तो वो इतने महंगे कोर्स को बहुत ही कम फीस में कैसे कर सकता है इन सभी के बारे में हम आपको इस लेख में डिटेल में जानकारी देंगे।

इसके साथ ही हम आपको ये भी बतायेंगे कि कोर्स करने के बाद में Bollywood Film Industry में आपको जॉब कैसे मिलेगी। मैं आपको Bollywood Film Editor kaise bane इसके बारे में इसलिए बेहतरीन जानकारी दे सकता हूँ, क्योंकि मैं भी फ़िल्म इंडस्ट्री से ही जुड़ा है। तो मैं आपको यंहा पर जो भी जानकारी दूंगा। शायद वो आपको अन्य आर्टिकल और वीडियो में जानकारी न मिले।

बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री आज के समय मे बहुत ही ग्रोइंग इंडस्ट्री बन चुकी है। इसलिए इस फील्ड में Career के ऑप्शन भी बढ़ रहे हैं। Video Editor भी जिनमे से एक है। इस फील्ड में कैरियर की ऑपर्चुनिटी काफी अच्छी हैं, लेकिन उन्ही लोगों के लिए जिनको Video Editing अच्छी तरह से आती है। इसलिए कोर्स के दौरान अच्छे से सीखें। जिससे कि आपको आसानी से इस इंडस्ट्री में जॉब मिल सके।

Bollywood Film Editor Kaise bane

जिन लोगों को नही पता है कि कैसे वे फ़िल्म इंडस्ट्री में वीडियो एडिटर बन सकते हैं, तो उनको Film Video Editor बनना बहुत ही कठिन काम लग रहा होगा। लेकिन जितना कठिन आपको लग रहा है, उतना कठिन नही है। जब आपको इस कैरियर ऑप्शन के बारे में पूरी जानकारी मिल जाएगी तो आप कहेंगे कि वीडियो एडिटर बनना तो काफी आसान है।

बॉलीवुड फिल्मों में वीडियो एडिटर बनने के लिए उम्मीदवार को कम से कम किसी भी संकाय से 12वीं पास होना चाहिए। इसके बाद में Video Editing से रीलेटेड Course कर इस फील्ड में एंट्री की जा सकती है। इन कोर्स की फीस 50 हजार से लेकर 1 लाख प्रतिबर्ष के बीच मे होती है।

कोर्स की अवधि 3 महीने से लेकर 3 साल तक होती है। सर्टिफिकेट कोर्स 3 से 6 महीने के होते हैं और डिप्लोमा कोर्स 1 से 2 साल, पीजी डिप्लोमा कोर्स 1 साल का होता है। इसके अलावा बैचलर डिग्री कोर्स 3 साल और मास्टर डिग्री कोर्स 2 साल की होती है। चलिये अब जान लेते हैं कि फ़िल्म में वीडियो एडिटर बनने के आप कौन- कौन से कोर्स कर सकते हैं।

Course for Film Editing Career

  • सर्टिफिकेट कोर्स इन वीडियो एडिटिंग
  • पीजी सर्टिफिकेट कोर्स इन वीडियो एडिटिंग
  • डिप्लोमा इन वीडियो एडिटिंग
  • पीजी डिप्लोमा इन वीडियो एडिटिंग
  • बीए इन मास कॉम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म
  • एमए इन मास कॉम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म
  • बीएससी इन मास कॉम्युनिकेशन
  • एमएससी इन मास कॉम्युनिकेशन
  • बीएससी इन फ़िल्म मेकिंग
  • एमएससी इन फ़िल्म मेकिंग
  • बीएससी फ़िल्म प्रोडक्शन
  • एमएससी फ़िल्म प्रोडक्शन

आप ऊपर बताये गए कोर्स में से कोई सा भी कोर्स वीडियो एडिटर बनने के लिए कर सकते हैं। अगर आप मास कम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म कोर्स करते हैं तो इस कोर्स में आपको पत्रकारिता, पब्लिक रिलेशन, एडवरटाइजिंग, इवेंट मैनेजमेंट, फ़िल्म मेकिंग और वीडियो एडिटिंग, साउंड इंजीनियरिंग, कैमरा एंड लाइटिंग, रेडियो जॉकी इन सभी के बारे में पढ़ाया जाता है। इस कोर्स को करने के बाद आप इनमे से किसी भी क्षेत्र में जा सकते हैं।

वंही अगर आप Bsc Film Making Course करते हैं तो इसमे आपको वीडियो एडिटिंग के साथ ही फ़िल्म की सारी जानकारी दी जाती हैं। इस कोर्स के बाद में आप फ़िल्म वीडियो एडिटर, फ़िल्म डायरेक्टर, आर्ट डायरेक्टर, कास्टिंग डायरेक्टर, सिनेमेटोग्राफर, प्रोडक्शन मैनेजर, साउंड इंजीनियर बन सकते हैं।

बीएससी फ़िल्म मेकिंग और मास कम्युनिकेशन इन दोनों कोर्स में कैरियर के काफी ज्यादा विकल्प होते हैं। वंही अगर आप वीडियो एडिटिंग के क्षेत्र में आने के लिए सर्टिफिकेट इन वीडियो एडिटिंग और डिप्लोमा या पीजी डिप्लोमा इन वीडियो एडिटिंग जैसे कोर्स करते हैं तो इन कोर्स में आप सिर्फ वीडियो एडिटिंग के बारे में ही सीखेंगे।

ये भी पढ़ें, बेस्ट फिल्म मेकिंग कोर्स

इसलिए अगर आप सिर्फ वीडियो एडिटिंग के क्षेत्र में आना चाहते हैं तो मैं तो आपको यही सलाह दूंगा कि आप वीडियो एडिटिंग में डिप्लोमा या पीजी डिप्लोमा कोर्स करें। क्योंकि इन कोर्स में आपको सिर्फ वीडियो एडिटिंग के बारे में ही डिटेल में पढ़ाया जाता है। जिससे कि आप वीडियो एडिटिंग के बारे में ज्यादा से ज्यादा सीख पाएंगे।

वंही मास कॉम्युनिकेशन, बीएससी फ़िल्म मेकिंग, फ़िल्म प्रोडक्शन जैसे कोर्स में सिर्फ एक सब्जेक्ट के तौर पर आपको वीडियो एडिटिंग सिखाई जाती है। इनमे आपको इतनी ज्यादा गहराई से वीडियो एडिटिंग सीखने को नही मिलती है, जितना कि डिप्लोमा और पीजी डिप्लोमा इन वीडियो एडिटिंग में सीखने को मिलता है। डिप्लोमा और पीजी डिप्लोमा कोर्स एक तरह से वीडियो एडिटिंग में स्पेसलाइजेशन कोर्स होता है। जिसमे सिर्फ वीडियो एडिटिंग ही आपको सिखाई जाती है। इसलिए वीडियो एडिटिंग में डिप्लोमा और पीजी डिप्लोमा कोर्स ज्यादा बेहतर होगा।

Career Scope in Bollywood Film editing

बॉलीवुड फिल्म वीडियो एडिटिंग एक ऐसा क्षेत्र हैं, जिसमे एक्सपर्ट वीडियो एडिटर की काफी ज्यादा डिमांड रहती हैं। इसमे टैलेंटेड लोगों के लिए इज्जत, जॉब और पैसा है। जिनको अच्छी वीडियो एडिटिंग नही आती हैं, उनको इस इंडस्ट्री में जॉब मिलना भी मुश्किल होता है।

इसी वजह से बहुत से लोग वीडियो एडिटिंग कोर्स करके भी बेरोजगार पड़े हैं। इस फील्ड में बेरोजगारी का तो कोई सवाल ही नही है। अगर आपको बेसिक एडिटिंग भी आती है तो आपको फ़िल्म सेक्टर के अलावा अन्य सेक्टर में भी अच्छी जॉब मिल जाएगी। फ़िल्म की वीडियो एडिटिंग के लिए ज्यादा ही एक्सपर्ट वीडियो एडिटर की जरूरत होती है।

आज का युग सूचना और मनोरंजन का युग है। इसलिए फ़िल्म मेकिंग का दायरा काफी विस्तृत होता जा रहा है। इसलिए इसमे कैरियर की संभावनाएं भी ज्यादा है। फिल्मों में तो आप काम कर ही सकते है। इसके अलावा जब से इंटरनेट का चलन बढ़ा है तब से वेब सीरिज का निर्माण भी काफी ज्यादा होने लगा है तो आप इनमे भी वीडियो एडिटर के तौर पर कार्य कर सकते हैं। इनके अतिरिक्त वर्तमान समय मे बहुत से टीवी सीरियल बन रहे हैं, जंहा पर आप अपने लिए जॉब की तलाश कर सकते हैं। ये तो रही फिल्म इंडस्ट्री में वीडियो एडिटर बनने की बात। फ़िल्म इंडस्ट्री के अलावा भी आप कई अनेक सेक्टर में वीडियो एडिटर के तौर पर जॉब कर सकते हैं।

Career Option in Video Editing

दोस्तों आज के समय मे यूट्यूब पर सबसे ज्यादा ऑडिएंस हैं। सभी तरह की सूचनाप्रद और मनोरंजक वीडियो यंहा पर उपलब्ध हैं। जो बड़े- बड़े youtuber है ये लोग भी अपनी वीडियो की एडिटिंग के लिए Video Editor हायर करते हैं। यंहा पर तो जॉब की कमी ही नही है। इसके अलावा आज के समय मे टीवी न्यूज चैनल्स की बाढ़ सी आ गई गई। यंहा पर भी आप जॉब कर सकते हैं।

इसके अलावा बहुत से कोचिंग संस्थान, वीडियो मार्केटिंग एजेंसी, डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी, वेब डिजाइनिंग एजेंसी, एडवरटाइजिंग एजेंसी में भी वीडियो एडिटर की डिमांड रहती है तो आप इनमे भी जॉब कर सकते हैं।

फ्रेंड्स इन सभी के अलावा आप फ्रीलांसर वीडियो एडिटर के तौर पर भी काम कर सकते हैं। यंहा पर आपको प्रोजेक्ट के हिसाब से रुपए मिलते हैं। फ्रीलांसर के तौर पर वीडियो एडिटिंग का काम पाने के लिए आप फाइवर डाट काम या फ्रीलांसर डाट काम साइट पर जाएं। यंहा पर आपको बहुत सारा वीडियो एडिटिंग का काम मिल जाता है और पैसा भी काफी अच्छा मिलता है।

ये भी पढ़ें –

Video Editor Work (वीडियो एडिटर का काम क्या होता है)

वीडियो एडिटर का काम ये होता है कि जो फ़िल्म शूट होकर आयी है। इसके बाद अब इसकी एडिटिंग और मिक्सिंग होना है। जो भी फ़िल्म के फुटेज हैं उनमें से खराब फुटेज को निकलना होता है और जो भी जरुरत के मुताबिक, म्यूजिक, साउंड इफ़ेक्ट, विजुअल इफ़ेक्ट की जरूरत होती है उनको लगता है। इस तरह से हम कह सकते हैं कि फ़िल्म की काट- छाट करके खराब चीजो को हटाना और जरूरी की चीजें उसमे जोड़ना होता है।

Skills For Video Editor (वीडियो एडिटर बनने के लिए जरूरी स्किल)

अगर आपको सफल वीडियो एडिटर बनना है तो आपकी क्रिएटिव थिंकिंग होना चाहिए। इसके साथ ही फ़िल्म डायरेक्शन की समझ आपको जरूर ही होनी चाहिए। एक अच्छा एडिटर अपने स्किल्स के द्वारा बेजान सीन में भी अपनी स्किल्स का प्रयोग करके उसमें जान डाल देता है। एडिटर को डायरेक्टर के दिमाग से सोचना होता है। कि डायरेक्टर को एडिटिंग के बाद कैसा सीन या फुटेज चाहिए। वह एडिटिंग के माध्यम से कहानी को एक सेकुएन्स मे जोड़ सके।

वीडियो एडिटिंग तो बहुत से लोगों को आती है, लेकिन एक वीडियो एडिटर और अच्छे वीडियो एडिटर में यही फर्क होता है। एक अच्छा एडिटर एक फ़िल्म को अपने कौशल के द्वारा एडिट करता है कि वह फ़िल्म हिट हो जाती है। इसलिए कहा भी जाता है कि एक अच्छा एडिटर खराब से खराब फ़िल्म को बेहतरीन बना देता है और वंही एक अनाड़ी वीडियो एडिटर अच्छी से अच्छी फिल्म को खराब कर सकता है।

फ़िल्म जब शूट होकर पोस्ट प्रोडक्शन हाउस में आती है तो उसमें एक-एक सीन कई वीडियो क्लिप होती है। इसलिए एक डायरेक्टर को इतना जानकारी अच्छे से होना चाहिए कि उन वीडियो क्लिप्स में से किन वीडियो क्लिप्स को फ़िल्म में यूज करने है और उसमें कैसे इमोशन, विजुअल इफेक्ट, साउंड इफेक्ट, म्यूजिक, ट्रांजिक्शन का यूज करने है। इन सभी के बारे में अच्छे से पता हो। रोमांटिक फिल्म के लिए रोमांटिक इफेक्ट, हॉरर फिल्म के लिए डरावने इफेक्ट और इमोशनल फील्म के लिए इमोशनल इफेक्ट की जरूरत होती है और इनकी आपको अच्छे से समझ होनी चाहिए। कि किस तरह का इफेक्ट किस तरह के सीन में यूज होना है।

Film editor salary in Bollywood

इस फील्ड में जब आप इंटर्न के तौर पर या एंटी लेवल पर जॉब करते हैं तो 10 से 15 हजार के बीच सैलरी मिलती है। लेकिन अच्छा अनुभव होने के बाद आप लाखों रुपए महीने में सैलरी पॉ सकते हैं। फ़िल्म इंडस्ट्री में सैलरी तो काफी अच्छी होती है। लेकिन आपको काम भी अच्छा ही आना चाहिए।

Video Editing Job (कोर्स के बाद जॉब कैसे मिलेगी)

हमेशा ध्यान रखें कि वीडियो एडिटिंग कोर्स किसी अच्छे संस्थान स्व ही करें। वरना वीडियो एडिटिंग के बहुत से इंस्टीट्यूट और कॉलेज हैं। लेकिन बहुत से ऐसे संस्थान हैं, वंहा पर अच्छे वीडियो एडिटिंग के टीचर और लैब नही हैं। जिसका कोर्स करने के बाद में नतीजा ये होता है कि उनको जॉब ही नही मिल पाती है। लगभग 50% से भी ज्यादा लोग इसी वजह से बेरोजगार रह जाते हैं। उनके अंदर वो स्किल होती ही नही है जोकीं इस प्रोफेशन के लिए जरूरी होती है। इसलिए कॉलेज का चुनाव बहुत ही सावधानी से करें।

इस सेक्टर में जॉब मिलने का प्रोसेस ये है कि अगर आप अच्छे संस्थान से कोर्स करते हैं तो आपका कैम्पस प्लेसमेंट भी हो जाता है। इसके अलावा आप ये भी कर सकते हैं कि कोर्स करने के बाद आपको वीडियो एडिटर जिस भी सेक्टर में बनना है उसमें ही इंटर्नशिप जॉइन कर लें। अगर आपको फ़िल्म में वीडियो एडिटर बनना है तो आप किसी भी फ़िल्म प्रोडक्शन हाउस में वीडियो एडिटिंग के क्षेत्र में इंटर्नशिप करें।

इंटर्नशिप के दौरान आपको कुछ रुपये मिल भी सकते हैं और नही भी। पैसों की तरफ मत जाइए। सिर्फ सीखने पर ध्यान दें। इंटर्नशिप कोर्स से बिल्कुल अलग होती है। इंटर्नशिप के दौरान आप वास्तव में एक्सपर्ट फ़िल्म वीडियो एडिटर के साथ मे वीडियो एडिटिंग करते हैं। जिससे आपको बहुत कुछ सीखने को मिलता हैं, जो इंस्टीट्यूट में संभव ही नही। जब आप अच्छे तरह से वीडियो एडिटिंग सीख जाते हैं तो आपको उसी प्रोडक्शन हाउस में भी जॉब मिल सकती है।

अगर वंहा पर आपको जॉब नही भी मिली है, लेकिन जो नॉलेज वीडियो एडिटर बनने के लिए जरूरी होता है, वो तो आपने हासिल कर लिया। अब तो आपको कंही भी जॉब मिल सकती है। इंटर्नशिप करने के बाद आप अब फ़िल्म या टीवी सीरियल के प्रोडक्शन हाउस में जॉब के लिए अप्लाई करें और उसमें इंटर्नशिप भी मेंशेन करें। इससे आपको जॉब आसानी से मिलेगी। इसके अलावा जो भी फ़िल्म वीडियो एडिटर हैं उनसे जान- पहचान बढ़ाये। इस तरह से आप Film Video Editor बन सकते हैं।

गरीब स्टूडेंट्स वीडियो एडिटर कैसे बनें

अगर आप किसी भी गरीब फैमिली से हैं जोकीं किसी भी प्राइवेट कॉलेज की लाखों रुपये फीस नही दे सकते हैं तो आप गवर्नमेंट कॉलेज से कोर्स करें। यंहा पर आप 10 से 20 हजार में ही वीडियो एडिटिंग कोर्स या मास कॉम्युनिकेशन कोर्स, या फ़िल्म प्रोडक्शन कोर्स कर सकते हैं। लेकिन इनमे एडमिशन प्रवेश परीक्षा पास करने पर ही मिलेगा।

Best College for Video Editing course

  • सत्यजीत रे फ़िल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट कलकत्ता
  • फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया, पुणे
  • माखनलाल चतुर्वेदी यूनिवर्सिटी, भोपाल
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कॉम्युनिकेशन, दिल्ली
  • जामिया मिलिया इस्लामिया, दिल्ली, आदि

उम्मीद करते हैं कि Bollywood Film Editor kaise bane ये पोस्ट आपको पसन्द आयी होगी। क्योंकि यंहा पर मैंने Film Editing Career और Video Editing Course के बारे में डिटेल में बताया है। फिर भी अगर आपके कोई सवाल हैं तो आप कमेंट के माध्यम से पूंछ सकते हैं।

ये भी हैं बेस्ट करियर के लिए बेस्ट कोर्स

2 thoughts on “Bollywood Film Editor kaise bane”

    1. वीडियो एडिटर ही फ़िल्म की एडिटिंग करते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *