Film Director kaise ban Sakte hain

Film Director kaise ban Sakte hain: अगर आपका भी सपना फिल्म में डायरेक्टर बनने का है तो आप बिलकुल सही पोस्ट पढ़ रहे हैं, यंहा पर हम आपको फिल्म डायरेक्टर कैसे बन सकते है? इसके बारे में डिटेल में जानकारी देंगे।

चूंकि मैंने भी फिल्म एंड टीवी डायरेक्शन के फील्ड में काम कर चुका हूं, तो मुझे इस फील्ड के बारे में सही और सारी जानकारी है। यंहा पर मैं आपको Film Director kaise ban Sakte hain इसके बारे में जो भी जानकारी दूंगा, वो बिल्कुल सटीक जानकारी होगी। जिसके जरिए आप फिल्म और टीवी इंडस्ट्री में डाइरेक्टर बनने का सपना पूरा कर सकेंगे।

इस लेख में हम फिल्म डायरेक्टर कैसे बनें इससे संबंधित निम्न बिंदुओं पर चर्चा करेंगे। जिससे आप इस फील्ड के बारे में सही से समझ पाएंगे।

1: फिल्म डायरेक्टर कैसे बन सकते हैं?
2: फिल्म डायरेक्टर बनने के लिए कौन सा कोर्स करना होगा?
3: फिल्म डायरेक्शन कोर्स की फीस कितनी होगी?
4: फिल्म डायरेक्शन कोर्स कंहा से करना होगा?
5: बेस्ट फिल्म डायरेक्शन इंस्टीट्यूट कौन से हैं?
6: फिल्म डायरेक्शन कोर्स के लिए आवश्यक योग्यता
7: फिल्म डायरेक्शन में कैरियर के लिए आवश्यक स्किल्स
8: फिल्म डायरेक्शन के फील्ड में काम कैसे मिलेगा?
9: फिल्म डायरेक्शन में कैरियर स्कोप क्या है?
10: फिल्म डायरेक्शन के फील्ड में किन लोगों को नही आना चाहिए?

फिल्म इंडस्ट्री एक बहुत ही ग्रोइंग इंडस्ट्री है। दुनिया मे हॉलीवुड के बाद बॉलीवुड में ही सबसे ज्यादा फिल्में बनती है। बॉलीवुड अलाव भी साउथ और भोजपुरी फिल्मों में भी काफी अच्छा कैरियर बनाया जा सकता है।

ग्लैमर के साथ- साथ इस इंडस्ट्री में कैरियर के अवसरों की कमी नही है। इसलिए जिन लोगों की फिल्म मेकिंग में कैरियर बनने की चाहत है, उनके लिए Film Direction बहुत ही अच्छा कैरियर विकल्प साबित होगा। चलिये जानते हैं कि आप फिल्म डायरेक्टर कैसे बन सकते है।

Film Director kaise ban Sakte hain

फिल्म डायरेक्टर बनने के लिए कैंडिडेट की फिल्म मेकिंग में रुचि होनी चाहिए और साथ ही वह फिल्म निर्माण की विधा में परिपूर्ण हों। तभी आप एक अच्छे और सफल फ़िल्म डायरेक्टर बन सकते हैं।

फिल्म डायरेक्शन के फील्ड में कैरियर बनाने के लिए कैंडिडेट को फिल्म मेकिंग से जुड़े कोर्स करने की जरूरत होती है। जिनको 12वीं या ग्रेजुएशन के बाद किया जा सकता है। फिल्म डायरेक्शन कोर्स किसी भी स्ट्रीम के स्टूडेंट्स कर सकते हैं। कोर्स करने के बाद आप फिल्म डायरेक्टर के तौर पर Film इंडस्ट्री में कैरियर बना सकते हैं।

कोई भी डायरेक्ट फिल्म डायरेक्टर नही बनता है, बल्कि कैंडिडेट को असिस्टेंट डायरेक्टर के रूप में कैरियर की शुरूआत करनी होगी। सबसे पहले आप 4th या 3rd असिस्टेंट डायरेक्टर बनते है। फिर इसके बाद अच्छा होने पर 2nd असिस्टेंट डायरेक्टर जिसकी चीफ असिस्टेंट डायरेक्टर कहते हैं, वो बनते हैं। जब इंडस्ट्री में अच्छा खासा अनुभव हो जाता है तो फिर आप फिल्म डायरेक्टर के तौर पर अपनी।पारी शुरु कर सकते हैं।

Film Director बनने के लिए आप निम्न कोर्स कर सकते हैं।

डिप्लोमा इन फिल्म डायरेक्शन
बीएससी इन फिल्म मेकिंग
बीए इन फिल्म मेकिंग
डिप्लोमा इन वीडियो प्रोडक्शन एंड डायरेक्शन
पीजी डिप्लोमा इन फिल्म डायरेक्शन
एमएससी इन फिल्म मेकिंग
एमएससी इन सिनेमा

डिप्लोमा और बीएससी इन फ़िल्म डायरेक्शन या बीए इन फिल्म डायरेक्शन कोर्स 12वीं के बाद कर सकते हैं। पीजी डिप्लोमा इन फिल्म डायरेक्शन और एमएससी इन फिल्म मेकिंग एमएससी इन सिनेमा इन कोर्स को ग्रेजुएशन के बाद किया जा सकता है।

Film Direction Me Career Scope

फिल्म डायरेक्शन के फील्ड में कैरियर स्कोप काफी अच्छा है। क्योंकि ये एक ऐसा फील्ड है, जोकीं काफी तेजी के साथ ग्रोथ कर रहा है। भारत मे प्रतिबर्ष हज़ारों की संख्या में विभिन्न भाषाओं में फिल्मों का निर्माण होता है। जिस वजह से इस फील्ड में एक्सपर्ट लोगों के लिए काम की कमी नही है।

बॉलीवुड के अलावा, साउथ फिल्म इंडस्ट्री, तमिल, कन्नड़, भोजपुरी, मराठी जैसे सिनेमा में फिल्म डायरेक्टर के लिए रोजगार के तमामं अवसर होते हैं। चूंकि फिल्म इंडस्ट्री मनोरंजन का एक प्रमुख साधन है। इस वजह से इसमे और भी ज्यादा कैरियर की ग्रोथ है।

Film Direction Course Fees

फिल्म डायरेक्शन कोर्स की फीस अलग-अलग संस्थानों में अलग- अलग होती है। जो ज्यादा फेमस और नामी फिल्म स्कूल होते हैं, उनकी फीस लाखों रुपए होती है। जो साधारण टाइप के फिल्म इंस्टीट्यूट होते हैं, उनकी फीस कम होती है।

इसके अलावा प्राइवेट कॉलेजों की तुलना में गवर्नमेंट इंस्टीट्यूट की फीस काफी कम होती है। लेकिन इन गवर्नमेंट इंस्टीट्यूट में एडमिशन मिलना आसान काम नही है। आमतौर पर फिल्म Direction Course की फीस 50 हजार से लेकर 6 लाख के बीच होती है।

गरीब लोग Film Director kaise ban Sakte hain

देखिए फिल्म डायरेक्शन कोर्स की फीस चुका पाना हर किसी के वश की बात नही है। इसलिए प्रश्न ये आता है कि गरीब लोग जिनके पास कोर्स करने के लिए ज्यादा पैसे नही हैं तो वे लोग फिल्म डायरेक्टर कैसे बन सकते हैं। तो मैं आपको बता दूं जो लोग गरीब हैं और फिल्म डायरेक्शन के फील्ड में कैरियर बनाना चाहते हैं तो वे लोग गवर्नमेंट फिल्म इंस्टीट्यूट से फिल्म Direction Course करें। क्योंकि सरकारी कॉलेजों में फीस बहुत ही कम होती है।

Film Direction Course Me Admission kaise milega?

अगर आप प्राइवेट फिल्म इंस्टीट्यूट से फिल्म डायरेक्शन कोर्स करना चाहते हैं तो वंहा पर आपको डायरेक्ट ही एडमिशन मिल जाएगा या हल्का- फुल्का टेस्ट होगा तो उसके बाद आसानी से एडमिशन मिल जाता है।

वंही अगर आप सरकारी कॉलेजों से Direction कोर्स करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको प्रवेश परीक्षा पास करनी होगी। जिसके बाद आपको फिल्म डायरेक्शन कोर्स में एडमिशन मिल पायेगा। चलिये मैं आपको इंडिया के बेस्ट गवर्नमेंट फिल्म इंस्टीट्यूट के बारे में बता देता हूँ, जंहा से बड़े- बड़े फिल्म डायरेक्टर ने कोर्स किये हैं।

ये भी पढ़ें: एक्टर कैसे बनें?

Government Film Institute

फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया पुणे
सत्यजीत रे फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट कलकत्ता
के आर नारायणन फिल्म इंस्टीट्यूट
एमजीआर फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट
माखनलाल चतुर्वेदी यूनिवर्सिटी भोपाल

ये सभी गवर्नमेंट फिल्म मेकिंग ट्रेनिंग के इंस्टीट्यूट हैं। इनमे से फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया पुणे, सत्यजीत रे फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट कलकत्ता ये इंडिया के बेस्ट फिल्म मेकिंग इंस्टीट्यूट हैं। जंहा से कोर्स करना हर किसी का सपना होता है।

फिल्म डायरेक्शन कोर्स कंहा से करना चाहिए?

वैसे तो फिल्म डायरेक्शन के बहुत से कॉलेज और फिल्म इंस्टीट्यूट मिल जाएंगे, लेकिन।आपको किसी अच्छे और।विशासनीय Film इंस्टीट्यूट से कोर्स करना चाहिए।

बहुत से लोग अनजाने में गलत इंस्टीट्यूट में एडमिशन ले लेते हैं, जिसकी वजह से उंनको इस फील्ड का उतना अच्छा नॉलेज नही हो पाता है, जिससे कि उंनको फिल्म इंडस्ट्री में काम मिल सके। इसलिए हमेशा की अच्छे कॉलेज से ही कोर्स करें। गवर्नमेंट संस्थानो के बारे में ऊपर आर्टिकल में मैंने बता दिया है। चलिये मैं अब आपको इंडिया के बेस्ट प्राइवेट संस्थानों के बारे में बताता हूँ।

Best Private Film Institute

व्हिसलिंग वुड्स इंटरनेशनल मुम्बई
इंस्टीट्यूट ऑफ क्रिएटिव एक्सीलेंस मुम्बई
एशियन एकेडमी ऑफ फिल्म टेलीविजन नोयडा
गुलशन कुमार फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट
एशियन एकेडमी ऑफ फिल्म एंड टेलीविजन नोयडा

Film Direction Course Duration

फिल्म डायरेक्शन में डिप्लोमा कोर्स 6 महीने से लेकर 2 साल तक कि अबधि के होते हैं। बैचलर डिग्री कोर्स 3 साल, मास्टर डिग्री कोर्स 2 साल और पीजी डिप्लोमा की अवधि 1 से 2 साल होती है।

Film Direction के लिए स्किल्स

क्रिएटिविटी
इमैजिनेशन
थिंकिंग
कैमरा एंड लाइटिंग
वीडियो एडिटिंग
फिल्म प्रोडक्शन एंड डायरेक्शन टेक्निक्स
एक्टिंग

किसी भी फिल्म का प्रमुख फिल्म डायरेक्टर ही होता है। फिल्म का कौन सा सीन किस तरह से शूट होगा, इसके लिए फिल्म डायरेक्टर ही जिम्मेदार होता है। फिल्म मेकिंग की सारी जिम्मेदारी फिल्म डायरेक्टर की ही होती है। इसलिए फिल्म डायरेक्टर को ये भी मालूम होना चाहिए कि किस सीन पर कौन एक्टर किस तरह एक्टिंग करेगा और उस सीन में लाइटिंग की क्या वयस्था होनी चाहिए और उस सीन को किस एंगल से शूट करना होगा, ये सब फिल्म डायरेक्टर ही निर्धारित करता है। इसलिए फिल्म डायरेक्टर को कैमरा एंड लाइटिंग की समझ होनी चाहिए।

इसके साथ ही फिल्म की एडिटिंग कैसे होनी है, उसमे कौन से इफेक्ट लगाने हैं ये भी फिल्म डायरेक्टर का काम होता है। इस तरह से फिल्म को विजुअल इफेक्ट और वीडियो एडिटिंग की समझ होनी चाहिए।

फिल्म डायरेक्शन एक क्रिएटिव और इमैजिनेशन भरा फील्ड है। इसलिए एक डायरेक्टर के अंदर क्रिएटिविटी, इमैजिनेशन, थिंकिंग जैसे गुण होने बहुत जरूरी है।

एक तरह से फिल्म डायरेक्टर के अंदर फिल्म मेकिंग से जुड़े सभी पहलुओं की जानकारी होना बहुत जरूरी है। कोई भी स्क्रिप्ट फिल्म बनकर तैयार होगी तो वो स्क्रीन पर कैसी दिखाई देगी। इस इसका निर्धारण डाइरेक्टर ही करता है। इसलिए डायरेक्टर को स्क्रिप्ट राइटिंग और स्क्रीनप्ले राइटिंग भी आनी चाहिए।

Work Of Film Director (फिल्म डायरेक्टर का काम)

फिल्म डायरेक्टर का प्रमुख कार्य फिल्म का निर्माण या शूटिंग पूरी करवाना होता है। फिल्म मेकिंग की सारी जिम्मेदारी फिल्म डायरेक्टर की ही होती है।

Film Direction में काम कैसे मिलता है?

फिल्म इंडस्ट्री में डायरेक्शन के फील्ड में काम मिलने का तरीका कुछ अलग ही होता है। यंहा पर काम पाने के लिए आपको फिल्म डायरेक्टर या टीवी सीरियल के डायरेक्टर्स से संपर्क बनाना होगा। इसके लिए आप ज्यादा से ज्यादा फिल्म और टीवी सीरियल के सेट पर जाएं और डायरेक्टर या असिस्टेंट डायरेक्टर से संपर्क करें।

फिलहाल डायरेक्टर से इतनी आसानी से संपर्क हो पाना मुश्किल होता है। इसलिए आप असिस्टेंट डायरेक्टर से संपर्क करें और उन्हें बताएं कि आपने डायरेक्शन कोर्स किया है और अब आप असिस्टेंट डायरेक्टर के तौर पर या ट्रेनी के तौर पर काम करना चाहते हैं। इस तरह से आप ज्यादा से ज्यादा डायरेक्टर व असिस्टेंट डायरेक्टर से संपर्क बनाये।

जितने ज्यादा आपके संपर्क होंगे उतना ही आसानी से आपको कॉम मिलता है। आप फिल्म और टीवी सीरियल के प्रोडक्शन हाउस में अपना सीबी भी जमा करें, लेकिन इससे कोई खास फायदा नही है।

ये सभी मैं खुद काम कर चुका हूं। मैंने कोर्स करने के बाद टीवे सीरियल के सेट पर जाकर ज्यादा से ज्यादा असिस्टेंट डायरेक्टर से संपर्क बनाये, उनके फोन नंबर लिए। हफ्ते में एक दो बार काल करता था। इस तरह से बहुत सारे असिस्टेंट डायरेक्टर से संपर्क किया। फिर एक दिन मुझे ये रिश्ता क्या कहलाता के असिस्टेंट डायरेक्टर ने काम के लिए बुलाया। इस तरह से मेरी डायरेक्शन की जर्नी स्टार्ट हुई।

इस फील्ड में आपके डायरेक्टर लोगों से जितने ज्यादा संपर्क होंगे उतना ही आसानी से आपको काम मिल सकता है। इस फील्ड में डिग्री की कोई वैल्यू नही होती है।

अगर आपको फिल्म मेकिंग की बेसिक नॉलेज, जैसेकि कैमरा एंगल, कैमरा शॉट की बेसिक जानकारी है तो आपको ट्रेनी या 4th असिस्टेंट डायरेक्टर की जॉब मिल सकती है, चाहें आपने कोर्स किया हो या नही। क्योंकि अभी आप मेन डायरेक्टर या चीफ AD तो बनने नही जा रहे हैं। अभी आपको डायरेक्शन की पहली सीढ़ी से कैरियर की शुरुआत करनी है। धीरे- धीरे जब काम करेंगे तो खुद ब खुद आपको नॉलेज हो जाएगा।

वैसे भी कोर्स करने पर ज्यादतर आपको कितनी ज्ञान दिया जाता है। असल मे किस तरह से फिल्मों में काम होता है, किसी इंस्टीट्यूट में नही सिखाया जाता है, वो आप काम के दौरान ही सीखते हैं।

ये भी पढ़ें: कास्टिंग डायरेक्टर कैसे बनें?

बिना कोर्स किये Film Director kaise ban Sakte hain

अगर आप बिना कोर्स किये ही फिल्म डायरेक्टर बनाना चाहते हैं तो आप टीवी या फिल्म के डायरेक्टर या असिस्टेंट डायरेक्टर से कांटेक्ट करें और उनसे कहें कि आप ट्रेनी के तौर पर काम करना चाहते हैं। इस तरह आप ज्यादा से ज्यादा लोगों से संपर्क करें। इसके लिए आप फिल्म और टीवी सीरियल के सेट पर जाकर कांटेक्ट करें, जंहा पर शूटिंग हो रही होती है।

क्योंकि शूटिंग के दौरान ही आप असिस्टेंट डायरेक्टर से सम्पर्क कर सकते हैं, लेकिन सेट पर आप इतनी आसानी से नही पहुच सकते हैं। क्योंकि सिक्योरिटी वाले आपको अंदर नही जाने देंगे। इसलिए आपको कोई सॉलिड जुगाड़ करना होगा। जिससे कि आपकीं डायरेक्टर या असिस्टेंट डायरेक्टर से मुलाकात हो सके। मुंबई में गोरेगांव ईस्ट में फिल्म सिटी है, जंहा पर बहुत सारे टीवी सीरियल और फिल्मों की शूटिंग होती रहती है। आप वंहा संपर्क करें।

फिल्म डायरेक्टर सैलरी

फिल्म इंडस्ट्री में डायरेक्टर के महीने के हिसाब से नही बल्कि पूरी फिल्म के हिसाब से पैसे मिलते हैं। इसी तरह टीवी सीरियल में डायरेक्टर को एपिसोड के हिसाब से पैसे मिलते हैं। लेकिन कभी कभी 3rd, 4th या 5th असिस्टेंट डायरेक्टर को महीने के हिसाब से भी सैलरी मिलती है। शुरुआत में आपको 25 से 30 हजार रुपये महीने में सैलरी मिल सकती है। अनुभव के बाद आपकीं पद के साथ ही सैलरी भी बढ़ती जाती है।

उम्मीद है कि Film Director kaise ban sakte hain ये पोस्ट आपको पसन्द आयी होगी। फिर भी अगर आपके कोई सवाल या सुझाव हैं तो आप कमेंट के माध्यम से पूँछ सकते हैं।

Leave a Comment