Film Choreographer kaise bane

Career in Choreography in hindi- क्या आप फिल्म और इंडस्ट्री में कोरियोग्राफर के तौर पर कैरियर बनाना चाहते हैं, तो आज की इस पोस्ट में हम Film Choreographer kaise bane इसके बारे में आपको पूरी जानकारी देंगे। जिससे कि आपका कोरियोग्राफर बनने का सपना आसानी से पूरा हो सकेगा। यंहा पर हम आपको ये भी बतायेंगे कि अगर आप इस फील्ड के बारे में कुछ भी नही जानते हैं तो आपको इस फील्ड में एंट्री कैसे मिलेगी।

Film Choreographer Kaise bane

आज के समय मे अनेक लोगों का सपना डांस डायरेक्टर यानी कि Choreographer बनने का होता है, लेकिन इसके लिए काफी लगन और मेहनत की जरूरत होती है। पिछले 2 दशक से तो इस सेक्टर में काफी बूम देखने को मिला है और आकर्षक रोजगार के अवसर भी।

कोरियोग्राफर के तौर पर फिल्म या टीवी इंडस्ट्री में कैरियर बनाने के लिए किसी खास एजकेशनल क्वालिफिकेशन की जरूरत नही होती है। आप 10 वीं अगर पास हैं तो भी कोरियोग्राफर बन सकते हैं। बस आपको डांस आता हो और डांस की बेहतरीन समझ हो।

डांस की बारीकियों को सीखने के लिए आप किसी भी Dance Institute से डांस की ट्रेनिंग ले सकते हैं। आप इस कोर्स सरकारी व प्राइवेट कॉलेजो से कर सकते हैं। 3 महीने से लेकर 3 साल तक के कोर्स Dance उपलब्ध हैं। वैसे तो आजकल तो लगभग हर शहर में Dance Training Institute हैं। जंहा से आप इसकी ट्रेनिंग ले सकते हैं।

अगर आप इस फील्ड में बिल्कुल नए हैं, आपको डांस बिल्कुल भी नही आता है, तो इसके लिए आप पहले किसी अपने आस-पास के डांस इंस्टीट्यूट से ही Training ले। जब आपको dance की बेसिक समझ हो जाये तो आप किसी अच्छे इंस्टीट्यूट से Dance Course अवश्य ही करें। जंहा से आप अपने डांस स्टैण्डर्ड में अच्छा निखार ला सकते हैं।

कोरियोग्राफर बनने के लिए आप सर्टिफिकेट इन डांस, डिप्लोमा इन डांस, एडवांस डिप्लोमा इन डांस एंड कोरियोग्राफी, डिप्लोमा इन परफार्मिंग आर्ट्स, बीए इन परफार्मिंग आर्ट्स, बीए इन आर्ट (डांस) इनमे से किसी भी कोर्स को करके Choreography के फील्ड में एंट्री कर सकते हैं।

Choreographer का क्या काम होता है

आप फिल्म या टीवी में गाने कलाकारों का डांस तो देखते ही होंगे और सोचते होंगे कि ये एक्टर या एक्ट्रेस कितना अच्छा डांस कर रहे हैं। Choreographer का काम किसी भी गाने में कलाकारों को डांस स्टेप बताना होता है। कोरियोग्राफर गाने की जरूरत के हिसाब से उस गाने पर कलाकरों से डांस करवाता है और उनको डांस स्टेप बताता है।

जिस तरह से फिल्म डाइरेक्टर पर फिल्म की शूटिंग की जिम्मेदारी होती है, ठीक इसी तरह फ़िल्म या एलबम में गाने की शूटिंग की जिम्मेदारी कोरियोग्राफर की होती है। इसलिएChoreographer को Dance director भी कहा जाता है। वह अपने हिसाब se गाने पर डांस स्टेप कैसे होने चाहिए, इसपर गहन विचार करता है। किस तरह का डांस स्टेप किस गाने और म्यूजिक पर फिट बैठेगा। फिर उसी के मुताबिक कलाकारों को डांस स्टेप बताता है और करवाता है। डांस पर कलाकारों के हावभाव और बॉडी मूवमेंट कैसे होने चाहिए, ये सब डांस डायरेक्टर यानी कि कोरियोग्राफर ही डिसाइड करता है। (Film Choreographer kaise bane)

आज फील्ड संगीत और क्रिएटिविटी से जुड़ा होता है। इस फील्ड में सफल वही लोग होते हैं, जिनकी डांस में गहरी रुचि होती है और जो नया सीखने के लिए उत्सुक रहते है। कोरियोग्राफर पर्दे के पीछे रहते हुए गाने को एक नई जान देता है। डांस स्टेप की रूपरेखा तैयार करने के साथ ही उसको कलाकरों की क्षमताओं को भी ध्यान में रखना होता है। इसके साथ ही कोरियोग्राफर को फिल्म डायरेक्टर के विजन की समझ और फिल्म के बजट पर भी ध्यान देना होता है। लोगों की रुचि और ट्रेंड के मुताबिक डांस स्टेप क्रिएट कर सके।

Career Scope in Choreographey

आज के समय मे समाज को मनोरंजन से बेहद लगाव है। फिलहाल मनोरंजन (नृत्य) के प्रति रुचि प्राचीन काल मे भी लोगों भी काफी ज्यादा थी। लेकिन मौजूदा दौर में यह क्षेत्र मनोरंजन के साथ- साथ हजारों- लाखों लोगों को रोजगार प्रदान करता है। भारत मे बॉलीवुड फिल्में बिना गाने के तो बन ही नही सकती है, इसलिए यंहा पर Choreographer के लिए बेहतरीन मौके हैं।

बॉलीवुड फिल्मो के अलावा साउथ फ़िल्म इंडस्ट्री, तमिल, कन्नड़, गुजराती, पंजाबी, मराठी आदि भाषाओं की फिल्मो में कोरियोग्राफर के लिए बेहतरीन चांस हो सकते हैं। फिल्म इंडस्ट्री के अलावा आप टीवी इंडस्ट्री डांस शो, स्टेज शो, इवेंट मैनेजमेंट, इवेंट प्लानिंग, वेडिंग प्लानिंग, मॉडलिंग एजेंसियों आदि में Choreographer के लिए Job के अबसर होते हैं।

इसके अलावा आज के समय में तो डांस क्लब, डांस ग्रुप और Dance Institute भी Choreographers को अच्छे पैकेज पर हायर करते हैं। अगर आप जॉब नही भी करना चाहते हैं तो आप खुद का डांस इंस्टीट्यूट शुरू कर सकते हैं। आज का समय ऑनलाइन का हो चुका है, ऐसे में आप Online Dance की क्लास स्टार्ट कर सकते हैं। ऑनलाइन का फायदा ये होता है कि इसमे आप अपने घर बैठे ही पूरी दुनिया के स्टूडेंट्स को डांस सिखा सकते हैं। इसमे आपका कस्टमर बेस पूरी दुनिया होती है। वंही अगर आप ऑफलाइन यानी कि डांस इंस्टीट्यूट शुरू करते हैं तो इसका दायरा सीमित होता है।

कोरियोग्राफर का कैरियर एक डांसर के रूप में शुरू होता है। इसके लिए विभिन्न शैलियों के डांस (नृत्य) सीखना होता है। जैसेकि क्लासिकल, मॉडर्न, फोक इत्यादि। जोकि कोरियोग्राफर बनने की प्रक्रिया का अहम हिस्सा होता है। कोरियोग्राफर बनने के लिए डांस की शैलियों के साथ ही डांस की तकनीकों का भी नॉलेज होना चाहिए। पहले कभी डांस सिर्फ शौकिया तौर पर लोग करते थे, लेकिन आज यह एक प्रोफेशन बन चुका है। जिसमे Career असीम संभावनाएं हैं।

Choreographer बनने के लिए स्किल्स

डांस और म्यूजिक का आपस मे बहुत ही गहरा संबंध होता है। अगर दोनों में से किसी भी में थोड़ी कमी हो जाती है तो वह नीरस सा प्रतीत होता है। इसलिए Choreographer बनने के लिए जरूरी है कि आपको Dance की सभी विधाओं की अच्छी समझ हो। इसके साथ ही म्यूजिक की भी अच्छी जानकारी अति आवश्यक होती है। जब आप किसी भी गाने को देखते हैं तो देखने में तो वह बहुत ही आसान लगता है, लेकिन यह जितना आसान आपको लगता है, उतना आसान होता नही है।

एक एक गाने को शूट करने के लिए डांसर और Choreographer को कई- कई दिनों तक और कई घंटों तक कड़ी मेहनत करनी होती है। लेकिन इस प्रोफेशन में आपको देश- विदेशों में घूमने को भी मिलता है। अगर आप इस फील्ड में आने की दिलचस्पी रखते हैं तो मेहनत और धैर्य की बहुत ही जरूरी होती है, जोकि आपके पास होना चाहिए। इसके साथ ही एक कोरियोग्राफर को शारिरिक रूप से फिट रहना भी जरूरी होता है।

इन सभी के अलावा अपने काम के प्रति फोकस, समर्पण और रुचि भी जरूरी होती है। इस फील्ड मे प्रैक्टिस आपके ज्ञान और हुनर में और भी ज्यादा निखार ला सकती है। सफल कोरियोग्राफर बनने के लिए आपको डांस की समझ के साथ ही फ़िल्म डायरेक्टर के विजन को भी ध्यान में रखना होता है, कि उसको किस तरह का वो गाना चाहिए।

इसके साथ ही कैमरा एंगल की भी नॉलेज होना चाहिए। सभी सफल डांसर के पीछे कोरियोग्राफर की काफी अहम भूमिका होती है। वह लय संगीत (म्यूजिक) के बीच सामंजस्य बिठाकर एक मौलिक डांस सीक्वेंस तैयार करता है। संगीत के साथ डांस का सही तरह से ताल-मेल बिठाना ही कोरियोग्राफर का काम होता है।

Choreographer income

कोरियोग्राफर की शूरुआती सैलरी बहुत ही कम होती है। शूरुआती समय मे आपको कभी- कभी ये भी हो सकता है, सिर्फ आपको पॉकेट मनी ही मिले। इसका कारण ये है, जब आप इस फील्ड में एंट्री करते हैं तो आप यह पर किसी भी Choreographer के असिस्टेंट के तौर पर काम करते हैं और इस दौरान आप कोरियोग्राफी की बारीकियो को सीख रहे होते हैं। जब आप इसमे परफेकट हो जाते हैं, तो अच्छा खासा पैसा मिलने लगता है।

अगर एक बार आपका नाम हो गया तो आपके पास पैसों की कमी नही होगी। इसके साथ ही आपको बड़ी से बड़ी फिल्म और प्रोजेक्ट मिलेंगे। इस फील्ड की खासियत ये होती है कि Choreographer कभी भी रिटायर नही होता है, वह जब तक चाहे काम कर सकता है, वशर्ते शारीरिक रूप से एक्टिव हो।

Choreographer के तौर पर फिल्म इंडस्ट्री में काम कैसे मिलेगा।

इस फील्ड में काम पाने के लिए आपको बहुत ही ज्यादा मशक्कत करनी पड़ेगी। यंहा पर इतनी आसानी से काम नही मिल पाता है।।अगर आपके Film Indstry में कोरियोग्राफर से लिंक या जान- पहचान है तो आप इस फील्ड में थोड़ा आसानी से एंट्री पा सकते हैं। इस फील्ड के लिए जान- पहचान बहुत जरूरी है।

अगर कोई भी नया बन्दा जिसकी फिल्म इंडस्ट्री के कोरियोग्राफर्स से जांन- पहचान नही है तो सबसे पहले आप किसी भी तरह से इनसे लिंक बनाएं। बिना लिंक के काम मिलना असम्भव तो नही, लेकिन बहुत ही मुश्किल है। मैं आपको ऐसा इसलिए बता रहा हूँ क्योंकि मैं।भी कई टीवी सीरियल में असिस्टेन्ट डायरेक्टर के तौर पर काम कर चुका हूं। इसलिए मैं इस फील्ड के बारे में बहुत ही ज्यादा जानकारी रखता हूँ।

जब आप इस फील्ड में जाएंगे तो आप किसी भी Choreographer के असिस्टेंट के तौर पर काम करेंगे। हर किसी को असिस्टेंट से ही शूरुआत करनी होती है। अंत मे मैं आपसे यही कहना चाहता हूं कि अगर आप इस फील्ड में स्ट्रगल सालों तक कर सकें तो ही इसमे एंट्री करें। ऐसा नही है कि आज आप काम ढूढ़ने निकले बस एक दो दिन काम मिल गया। यंहा पर आपको महीनों से लेकर सालों तक काम मिलने में लग सकता है। कभी-कभी तो आपको ऐसा भी लगेगा कि चलो छोड़ दें इस फील्ड को। लेकिन अगर आप मेहनत और स्ट्रगल कर ले गए तो सफलता तो जरूर मिलेगी।

कोरियोग्राफर के तौर पर काम पाने का सबसे अच्छा और आसन तरीका ये है कि पहले पंजाबी, गुजराती, भोजपुरी, जैसी फिल्मों में काम पाने की कोशिश करें। जब यंहा पर आपको काम करने लगेंगे तो इसके बाद आपको बॉलीवुड फिल्मों तक मे काम मिल जाएगा। बस आपको शूरुआत के लिए ऐसा प्लेटफॉर्म चाहिए। जंहा से आप अपने कैरियर की शूरुआत कर सकें। चलिये अब हम आपको डांस college के बारे में बता देते हैं।

Best College for Dance Training in India

  • श्यामक डावर इंस्टीट्यूट ऑफ परफोर्मिंग आर्ट्स मुम्बई
  • डांस वर्क्स परफॉर्मिंग आर्ट्स एकेडमी नई दिल्ली
  • गन्धर्व महाविद्यालय नई दिल्ली
  • संगीत नाटक अकादमी नई दिल्ली
  • शंकर महादेवन अकादमी बेंगलुरू
  • टैगोर इंटरनेशनल स्कूल नई दिल्ली
  • गवर्नमेंट कॉलेज ऑफ डांस एंड म्यूजिक, भुवनेश्वर
  • आईटीए स्कूल ऑफ परफोर्मिंग आर्ट्स मुम्बई
  • नाट्य इंस्टीट्यूट ऑफ कथक आदि कोरियोग्राफी बंगलोर
  • मैसूर यूनिवर्सिटी
  • बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी
  • राजस्थान संगीत संस्थान
  • महाराजा सयाजीराव यूनिवर्सिटी, छत्तीसगढ़
  • इन्द्रकला संगीत विश्वविद्यालय, छत्तीसगढ़
  • गवर्नमेंट म्यूजिक कॉलेज इंदौर
  • हैदराबाद यूनिवर्सिटी
  • बंगलोर यूनिवर्सिटी
  • मणिपुर यूनिवर्सिटी
  • इलाहाबाद यूनिवर्सिटी, आदि

उम्मीद हैं कि Film Choreographer Kaise bane ये पोस्ट आपको पसन्द आयी होगी। क्योंकि इस पोस्ट में मैन Choreography Course and Career के बारे में सारी जानकारी दी है। जोकि आपके लिए बहुत ही यूजफुल साबित होगी। अगर आपके कोई सवाल या सुझाव हैं तो आप हमें कमेंट कर पूछ सकते हैं। Thanks for reading my article Film Choreographer kaise bane.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *