IAS Meaning in hindi

IAS Meaning in Hindi: आईएएस का मीनिंग, IAS kya hai, आईएएस कैसे बनें, योग्यता, सिलेबस, एग्जाम, सेलेक्शन प्रोसेस, आदि।

काफी युवाओं का सपना आईएएस बनने का होता है। हर साल लाखों की संख्या में उम्मीदवार IAS बनने के लिए UPSC exam (यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन एग्जाम) देते हैं। जिनमे से कुछ ही लोग चयनित होकर IAS Officer बन पाते हैं। आईएएस अधिकारी की पावर और उसके रौब- रुतबा को देखकर काफी युवा IAS बनने की ख्वाइस रखते हैं। इस तरह आप सभी लोग आईएएस शब्द से तो भलीभांति परिचित होंगे, लेकिन इसके मीनिंग को शायद नही जानते होंगे। चलिये हम आपको IAS का मीनिंग बताते हैं।

IAS Meaning in Hindi

आईएएस का फुल फॉर्म Indian Administrative Services होता है और इसका हिंदी में मीनिंग/ मतलब भारतीय प्रशासनिक सेवा होता है।

IAS Kya hai

भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) भारत सरकार की अखिल भारतीय सेवाओं की एक प्रशासनिक शाखा है। इसको भारत सरकार की प्रमुख केंद्रीय सिविल सेवा माना जाता है। आईएएस भारतीय पुलिस सेवा और भारतीय वन सेवा के साथ ही अखिल भारतीय सेवाओं की तीनों भुजाओं में से प्रमुख है।

इन तीनों सेवाओं के सदस्य भारत सरकार के साथ ही अलग-अलग राज्यों की सेवा करते हैं। IAS अधिकारियों को विभिन्न सरकारी संस्थानों जैसेकि संवैधानिक निकायों, सहायक निकायों, कर्मचारियों और लाइन एजेंसियों, सार्वजनिक क्षेत्र की इकाइयों, वैधानिक निकायों, नियामक निकायों, और स्वायत्त निकायों में भी तैनात किया जाता है।

IAS Officer kaise bane

आईएएस ऑफीसर बनने के लिए कैंडिडेट को किसी भी संकाय से ग्रेजुएट होना चाहिए। चाहें, उसने बीएससी, BA, बीकॉम, बीएससी नर्सिंग, BCA, BDS, BAMS, MBBS या अन्य कोई भी बैचलर डिग्री मान्यता प्राप्त संस्थान से हो, तो वे IAS का एग्जाम दे सकते हैं और इस एग्जाम को क्वालीफाई करके IAS Officer बन सकते हैं।

IAS banne ke liye Exam

आईएएस बनने के लिए संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) एग्जाम क्वालीफाई करना होता है। इस एग्जाम को सिविल सर्विसेज एग्जाम भी कहते हैं। यह भारत की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक है। जिसको कोई भी ग्रेजुएट उम्मीदवार दे सकता है।

IAS Exam Pattern

आईएएस बनने के लिए सिविल सर्विसेज एग्जाम जो UPSC के द्वारा आयोजित किया जाता है। ये तीन चरणों मे होता है। तीनों चरणों को सफलतापूर्वक पास करने वाले कैंडिडेट IAS के पद पर चयनित किये जाते हैं।

1: प्री एग्जाम
2: मेंस
3: इंटरव्यू

IAS Selection Process in Hindi

इसमे सबसे पहले एक प्रीलिम्स एग्जाम होता है। ये सिर्फ क्वालीफाईग नेचर का होता है। इसको सिर्फ आपको पास करना होता है। इसके अंक फाइनल मेरिट में नही जुड़ते हैं।

आईएएस एग्जाम का दूसरा चरण मेन्स एग्जाम होता है। इसमे जो लोग प्री एग्जाम पास करते हैं, सिर्फ वही लोग बैठते हैं।

इसका तीसरा स्टेप इंटरव्यू होता है। इस इंटरव्यू के लिए मेंस एग्जाम पास करने वाले कैंडिडेट को बुलाया जाता है।

तीनों परीक्षाओं में सफल होने के बाद कैंडिडेट के मार्क्स के अनुसार उसको रैंक प्रदान की जाती है। इसी रैंक के आधर पर IAS का चयन होता है।

What is an IAS job?

आईएएस की जॉब में आईएएस ऑफिसर को सरकार के मामलों को संभालना होता है जिसमें मसौदा तैयार करना, लागू करना और उसकी नीतियों की समीक्षा करना शामिल है। विभिन्न विभागों से सलाह- परामर्श करने और प्रतिनिधियों का चुनाव करने के लिए एक IAS Officer की आवश्यकता होती है। एक आईएएस अधिकारी सरकार के द्वारा संचालित सरकारी योजनाओं और नीतियों के कार्यान्वयन की निगरानी के लिए प्रमुख रूप से जिम्मेदार होता है।

What is IAS salary?

सातवें वेतन आयोग के अनुसार एक IAS Officer का मूल वेतन 56,100 रुपये होता है। वेतन के अलावा उसको को यात्रा भत्ता और महंगाई भत्ता सहित कई और अन्य भत्ते भी दिए जाते हैं। एक आईएएस अधिकारी का मूल प्रति माह 250000 वेतन रुपये तक हो जाता है।

What is IAS qualification?

IAS परीक्षा के लिए उम्मीदवार के पास किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री होनी चाहिए और उसकी उम्र कम से कम 21 साल और अधिकतम 32 साल होनी चाहिए।

Who is bigger IAS or collector?

जिला कलेक्टर किसी भी जिले में राजस्व विभाग का सर्वोच्च अधिकारी होता है। जिला मजिस्ट्रेट, जिसको अक्सर डीएम भी कहते हैं वो एक भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) अधिकारी होता है।

How many IAS are selected every year?

भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) में हर साल लगभग 180 उम्मीदवारों का चयन किया जाता है।

How many attempts are there for IAS?

IAS परीक्षा के लिए प्रयासों की संख्या की बात करें तो सामान्य श्रेणी के लिए 32 वर्ष की आयु तक 6 प्रयास। वंही ओबीसी के लिए IAS परीक्षा के लिए प्रयासों की संख्या 9 जोकि 35 वर्ष की आयु तक दे सकते हैं। इसके अलावा एससी/एसटी कैटेगरी के लिए IAS परीक्षा के लिए प्रयासों की संख्या असीमित और उम्र सीमा 37 बर्ष तक है।

Which subject is best for IAS?

इतिहास, राजनीति, अर्थशास्त्र, समाजशास्त्र में स्नातक डिग्री को यूपीएससी के लिए सबसे उपयुक्त विषय के तौर पर माना जाता है।

Who is India’s First IAS Officer

स्वंतत्र भारत मे सबसे पहले आईएएस अफसर Anna Rajam Malhotra थे।

IAS को पोस्ट कैसे मिलती है?

IAS का चयन UPSC के एग्‍जाम के रिजल्‍ट के अनुसार होता है। रैंकिंग के आधार पर उनको IAS, IPS या IFS की रैंक दी जाती है। टॉप रैंक पाने वालों को IAS पोस्ट की मिलती है, लेकिन कई बार टॉप रैंक पाने वाले लोगों का प्रेफरेंस IPS या IFS होता है तो इस स्थिति में निचली रैंक वालों को भी IAS की पोस्ट मिल जाती है। IAS के बाद के रैंक पाने वालों को IPS और IFS की पोस्ट मिलती है।

IAS और IPS दोनो में कौन ज्यादा पावरफुल होता है?

‌IAS और IPS की जिम्मेदारियां व उनकी पावर में काफी अंतर होता हैं। IAS अधिकारियों को कार्मिक व प्रशिक्षण विभाग, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय नियंत्रित करता है। वहीं IPS ऑफिसर बको केंद्रीय गृह मंत्रालय नियंत्रित करता है। IAS officer का वेतन IPS ऑफिसर की तुलना में कंही अधिक होता है। आपको बता दें कि एक क्षेत्र में केवल एक ही IAS अधिकारी होता है जबकि एक क्षेत्र में IPS अधिकारीआवश्यकता के अनुसार कई हो सकते हैं। कुल मिलाकर, IAS अफसर कार्यक्षेत्र, पद वेतन और अधिकार और पावर IPS अधिकारी से बेहतर होता है।

एक IAS जिलाधिकारी के रूप में काफी पावरफुल होता है। वहीं एक IPS ऑफीसर के पास केवल अपने ही विभाग की जिम्मेदारी होती है। एक आईएस ऑफिसर के पास में जिले के सभी विभाग की जिम्मेदारी होती है। वह जिला अधिकारी के रूप में पुलिस विभाग के साथ अन्य विभागों का भी मुखिया होता है।

डिस्ट्रिक्ट की पुलिस प्रशासन की जिम्मेदारी भी जिला अधिकारी की ही होती है। शहर में कर्फ्यू लगानां, धारा 144 इत्यादि लॉ एंड ऑर्डर, आदि से जुड़े सभी निर्णय डीएम यनकि IAS ही लेता है। भीड़ के द्वारा को गैरकानूनी काम करने पर कार्रवाई करने या फिर फायरिंग जैसे आर्डर भी ये दे सकता है। वहीं IPS ऑफीसर इस तरह का आर्डर नहीं दे सकता।इसके अलावा पुलिस ऑफिसर के तबादले के लिए भी DM या आईएएस ऑफिसर के अप्रूवल की आवश्यकता होती है।

IAS की सबसे ऊंची पोस्ट कौन सी होती है?

एक IAS के तौर पर IAS की सबसे टॉप पोस्ट सेक्रेटरी की होती है। भारत का यह सर्वोच्च पद है जिस पर सिर्फ एक IAS ऑफिसर ही नियुक्त किया जा सकता है। स्टेट में भी सब्सेबटॉप पोस्‍ट चीफ सेक्रेटरी की होती है जोकी एक IAS ऑफीसर ही होता है।

उम्मीद है IAS Meaning in Hindi ये आर्टिकल आपको पसंद आया होगा, क्योंकि इस आर्टिकल में मैंने IAS से जुड़ी सारी जानकारी दी है, जोकीं आपके लिए काफी यूजफुल साबित होगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published.