Lekhpal Kaise bane

Lekhpal Kaise bane: लेखपाल क्या होता है और लेखपाल कैसे बनें, चयन प्रक्रिया, योग्यता, एग्जाम, तैयारी कैसे करें? डिटेल में जानकारी।

अगर आप भी लेखपाल बनने का सपना देख रहे हैं तो आज के इस लेख में हम आपको डिटेल में बतायेंगे कि Lekhpal kaise bane। यंहा पर हम आपको लेखपाल बनने की सारी प्रक्रिया बताएंगे और साथ ही आप कैसे लेखपाल की तैयारी कर सकते हैं, इसके बारे में भी जानकारी मिलेगी। जिससे आप आसानी से लेखपाल बन सकते हैं। इस लेख में हम निम्न बिंदुओं पर चर्चा करेंगे।

1: लेखपाल कैसे बने?
2: लेखपाल के लिए आवश्यक योग्यता
3: लेखपाल के लिए उम्र सीमा
4: लेखपाल के लिए एग्जाम
5: लेखपाल की चयन प्रकिया
6: लेखपाल एग्जाम का परीक्षा पैटर्न
7: लेखपाल एग्जाम की तैयारी कैसे करें?

लेखपाल का पद राजस्व विभाग के अंतर्गत आने वाला प्रमुख पद है। लेखपाल को पटवारी भी कहा जाता है,। फिलहाल दोनों एक ही पद के नाम हैं। कुछ राज्यों में इसे आज भी पटवारी, पटेल, शान भोगरु कारनाम अधिकारी आदि के नाम से जाना जाता है। लेखपाल के अंतर्गत चकबंदी लेखपाल और राजस्व लेखपाल आते है।

Lekhpal Kaise bane

पहले लेखपाल बनने की ये प्रक्रिया थी कि कोई भी 12वीं पास उम्मीदवार इसमे आवेदन कर सकता था और लेखपाल की परीक्षा पास करके लेखपाल बन सकता था। लेकिन अब 2022 से नियम बदल गया है।

अब लेखपाल बनने के लिए कैंडिडेट को यूपीएससी के द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षा प्रारंभिक पात्रता परीक्षा (PET) में शामिल होना अनिवार्य है। यानिकि की वही कैंडिडेट लेखपाल के की नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं, जिन्होंने PET परीक्षा पास की होगी। इस परीक्षा को उम्मीदवार 12वीं के बाद दे सकते हैं।

इस तरह अब नए नियम के अनुसार लेखपाल बनने के लिए आवश्यक योग्यता किसी भी संकाय से 12वीं पास है और साथ ही उम्मीदवार ने PET परीक्षा भी पास की हो। इसके साथ ही कैंडिडेट ने कंप्यूटर में CCC कोर्स भी किया हो। तब लेखपाल की जॉब के लिए अप्लाई कर सकेंगे और लेखपाल बनने का सपना पूरा कर सकते हैं।

Lekhpal Bannne ke liye Age (लेखपाल बनने के लिए उम्र)

लेखपाल के पद पर आवेदन के लिए अभ्यर्थियों की आयु 18 से 40 साल के बीच में होनी चाहिए। हालांकि, सरकारी नियम के अनुसार आरक्षित कैटेगरी के अभ्यर्थियों को अधिकतम आयु सीमा में छूट देने का भी प्रावधान है।

SC/ST के उम्मीदवार को 5 साल की उम्र सीमा में छूट मिलती है।

ओबीसी के कैंडिडेट को 3 साल की छूट मिलती है।

Physically Handicapped को उम्र सीमा में 5 साल की छूट मिलती है।

Lekhpal Ki Salary

आधिकारिक अधिसूचना के अनुसार लेखपाल के पद पर चयनित होने वाले कैंडिडेट को ग्रेड पे 2000 और पे स्केल 5200 से 20,200 रुपये के हिसाब से सैलरी मिलती है।

इसके अलावा लेखपाल को महंगाई भत्ता, इंटरनेट सुविधा, टेलीफोन/मोबाइल कनेक्शन, यात्रा भत्ता और मकान किराया भत्ता भी मिलता है। इसके अलावा लेखपाल के पद पर कार्यरत कैंडिडेट को उत्तर प्रदेश की नई पेंशन योजना के तहत पेंशन और लेखपाल तथा उनके ऊपर आश्रित परिवारवालों को मेडिकल सुविधा का भी फायदा मिलता है।

Work of Lekhpal (लेखपाल के कार्य)

लेखपाल एक तरह से रेवेन्यू डिपार्टमेंट का एक अधिकारी होता है। लेखपाल का अधिकांश कार्यक्षे ग्रामीण क्षेत्रों में होता है। लेखपाल के पास एक या उससे अधिक ग्राम सभा होते है, इन गांव की भूमि की पूरी जानकारी लेखपाल पास होती है।

सभी लोगों की भूमि का पूरा लेखा-जोखा लेखपाल के पास होता है। जैसेकि किसके पास कितनी भूमि है और उस भूमि पर क्या क्या है, वो किस तरह की भूमि है, इस पर किसका नियंत्रण है, आदि की जानकारी लेखपाल रखते है।

लेखपाल को कृषि से संबंधित समस्याओं का समाधान भी करना होता है और किसानों के साथ में हमेशा कंधे से कंधा मिलाकर चलना पड़ता है। अगर किसान का कोई फसल में नुकसान होता है तो उसको भरपाई देना और अन्य समस्याओं का समाधान करना भी लेखपाल का कार्य है।

लेखपाल को आय प्रमाण पत्र बनाना और विकलांग पेंशन भरना इत्यादि कार्य भी करना होता है।

इसके साथ ही सर्वेक्षण करना, खेतों का निरीक्षण करना, आधिकारिक मानचित्रों को संशोधित करना, प्राकृतिक आपदाओं और कृषि संकट के दौरान किसानों की सहायता प्रदान करना जैसे कार्य करने होते हैं।

Lekhpal बनने के लिए एग्जाम

उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UPSSSC) के द्वारा लेखपाल की वैकेंसी जारी की जाती है और इसी के द्वारा लेखपाल की परीक्षा का आयोजन किया जाता है।

ये भी पढ़ें: Income Tax Officer kaise bane

Lekhpal Exam Pattern (लेखपाल एग्जाम की प्रक्रिया)

यूपी लेखपाल की परीक्षा में सामान्य हिंदी, गणित, सामान्य ज्ञान, ग्रामीण विकास और ग्रामीण समाज सहित 4 खंड होते हैं।

परीक्षा की अवधि 120 मिनट (2 घंटे) है।

प्रत्येक 1 अंक के लिए 100 प्रश्न होंगे।

प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 1/4 अंक की की नेगेटिव मार्किंग होती है।

Selection Process of Lekhpal (लेखपाल की चयन प्रक्रिया)

लेखपाल का चयन UPSSC के द्वारा लेखपाल के लिए आयोजित की जाने वाली परीक्षा की मेरिट के आधार पर होता है।

UP Lekhpal Exam में पूंछे जाने वाले सब्जेक्ट

General Hindi
Maths
General Knowledge
Rural Development and Rural Society

नोट: प्रत्येक सब्जेक्ट से 25- 25 प्रश्न पूंछे जाते हैं जोकीं 25-25 अंक के होते हैं। इस तरह से इस परीक्षा में कुल 100 प्रश्न पूंछे जाते हैं और ये 100 अंक के होते हैं।

ये भी पढ़ें: बैंक में कलर्क कैसे बनें

लेखपाल एग्जाम का सिलेबस (Lekhpal kaise bane)

General Hindi (सामान्य हिंदी)

रस
अलंकार
समास
पर्यायवाची
विलोम
तत्सम एवं तदभव
वाक्यांशों के लिए शब्द निर्माण
लोकोक्तियाँ एवं मुहावरे

Rural Development and Rural Society

ग्रामीण प्रशासन
राजस्व प्रशासन
ग्रामीण विकास के लिए योजना
भारतीय ग्रामीण समाज
ग्रामीण संस्थागत प्रणाली
ग्रामीण सामाजिक परिवर्तन
ग्रामीण रोजगार के स्रोत

General Science (सामान्य विज्ञान)

सामान्य विज्ञान
सामयिकी
भारतीय राजनीति
अर्थशास्त्र
भारतीय इतिहास
विश्व का भूगोल

Mathmatics (मैथमेटिक्स)

अंकगणित और सांख्यिकी
बीजगणित
ज्यामिति

UP Lekhpal Exam Fees (यूपी लेखपाल आवेदन शुल्क)

जैसा कि यूपी लेखपाल 2022 अधिसूचना में उल्लेख किया गया है, जो उम्मीदवार यूपी लेखपाल की परीक्षा के लिए आवेदन करने जा रहे हैं, उन्हें 25 रुपये का आवेदन शुल्क देना होगा।

प्रत्येक श्रेणी से संबंधित उम्मीदवारों के लिए आवेदन शुल्क समान है। शुल्क का भुगतान केवल डेबिट/क्रेडिट/नेट बैंकिंग या एसबीआई ई-चालान का उपयोग करके ऑनलाइन मोड से किया जा सकता है।

How Apply for Lekhpal Exam (लेखपाल के पद के लिए कैसे आवेदन करें)

यूपी लेखपाल भर्ती के लिए आवेदन करने के चरण निम्न हैं?

चरण 1: यूपीएसएसएससी की आधिकारिक वेबसाइट @ upsssc.gov.in पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। सबसे पहले UPSSC की साइट खोले।

चरण 2: “आयोग के विज्ञापन नंबर- 01-परीक्षा/2022, लागत लेखपाल मुख्य परीक्षा-(प्रा0अ0अ0प0-2021)/02 विज्ञापन विज्ञापन” खोजें।

चरण 3: उम्मीदवार पंजीकरण के लिए आगे बढ़ें।

चरण 4: UPSSSC राजस्थान लेखपाल भर्ती के लिए “लागू करें” पर क्लिक करें।

चरण 5: यदि आप एक नए उपयोगकर्ता हैं तो सबसे पहले अपना पंजीकरण पूरा करने के लिए आगे बढ़ें। सभी विवरण को सही से पढ़ें और घोषणा को स्वीकार करें।

चरण 6: अपना पंजीकरण पूरा करने के लिए उम्मीदवार अपनी व्यक्तिगत जानकारी, योग्यता विवरण आदि दर्ज करें।

चरण 7: ऑनलाइन आवेदन के लिए अबआगे बढ़ें और सभी दस्तावेज अपलोड करें।

चरण 8: शेष विवरण जमा करें और लागू शुल्क का अब भुगतान करें और अपनी आवेदन प्रक्रिया को पूरा करें।

चरण 9: भविष्य के संदर्भ के लिए यूपी लेखपाल आवेदन पत्र का प्रिंट निकाल कर रख लें।

अब आपको Lekhpal kaise bane इसके बारे में तो जानकारी मिल गई है, चलिये जान लेते हैं कि कैसे आप लेखपाल एग्जाम की तैयारी कर सकते हैं।

UP Lekhpal ki Taiyari kaise kare

लेखपाल की नौकरी के लिए लाखों कैंडिडेट आवेदन करते हैं। जिस वजह से कंपटीशन काफी हाई हो जाता है। ऐसे में हल्की फुल्की तैयारी करने से काम नही चलेगा। अगर आपको लेखपाल के एग्जाम सफलता हासिल करनी है, तो इसके लिए आपको एक रणनीति बनानी होगी।

परीक्षा के 6 से 8 महीने पहले से ही तैयारी शुरू कर दें। तैयारी के लिए आप किसी अच्छे कोचिंग संस्थान से कोचिंग करें। जिससे आपको प्रॉपर गाइडेंस मिल सकेगा और सभी सब्जेक्ट पर आपकीं पकड़ अच्छी होगी।

इसके साथ ही लेखपाल की पिछली परीक्षाओं में पूंछे गए प्रश्नों को हल करें और साथ ही प्रैक्टिस पेपर भी हल करें। इससे आपको अपनी तैयारी का स्तर पता चल जाएगा और आपका कॉन्फिडेंस भी बढ़ेगा। इसके साथ ही आप अपनी कमजोरियों को भी जान पाएंगे कि आप कंहा पर कमजोर हैं। जिससे आप उन कमजोरियों को दूर करके सफलता हासिल कर सकते हैं।

कुछ लोग इस भृम में रहते हैं कि लेखपाल के एग्जाम के 1से 2 महीने पहले इसकी तैयारी शुरू कर देंगे और एग्जाम पास कर लेंगे, तो आप इस तरह के भृम में न पड़े। एक दो महीने पढ़कर कुछ भी नही होने वाला। इसकी तैयारी में आपको 6 महीने से 1 साल तक का समय लग सकता है।

अगर आप कोचिंग नही जॉइन कर सकते तो आप किसी अच्छे प्रकाशन की पुस्तकों से तैयारी करें और साथ ही यूट्यूब से भी आप अच्छी तैयारी कर सकते हैं। पढ़ने का एक टाइम टेबल बनाएं और हर हालत में उस टाइम टेबल को फॉलो करें।

प्रतिदिन कम से कम 5 से 6 घंटे पढ़ाई करें और पढ़े गए टॉपिक को समय- समय पर रिवीजन भी करते रहें। इस तरह अगर आप तैयारी करेंगे तो आप आसानी से लेखपाल का एग्जाम पास कर सकेंगे।

लेखपाल बनने का पूरा प्रोसेस

1:सबसे पहले 12वीं पास करें
2: CCC कंप्यूटर सर्टिफिकेट हासिल करें
3: PET एग्जाम पास करें
4: लेखपाल एग्जाम के लिए आवेदन करें
5: लेखपाल एग्जाम पास करें।

लेखपाल का प्रमोशन

राज्य सरकारों द्वारा सही प्रकार से कार्य करने वाले लेखपाल को पदोन्नति का भी अवसर दिया जाता है। इसके लिए सर्विस बुक के रिमार्क को आधार बनाया जाता है जिसके आधार पर लेखपाल से रेवेन्यू इंस्पेक्टर भी बन सकते हैं।

उम्मीद है कि Lekhpal Kaise bane ये आर्टिकल आपको पसन्द आया होगा, क्योंकि इस आर्टिकल में मैंने लेखपाल बनने का सारा प्रोसेस बताया है। फिर भी अगर आपके कोई भी सवाल या सुझाव हैं तो आप कमेंट के माध्यम से पूँछ सकते हैं।

1 thought on “Lekhpal Kaise bane”

Leave a Comment