Cinematography kya hai

Cinematography kya hai- अगर आप सिनेमेटोग्राफी क्या है और इसमे कैरियर कैसे बनायें। इसके बारे में जानकारी चाहते हैं तो इस पोस्ट में हम आपको डिटेल में बतायेंगे कि Cinematography kya hai और कैसे आप इस फील्ड में कैरियर बना सकते हैं। क्या इस फील्ड में कैरियर बनाने के लिए कोई कोर्स करना जरूरी होता है? कोर्स कंहा से करना चाहिए और इस फील्ड में आपको जॉब कैसे मिलेगी। चलिये सबसे पहले इसके बारे में जान लेते हैं।

Cinematography kya hai

फिल्म इंडस्ट्री में सिनेमेटोग्राफर का बहुत ही अहम रोल होता है। जो व्यक्ति सिनेमेटोग्राफी का काम करता है उसको सिनेमेटोग्राफर कहा जाता है। इसको (DOP) डायरेक्टर ऑफ फोटोग्राफी भी कहा जाता है। सिनेमेटोग्राफर का काम फिल्म या टीवी सीरियल की शूटिंग के लिए कैमरा आपरेट करना होता है। इसके लिए उसको कैमरा लाइटिंग की टेक्निक्स का बहुत बारीकी से ध्यान रखना होता है।

सिनेमेटोग्राफर का काम डायरेक्टर की जरूरत के मुताबिक सीन को शूट करना। जैसा कि फिल्म डायरेक्टर चाहता है। इस तरह फ़िल्म डायरेक्ट की मांग के मुताबिक सीन में कैमरा एंगल, लाइटिंग जैसी चीजों को मेंटेन करता हैं। तब कंही जाकर उस सीन को शूट किया जाता है। इस तरह सिनेमेटोग्राफर जो काम करता है, उसको सिनेमेटोग्राफी कहा जाता है। एक तरह से कैमरामैन द्वारा फिल्म को शूट करने की कला सिनेमेटोग्राफी कहलाती है। चलिये अब जान लेते हैं कि इस फील्ड में कैरियर कैसे बनायें।

How Make Career in Cinematography

अगर आप फ़िल्म या टीवी इंडस्ट्री में सिनेमेटोग्राफर के तौर पर कैरियर बनाना चाहते हैं, तो आप 12वीं के बाद सिनेमेटोग्राफी से रीलेटेड कोर्स करके इस फील्ड में कैरियर बना सकते हैं। इन कोर्स की ड्यूरेशन 3 महीने से लेकर 3 साल तक हो सकती है।

Course for Career in Cinematography

सर्टिफिकेट कोर्स इन सिनेमेटोग्राफी

सर्टिफिकेट कोर्स इन कैमरा एंड लाइटिंग

डिप्लोमा इन कैमरा एंड लाइटिंग

डिप्लोमा इन सिनेमेटोग्राफी

डिप्लोमा इन वीडियो प्रोडक्शन

पीजी डिप्लोमा इन वीडियो प्रोडक्शन

पीजी डिप्लोमा इन फ़िल्म मेकिंग

पीजी डिप्लोमा इन सिनेमेटोग्राफी

पीजी डिप्लोमा इन कैमरा एंड लाइटिंग टेक्निक्स

बीएससी इन फ़िल्म मेकिंग

बीएससी फ़िल्म प्रोडक्शन

एमएससी इन फ़िल्म मेकिंग

एमएससी इन फिल्म प्रोडक्शन

Cinematography Course Fees

सिनेमेटोग्राफी के अंतर्गत कई तरह के कोर्स होते हैं। जिनके अनुसार उनकी फीस निर्धारित होती है। सर्टिफिकेट कोर्स 3 से 6 माह के होते हैं और इनकी फीस 40 से 80 हजार के बीच होती है। डिप्लोमा और पीजी डिप्लोमा कोर्स 1 से 2 साल के होते हैं। इसकी फीस प्रतिबर्ष 50 हजार से 1 लाख प्रतिबर्ष के बीच होती है। इसके अलावा बीएससी और एमएससी कोर्स की फीस 80 हजार से एक लाख प्रतिबर्ष या इससे भी ज्यादा हो सकती है। अगर आप गवर्नमेंट कॉलेज से इन कोर्स को करते हैं, तो आप बहुत ही कम फीस में इन कोर्स को कर सकते हैं।

How Get Admission in cinemetography course

हर संस्थान में एडमिशन का प्रोसेस अलग- अलग होता है। अगर आप फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया या सत्यजीत रे फ़िल्म एंड फ़िल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट जैसे गवर्नमेंट संस्थान से कोर्स करना चाहते हैं, तो इनमे एडमिशन प्रवेश परीक्षा के माध्यम से मिलता है। इसके अलावा ज्यादातर प्राइवेट कॉलेजों में तो आपको डायरेक्ट ही एडमिशन मिल जाता है।

Career Scope in Cinemetography

इस फील्ड में कैरियर को लेकर कोई भी डाउट नही होना चाहिए। निश्चित ही इसमे कैरियर के अच्छे अवसर हैं। बशर्ते आपके अंदर टैलेंट तो होना चाहिए। सिर्फ किताबी ज्ञान से यंहा पर कुछ भी नही होने वाला। इसलिए आप ऐसे कॉलेज से इस कोर्स को करें। जंहा पर प्रैक्टिकल और लैब की अच्छी सुविधा उपलब्ध हो। इसके साथ ही उस संस्थान से निकले हुए स्टूडेंट्स अच्छे प्रोडक्शन हाउस में जॉब करते हों।

आज के समय मे इतने ज्यादा फ़िल्म और टीवी सीरियल बनते हैं, जंहा पर आपके लिए अच्छा मौका हो सकता है। इसके अलावा अब तो जमाना वेब सीरीज का हो गया है। काफी बड़े-बड़े बजट की वेब सीरीज बन रही हैं। आप यंहा पर Cinematographer के तौर पर जॉब कर सकते हैं।

बहुत से लोग फ़िल्म इंडस्ट्री की चकाचौंध को देखकर इस इंडस्ट्री में कदम रखा देते हैं। ऐसे लोगों से मैं बताना चाहूंगा कि फ़िल्म इंडस्ट्री में काम मिलना इतना आसान नही है। अगर आपने अपने अंदर वो सारी स्किल्स डेवेलोप कर ली हैं, जोकि जरूरी होती हैं। तब तो आपको यंहा पर काम मिलेगा। वरना बेरोजगार ही घूमते रह जाओगे।

अगर आपके अंदर सिनेमेटोग्राफी को लेकर पैशन है। आपको सिर्फ सिनेमेटोग्राफर ही बनना है। अगर आपकी ऐसी सोच हैं, तो आइए। इस इंडस्ट्री में आपका स्वागत है। लेकिन यंहा पर काम आपके नाम पर मिलता है। जान-पहचान से मिलता है। इसलिए कोर्स करने के बाद आप तुरंत ही मुम्बई का रुख करें। किसी भी सिनेमेटोग्राफर के असिस्टेंट के तौर पर काम करना शुर करें।

अगर काम नही मिल रहा है, तो इंडस्ट्री में अपनी जान- पहचान बनाये। इसके लिए आप प्रोडक्शन हाउस जाएं। वंहा पर बात करें। इसके अलावा फिल्म और टीवी सीरियल के सेट पर जाएं। जब मौका मिले तो सिनेमेटोग्राफर से बात करें। इस तरह आप ज्यादा से ज्यादा इंडस्ट्री के लोगों के टच में रहें। इस तरह एक दिन आपको काम जरूर मिल जाएगा। बस मेरी इस बात का ध्यान रखना कि यंहा पर जान-पहचान से काम मिलता है। इसल अच्छे लिंक बनाएं।

Best College for Cinematography Course

फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया, पुणे

सत्यजीत रे फ़िल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट, कलकत्ता

माखनलाल चतुर्वेदी यूनिवर्सिटी, भोपाल

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी

व्हसलिंग वुड्स इंटरनेशनल, मुम्बई

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी

एशियन एकेडमी ऑफ फ़िल्म एंड टेलीविजन, नोयडा

एलवी प्रसाद फ़िल्म एंड टेलीविजन एकेडमी

उम्मीद है कि Cinematography kya hai ये पोस्ट आपको पसन्द आयी होगी। क्योंकि इस पोस्ट में मैंने cinematography course और इसमे कैरियर के बारे में डिटेल में बताया है। फिर भी अगर आपके कोई सवाल या सुझाव हैं तो आप हमें कॉमेंट के माध्यम से बता सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *