Fitness Trainer kaise bane- फिटनेस ट्रेनर हॉट करियर सेक्टर

Fitness Trainer kaise bane– फ्रेंड्स careerkaisebane.in में आपका स्वागत है। आज का हमारा विषय है कि Fitness Trainer kaise bane। अगर आप फिटनेस में कैरियर बनाना चाहते हैं तो आप बिल्कुल सही पोस्ट पढ़ रहे हैं। इस आर्टिकल में हम Fitness Trainner kaise bane इसके बारे में विस्तार से बताएंगे। जिससे आप आसानी से फिटनेस ट्रेनिंग में कैरियर बना पाएं और अच्छे फिटनेस ट्रेनर बन सके।

Fitness Trainer kaise bane

फिटनेस ट्रेनिंग में कैरियर बनाने के लिए फिटनेस ट्रेनिंग का कोर्स करना होगा। इसके लिए आप जिम ट्रेनिंग और योगा जैसे कोर्स कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त आप फिजिकल एजुकेशन, योगा एंड नेचुरोपैथी में डिग्री या डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं। इन कोर्स को करने से आपको डिग्री ही नही मिलेगी बल्कि आपकी फिटनेस के प्रति समझ बढ़ेगी। जिससे कि आप दूसरों को भी फिट और स्वास्थ्य रख पाएंगे। Fitness Training कोर्स करने के बाद आप फिटनेस क्लब में जॉब कर सकते हैं।

अगर आप जॉब नही करना चाहते हैं तो खुद का भी फिटनेस सेंटर खोल सकते हैं। उम्मीद है कि आपको समझ मे आ गया होगा कि Fitness Trainner kaise bane। चलिये अब हम आपको इसमे कैरियर स्कोप के बारे में बताते हैं।

Career as a Fitness Trainer

वर्तमान समय मे फिटनेस इंडस्ट्री बहुत तेजी से ग्रोथ कर रही है। मौजूदा टाइम में भारत मे फिटनेस का व्यापार 2100 करोड़ से भी ज्यादा का है। आज के समय मे हर कोई फिट रहना चाहता है। लड़का हो या लड़की सभी फिटनेस के प्रति जागरूक हैं। लगभग सभी युवा एक्टर जैसी मसल्स और बॉडी बनाना चाहते हैं। इसी तरह लड़कियां भी फिल्मी हीरोइन की तरह फिगर बनाना चाहती है। युवक, युवतियों में आकर्षक दिखने की चाहत ने फिटनेस ट्रेनिंग का स्कोप और ज्यादा बढ़ा दिया है।

इसके अलावा वर्तमान समय मे फिट और स्वास्थ्य रहना भी जरूरी है। अब सेहत बनाने के प्रति लोगों की मानसिकता बदल रही है। नौजवानों के साथ बच्चे, बुजुर्ग और महिलाएं एक्सरसाइज करने लगे हैं। इन लोगो को गाइड करने का काम Fitness Trainner करते हैं।

आज की लाइफ स्टाइल बहुत बीमारीं और मुश्किलों से भरी है। किसी को 12 घंटे बैठकर काम करता है लेकिन वंही दूसरे को दौड़भाग करनी होती है। जिससे कि लोगो की दिनचर्या काफी व्यस्त हो गई है। इसके कारण लोग मोटापा, मानसिक और शारीरिक हर तरह की बीमारियों की चपेट में आने लगे है। इसलिए बीमारियो बचने और हेल्दी रहने के लिए फिटनेस ट्रेनर की काफी ज्यादा डिमांड बढ़ रही है।

Also read- नेचुरोपैथी डॉक्टर kaise bane

अमीर और बड़े घराने के लोग पर्सनल फिटनेस ट्रेनर रखने लगे हैं। पहले के जमाने मे सिर्फ एक्टर और खिलाड़ी ही पर्सनल ट्रेनर रखते थे लेकिन अब परिस्तिथियाँ बदल चुकी है। शहरों में तो जिम ट्रेनर, एरोबिक्स ट्रेनर, योग इंस्ट्रक्टर की मांग काफी ज्यादा बढ़ गई है। इंडिया के अलावा आप विदेशों में भी फिटनेस ट्रेनर के तौर पर काम कर सकते हैं।

Fitness Trainner career option in india

अब हम आपको बताएंगे कि हमारे यंहा यानी कि इंडिया में Fitness Trainner के लिए कैरियर ऑप्शन क्या हैं।

इंडिया में फिटनेस में बहुत सारे कैरियर के ऑप्शन हैं, जैसे-

जिम सेंटर

एथलीट ट्रेनर

स्पोर्ट कोच

हॉस्पिटल

हेल्थ क्लब & फिटनेस सेंटर

स्पा

डाईटीशियन

टूरिस्ट रिसोर्ट

मल्टीनेशनल कंपनी

स्कूल एंड कॉलेज

Types Of Fitness Trainer (फिटनेस ट्रेनर भी कई तरह के होते हैं)

पर्सनल ट्रेनर- ये फिटनेस ट्रेनर किसी एक ही व्यक्ति को ट्रेनिंग देते है। उनके डाइट चार्ट, खान- पान, वर्क आदि का ध्यान रखते है। ऐसे ट्रेनर अमीर लोग ही रखते है। इनकी फीस भी काफी ज्यादा होती है।

स्पेशल ट्रेनर- इस तरह के ट्रेनर किसी एक एरिया के स्पेशलिस्ट होते हैं।

जिम ट्रेनर- ये ट्रेनर अक्सर जिम और हेल्थ क्लब में ट्रेनिंग देते हैं।

योगा ट्रेनर- इस तरह के फिटनेस ट्रेनर योग सेंटर में योग के द्वारा लोगो को स्वस्थ रखते हैं।

Fitness Trainner work (फिटनेस ट्रेनर के काम)

फिटनेस ट्रेनर का मुख्य काम एक्सरसाइज कराना तथा उसके मुताबिक डाइट की प्लानिंग करना हॉट है। इसके अतरिक्त फिटनेस ट्रेनर को फिटनेस, न्यूट्रिशन, फिटनेस इक्विपमेंट आपरेशन, वेट मैनेजमेंट, हेल्थ रिस्क मैनेजमेंट, स्ट्रेस रिड्यूसन, वेट लॉस, वेट गेन, डाइट आदि विषयों पर ध्यान देना होता है।

Fitness Trainer skills (फिटनेस ट्रेनर के लिए स्किल्स)

योग, एक्सरसाइज, एक्सरसाइज इक्विपमेंट की अच्छी जानकारी होना आवश्यक है।

जिम इक्विपमेंट का कैसे इस्तेमाल करना चाहिए, इसकी जानकारी होना चाहिए।

एरोबिक्स, फ्लैक्सिबिलिटी ट्रेनिंग, पोषण बीएमआई, और ट्रेनिंग उपकरणों का ज्ञान होना चाहिए।

व्यक्ति के शरीर के मुताबिक एक्सरसाइज और डाइट प्लान का निर्धारण करना।

Fitness Trainer course in India

फिटनेस ट्रेनिंग में आप सर्टिफिकेट, डिप्लोमा जैसे कोर्स कर सकते है। इसके अलावा योगा थरेपी, नेचुरोपैथी एंड योग, फिजिकल एजुकेशन कोर्स करके भी इसमे प्रवेश कर सकते है। इन कोर्स की अलग- अलग होती है।

इसमे आप नाइक एरोबिक्स, रिबॉक इंस्ट्रक्टर सर्टिफिकेशन प्रोग्राम या अन्य कोर्स कर सकते हैं। इसके अंतर्गत बेसिक कोर्स 80 घंटे का होता है जिसमे 30 घंटे की थ्योरी होती है। इस कोर्स के अंत मे प्रैक्टिकल और लिखित परीक्षा होती है। इसको पास करने के बाद रिबॉक सर्टिफाइड फिटनेस इंस्ट्रक्टर बन पाते हैं।

रिबॉक इंस्ट्रक्टर एलाइंस प्रोग्राम 80 घंटे या लगभग ढाई महीने का होता है। जिसमे MA लेवल मास्टर ट्रेनर एग्जाम क्लियर करने के बाद ट्रेनर का सर्टिफिकेट मिल।पाता है। इसके अलावा गोल्डन जिम यूनिवर्सिटी में फिटनेस में सर्टिफिकेशन आफर करती है। जिसमे चार महीने पर्सनल ट्रेनिंग और 22 घंटे साइकिलिंग के लिए निर्धारित होते हैं।

इनके आलवा आप बैचलर इन फिजिकल एजुकेशन या योग थेरेपी के कोर्स भी कर सकते हैं। फिजिकल एजुकेशन कोर्स की अवधि 3 से 4 साल होती है। वंही योग कोर्स 1 साल से लेकर 4 साल तक का होता है। इनकीं फीस की 30 हजार से लेकर लाखो रुपये होती है।

Best Institute for Fitness Training

साई, एनएस साउथ सेंटर, यूनिवर्सिटी, बेंगलुरु ।

गोल्ड जिम यूनिवर्सिटी, मुंबई

गोल्डन जिम एंड फिटनेस इंस्टीट्यूट, मुम्बई

तालवाकर्स, अकेडमी मुम्बई,

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फिटनेस स्टडीज, कलकत्ता

k 11 एकेडमी ऑफ फिटनेस साइंस, महराष्ट्र

इन्टीग्रेटेड फिटनेस एंड स्पोर्ट इंस्टीट्यूट, पुणे

इंदिरा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ फिजिकल एजुकेशन एंड स्पोर्ट्स साइंस, नई दिल्ली

चंद्रशेखर अगाशे कॉलेज ऑफ फिजिकल एजुकेशन, पुणे

रुहेलखंड यूनिवर्सिटी, बरेली

इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ योगिक साइंस एंड रिसर्च

बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी, बनारस

Fitness Trainer Income

शुरुआत के समय मे आप 8 से 10 हजार रुपये प्रतिमाह कमा सकते हैं। थोड़ा अनुभव और पहचान होने के बाद 30 से 40 हजार रुपये तक महीने में कमा सकते है। अगर आप अच्छे फिटनेस ट्रेनर बनने में सफल हो जाते है तो आप महीने में लाखों रुपए कमा सकते है। पर्सनल ट्रेनर घंटे के हिसाब से अच्छा खासा अमाउंट चार्ज करते है।

4 thoughts on “Fitness Trainer kaise bane- फिटनेस ट्रेनर हॉट करियर सेक्टर”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *