Cartographer kaise bane- हाई डिमांडिंग करियर

Career in Cartography in hindi- क्या आप कार्टोग्राफी में कैरियर बनाना चाहते हैं? Cartographer kaise bane क्या आप इसके बारे में जानकारी चाहते हैं। अगर आपको भी Cartography के सेक्टर में कैरियर बनाना है तो इस पोस्ट में हम आपको Cartography Course के बारे में डिटेल में बताएंगे। जिससे आपको इस फील्ड की सही जानकारी मिल जाएगी और आप अपने कैरियर का सही निर्णय ले सकेंगे।

इस आर्टिकल में हम आपको ये भी बताएंगे कि Cartography me Career Scope क्या है? इस कोर्स को करने के बाद जॉब कंहा मिलेगी। इस फील्ड में Career बनाने के लिए आपको कौन सा कोर्स करना चाहिए और कोर्स की फीस कितनी होती है।Cartography course के लिए बेस्ट कॉलेज कौन से हैं। इन सभी के बारे में इस आर्टिकल में आपको डिटेल में इन्फॉर्मेशन मिलेगी।

Cartographer kaise bane

कार्टोग्राफी, जियोग्राफी का काफी अहम फील्ड है। इस सेक्टर में कैरियर बनाने के लिए कैंडिडेट को किसी भी स्ट्रीम से 12वी पास होना चाहिए, लेकिन अगर आप इस क्षेत्र के इंजीनियरिंग फील्ड में Career बनाना चाहते हैं तो आपको पीसीएम सब्जेक्ट से 12वीं पास होना चाहिए।

इस फील्ड में कैरियर बनाने के लिए आप Crtography में डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं। इसके अलावा आप रिमोट सेंसिंग, जियोग्राफी में बीटेक तथा बीएससी जैसे कोर्सव कर भी इस सेक्टर में एंट्री कर सकते हैं। आप सर्वेइंग, ज्‍योग्राफी, जियोलॉजी, इंजीनियरिंग, कंप्यूटर साइंस, अर्थसाइंस या फिजिकल साइंस में डिग्री/डिप्लोमा लेकर भी इस फील्ड में जा सकते हैं।

Career Scope in Cartography

जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी डेवलप हो रही है, उसी तरह इस फील्ड में Cartographer की डिमांड भी बढ़ रही है। जंहा कंही भी मैप (नक्शा) बनाने का काम होता है उन सभी जगहों पर कार्टोग्राफर की मांग रहती है। इस सेक्ट में सरकारी के अलावा प्राइवेट सेक्टर में भी जॉब के अवसर रहते हैं। Cartographer प्रोफेशनल की आर्किटेक्चर और इंजीनियरिंग के क्षेत्र में भी डिमांड रहती है, तो आप इन जगहों पर भी जॉब कर सकते हैं। इस फील्ड में आप खुद का भी बिजनेस स्टार्ट कर सकते हैं।

कार्टोग्राफी एक तरह से मैप मेकिंग की आर्ट है. पहले कार्टोग्राफर्स को लंबे समय तक फील्ड में रहना पड़ता था और हाथ से मैप बनाना होता था, लेकिन आज डाटाबेस और कंप्यूटर की हेल्प से डिजिटली मैप्स तैयार किए जाते हैं। इसके अलावा जीआईएस और फोटोग्रामेट्रिक इक्विपमेंट्स की हेल्प से मैप्स की एक्युरेसी निर्धारित की जाती है। यह काफी मुश्किल काम है क्योंकि आपको अलग-अलग जगहों और हालातों में लगातार काम करना पड़ता है

तकनीक का विस्तार हो रहा है, वैसे ही इस क्षेत्र में कार्टोग्राफर की मांग भी बढ़ रही है। अब तो स्थानीय स्तर के सरकारी विभागों में भी मानचित्र बनना शुरू हो गया है। सरकारी क्षेत्र के अलावा विभिन्न संगठन हैं, जो मैप्स आदि बनाने का काम करती हैं। आर्किटेक्चर और इंजीनियरिंग संगठनों में भी कार्टोग्राफर की मांग रहती है। आप खुद का भी व्यवसाय शुरू कर सकते हैं।

इस क्षेत्र में आप कार्टोग्राफर के अलावा मैपिंग असिस्टेंट या फिर जीआईएस/कार्टोग्राफी असिस्टेंट, जीआईएस एनालिस्ट/कोऑर्डिनेटर, मैपिंग साइंटिस्ट, प्रोफेसर, टेक्निकल सपोर्ट एनालिस्ट के अलावा जीआईएस सेल्स मैनेजर, इंटरनेट प्रोडक्ट सॉफ्टवेयर इंजीनियर और एप्लीकेशन प्रोग्रामर के तौर पर भी जॉब कर सकते हैं।

सरकारी क्षेत्र के साथ-साथ NGO और नासा, जियोलॉजिकल सर्वे, यूनाइटेड नेशन्स जैसे अंतर्राष्ट्रीय ऑर्गनाइजेशन्स में काम कर सकते हैं। इसके अलावा आप चाहें तो आईटी इंडस्ट्री, हजार्ड मैपिंग व डिजास्टर मैनेजमेंट, क्राइम मैपिंग, ट्रांसपोर्टेशन एंड इंफ्रास्ट्रक्चर, इलेक्‍शन कमीशन और ट्रैफिक मैनेजमेंट में भी Career की शुरुआत कर सकते हैं।

Cartography क्या है?

कार्टोग्राफी के अंतर्गत मैप (नक्शा), मानचित्र, ग्लोब को बनाने की पढ़ाई होती है। इसमें कला के साथ ही वैज्ञानिक एलिमेंट्स भी शामिल होते हैं। किसी भी मानचित्र को बनाने में इमेज प्रोसेसिंग, डाटा कैप्चर, डाटा मैनिपुलेशन, विजुअल डिस्प्ले आदि समिल्लित होते हैं। एक कार्टोग्राफर मैप बनाने के लिए साइंटिफिक, टेक्नोलॉजिकल और आर्टिस्टिक तरीके अपनाता है। अगर आपको भी मैप मेंकिंग में इंटरेस्ट है, तो कार्टोग्राफी आपके लिए बेहतरीन career ऑप्शन हो सकता है।

Salary in Cartography

इस फील्ड में शुरुआत में आपको 15 से 20 हजार रुपये आसानी से मिल जाते हैं। अगर आपने किसी अच्छे संस्थान से Cartography Course किया है तो आप काफी आकर्षक सैलरी ऑफर हो सकती है। जैसे- जैसे आपका एक्सपीरियंस बढ़ता जाता है, आपकी सैलरी भी बढ़ती जाती है।

Best College for Cartography Course in India

आईआईटी मुंबई

अन्ना यूनिवर्सिटी

जामिया मिलिया इस्लामिया, दिल्ली

एमिटी यूनिवर्सिटी

अन्नामलाई यूनिवर्सिटी, चेन्नई

बर्दवान यूनिवर्सिटी

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ सर्वेयिंग एंड मैपिंग, हैदराबाद

ओसमानिया यूनिवर्सिटी

एमएस यूनिवर्सिटी, बड़ोदरा

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *