Flight Engineer kaise bane

Career in Flight Engineering- क्या आप फ्लाइट इंजीनियरिंग में कैरियर बनाने का सपना देख रहे हैं। अगर आप Flight Engineer kaise bane इसके बारे में जानकारी चाहते हैं, तो इस पोस्ट में हम आपको डिटेल में बताएंगे कि फ्लाइट इंजीनियर कैसे बने या Flight Engineering में कैरियर kaise बनाये।

Flight Engineer Kaise bane

एविएशन सेक्टर काफी उभरता हुई इंडस्ट्री है। जिसमे Flight Engineer का अहम रोल माना जाता है। युवाओं में भी इस कोर्स के प्रति काफी क्रेज बढ़ रहा है। इस फील्ड में Career बनाने के लिए कैंडिडेट पीसीएम सब्जेक्ट से 12वीं पास होना चाहिए।

इसके बाद स्टूडेंट्स एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल या मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिग्री या डिप्लोमा करना होगा। आजकल Aeronautical Engineering Collage की कमी नही है, लेकिन कुछ फर्जी संस्थान भी हैं। इसलिए रिकग्नाइज्ड कॉलेज से ही कोर्स करें। अधिकांश अच्छे यूनिवर्सिटी, कॉलेज में एंट्रेंस एग्जाम क्वालीफाई करने पर ही एडमिशन मिलता है।

Career Scope in Flight Engineering

इस क्षेत्र में आने वाले समय मे रोजगार के काफी अच्छे अवसर होंगे। इसका कारण एविएशन इंडस्ट्री में तीव्र बृद्धि होना है। घरेलू टिकट बेचे जाने के मामले में भारत विश्व का तीसरा सबसे बड़ा और तेजी के साथ विकाश करने वाला विमानन बाजार बन चुका है। 

एयरपोर्ट कौंसिल ऑफ इंडिया के अनुसार भारत 2017 से 2040 के दौरान यात्री यातयात के लिए दुनियाभर में तेजी से विकाश करने वाला दूसरा सबसे बड़ा देश होने का अनुमान है। वंही 2037 तक भारत मे विमान की मांग 1750 होने की उम्मीद है। इस प्रकार हम कह सकते हैं कि इस फील्ड में रोजगार के बेहतरीन मौके हैं। यंहा पर गवर्नमेंट के अलावा प्राइवेट एविएशन इंडस्ट्री में भी Job के अच्छे विकल्प हैं। इसमे आप एविएशन के अलावा नाशा तक मे काम करने का मौका पा सकते हैं।

इस फील्ड में आप फ़्लाइंग क्लब, एयरलाइन्स, डिफेंस, रिसर्च, नेशनल एयरोनॉटिक सेंटर, हेलिकॉप्टर कॉर्पोरेशन, एयरक्राफ्ट मैन्युफैक्चरिंग कंपनी, एविएशन डिपार्टमेंट, नाशा आदि में शानदार कैरियर बना सकते हैं।

Course for Career in Flight Engineering

बीटेक इन एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग
बीई इन एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग
बीटेक इन एरोस्पेस इंजीनियरिंग
बीई इन एरोस्पेस स्पेस इंजीनियरिंग

Flight Engineer के कार्य

फ्लाइट इंजीनियर का कार्य एयरक्राफ्ट को कंट्रोल करने के साथ- साथ एयरक्राफ्ट सिस्टम्स तथा उपकरणों की मॉनिटरिंग करने का काम करते हैं। एयरक्राफ्ट इंजन और एयरक्राफ्ट विंग्स आदि की देखभाल की इनकी जिम्मेदारी होती है। ये पायलट्स के साथ ताल- मेल बिठाकर काम करते हैं।

विमान या एयरक्राफ्ट के उड़ान भरने, क्रूज़ या क्लाइंब के दौरान इंजन की पावर को एडजस्ट करते हैं। विमान की उड़ने से पहले, उड़ान के समय और बाद में विमान की तमाम कार्य-प्रणालियों की जांच करने का जिम्मा Flight Engineer का ही होता है।

विमान के उड़ान भरते समय, क्लाइंब या क्रूज करने के दौरान इंजन की पावर को एडजस्ट करने से लेकर ईंधन पर निगरानी रखनी की जिम्मेदारी इनकी होती है। उड़ान से पहले, उड़ान के दौरान और बाद में विमान की तमाम प्रणालियों की जांच की जिम्मेदारी फ्लाइट इंजीनियर की होती है।

Flight Engineer सैलरी पैकेज

फ्लाइट इंजीनियर की सैलरी काफी आकर्षक होती है। इसमें शुरआती सैलरी 4 से 5 लाख प्रतिबर्ष तक मिलतीं है, जोकि अनुभव और job Profile के अनुसार बढ़ती रहती है।

Best College For Flight Engineer (Aeronautical Engineering)

आईआईटी, कानपुर
आईआईटी, मद्रास
आंध्र यूनिवर्सिटी
मणिपाल यूनिवर्सिटी, मणिपाल
यूनिवर्सिटी ऑफ पेट्रोलियम एंड एनर्जी, दिल्ली
राजस्थान टेकिनिकल यूनिवर्सिटी
कालीकट यूनिवर्सिटी
मद्रास इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी
एमिटी यूनिवर्सिटी, दिल्ली

ये भी पढ़ें-

Electrical Engineer kaise bane- Career in Electrical Engineering

Industrial Engineer kaise bane। Career in Industrial Engineering

Aerospace Engineer Kaise bane।Career in Aerospace Engineering

Acting me Career Kaise banaye- Tips

Sport Journalist Kaise Bane- All Details

Casting Director kaise bane- All Details

Space Scientist kaise bane। Space Science Career- Details

Dancer kaise bane । Dancing Career Details

Aeronautical Engineer kaise bane- All Details

Film Set Designer kaise bane|Set designing Course Details

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *