Marchent Navy me career kaise banaye- Course Details

Career in Merchant Navy- क्या आप मर्चेंट नेवी में कैरियर बनाना चाहते हैं। अगर आप मर्चेंट नेवी में कैरियर बनाना चाहते हैं, तो इस पोस्ट में हम आपको Merchant Navy me Career kaise banaye या मर्चेंट नेवी में कैसे जाएं। इस पोस्ट में हम Merchant Navy Course की सारी जानकारी देंगे। जिससे आप आसानी से मर्चेंट नेवी में Career बना सकेंगे।
इस पोस्ट में बताएंगे कि, Merchant Navy Course Fees कितनी होती है। Career के merchant navy में क्या ऑप्शन हैं। वर्तमान समय मे Marchent Navy me Career Scope क्या है। इसके साथ ही Merchant Navy best institute कौन से हैं। कंहा से इस कोर्स को करना चाहिए। इन सभी के बारे में हम इस आर्टिकल में बताएंगे।


Marchent Navy me Career Kaise banaye


मर्चेंट नेवी बहुत से युवाओं का पसंदीदा कोर्स है। Marchent navy में कई तरह के कार्य होते हैं। इन कार्य के लिए अलग-अलग प्रोफेशनल और एक्सपर्ट कर्मचारियों की जरूरत होती है। अगर आपको भी समुद्र की उठती लहरों में अपना कैरियर दिखाई देता है। आपको भी इस तरह का रोमांचक कैरियर पसन्द है, तो Marchent navy में आपके लिए द्वार खुले हैं। आप मर्चेंट नेवी की जिस भी डिपार्टमेंट में जाना चाहते हैं, उसी से रीलेटेड training लें या course करें। जिससे आपकी Marchent navy career की राह आसान हो जाएगी।


आमतौर पर मर्चेंट नेवी में निम्न विभाग में वैकेंसी निकलती रहती हैं। जिनमे नॉटिकल इंजीनियरिंग, डेक रेटिंग, डेक सैलून, केटरिंग मुख्य हैं। इसलिए मर्चेंट नेवी में जाने के लिए आप नॉटिकल इंजीनियरिंग, डिप्लोमा इन केटरिंग, डिप्लोमा इन डेक कैडेट्स, डिप्लोमा इन रेटिंग सैलून, इंजन रेटिंग जैसे कोर्स कर इस फील्ड में प्रवेश कर सकते हैं। 


Career Scope in Marchent navy


वर्तमान समय मे मर्चेंट नेवी में काफी ज्यादा कैरियर के ऑप्शन हैं और आप इस सेक्टर में शानदार कैरियर बना सकते हैं। आजके समय मे समुद्री व्यापार काफी ज्यादा होता है। इसी कारण Marchent navy में Career की अनेक संभावनाएं हैं। आप  मर्चेंट नेवी में पायलट, रेडियो ऑफिसर, इंजीनियर, केटर, डेक कैडेट, डेक सैलून आदि सेक्टर में कैरियर बना सकते हैं।


Career Option in Marchent Navy


नॉटिकल इंजीनियर
पायलट
रेडियो ऑफिसर
इलेक्ट्रिकल इंजीनियर
केटरिंग डिपार्टमेंट
डेक कैडेट
डेक सैलून
इंजन रेटिंग


Qualification for Career in Marchent navy

मर्चेंट नेवी में कैरियर के द्वार 10 वीं से ही खुल जाते हैं। मर्चेंट नेवी में 10वीं के बाद डिप्लोमा इन डेक कैडेट, डिप्लोमा इन रेटिंग सलून, डिप्लोमा इन केटरिंग जैसे कोर्स कर सकते हैं। इन कोर्स की अवधि 1 से 2 साल होती हैं। इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट और पायलट या कैप्टन बनने के लिए आप 12वीं पीसीएम सब्जेक्ट से पास हों। बीटेक इन नॉटिकल साइंस की अवधि 4 वर्ष होती हैं। बीएससी नॉटिकल इंजीनियरिंग कोर्स के लिए 12वीं पीसीएम होना आवश्यक है। ये course 3 साल का होता है।


Marchant navy kya hai


कुछ लोग मर्चेंट नेवी और नौसेना को एक ही समझते हैं। लेकिन ऐसा नही है। मर्चेंट नेवी और नौसेना दोनो ही अलग हैं। मर्चेंट नेवी  में समुद्री मार्ग से व्यापार किया जाता है। इसमे यात्री जहाज, मालवाहक जहाज, तेल रेफ्रेजरेटेड आते हैं। मर्चेन्ट नेवी का काम इनके संचालन से जुड़ा होता है। इसमे कई सारे विभाग काम करते हैं।
Nautical vibhag- यह विभाग डेक डिपार्टमेंट के तौर पर भी जाना जाता है। इसमे रेडियो कॉम्युनिकेशन के जरिये जहाजो का सुरक्षित परिवाहन सुनिश्चित किया जाता है। 
कार्गो- कार्गो सामान की लोडिंग और अनलोडिंग, यात्रियों की सुविधा का ध्यान रखते हैं।
Engineering departmant- इसके अंतर्गत जहाजो की सभी तकनीकी इकाइयों को उनकी क्षमता के साथ संचालन करने का जिम्मा इस डिपार्टमेंट पर होता है। इस विभाग में मुख्य कार्य जहाज, मशीनों (टर्बाइन, इंजन और कंट्रोल सिस्टम आदि) की टेस्टिंग और रिपेयरिंग करना होता है। इसमे 1st इंजीनियर, 2nd इंजीनियर, 3rd इंजीनियर, 4th इंजीनियर जैसे इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट के कई पद होते हैं।
Pilot-  पायलट जहाज की स्पीड और दिशा तय करते हैं।
Nautical surveyer- समुद्र के नक्शे और चार्ट तैयार करते हैं।
Catering department- केटरिंग डिपार्टमेंट जहाज में सवार लोगो के भोजन और आराम की व्यवस्था देखते हैं। साथ ही यात्रियों के कपड़े, लांड्री सेवा यही विभाग देखता है। हॉस्पिलिटी और केटरिंग में डिग्री, डिप्लोमा होल्डर को इस डिपार्टमेंट में नियुक्त किया जाता है।
इसके अलावा रेडियो इंजीनियर, इलेक्ट्रिकल ऑफिसर, नॉटिकल इंजीनियर आदि डिपार्टमेंट होते हैं।


Skills for Career in Marchent navy


यह फील्ड उन लोगो के लिए है, जो लोग फिजीकली और मेंटली फिट हैं। इस सेक्टर में काम करने वाले कर्मचारियों को हफ्ते, महीनों तक समुद्री यात्राये करनी होती हैं। यात्रा में आने वाली समस्याओं के लिए खुद को तैयार करना होता है। प्रभावी नेतृत्व और निर्णय लेने की क्षमता इस फील्ड की खास योग्यता है। इसके साथ ही टीम मैनजमेंट की भावना, लंबे समय तक टीम के साथ मिलजुलकर काम करने की क्षमता, अच्छी कॉम्युनिकेशन स्किल का होना आवश्यक है।

सैलेरी- 


इस सेक्टर में सैलरी काफी आकर्षक होती है। इसमे पदों के अनुसार सैलरी अलग- अलग होती है। मर्चेन्ट नेवी में 30 हजार से लाखों रुपए सैलेरी होती है। 


Course for career in marchent navy


बीटेक इन मरीन इंजीनियरिंग
बीटेक इन नेवल आर्किटेक्चर एंड शिप बिल्डिंग
बीएससी इन नॉटिकल साइंस
बीएससी इन मैरीटाइम साइंस
बीएससी शिप बिल्डिंग एंड रिपेरिंग
डिप्लोमा इन नॉटिकल साइंस
एमटेक इन मरीन इंजीनियरिंग
पीजी डिप्लोमा इन मरीन इंजीनियरिंग
पीजी डिप्लोमा इन  इकोनॉमिक्स एंड ऑपरेशन्स
एमबीए इन पोर्ट एंड शिपिंग मैनजमेंट
सर्टिफिकेट कोर्स इन रेटिंग सैलून
डिप्लोमा इन रेटिंग सैलून
सर्टिफिकेट कोर्स इन डेक कैडेट
डिप्लोमा इन डेक कैडेट्स
डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट एंड केटरिंग टेक्नोलॉजी
बीएससी इन होटल मैनेजमेंट एंड केटरिंग टेक्नोलॉजी
एमएससी इन होटल मैनेजमेंट एंड केटरिंग टेक्नोलॉजी


Best institute for marchent navy course


इंडियन मैरीटाइम यूनिवर्सिटी, चेन्नई 
कोचीन यूनिवर्सिटी ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी, केरल
इंस्टीट्यूट ऑफ मरीन इंजीनियर्स (इंडिया), मुंबई
ट्रेनिंग शिप चाणक्य, नवी मुंबई
मरीन इंजीनियरिंग एंड रिसर्च संस्थान, कोलकाता
लाल बहादुर शास्त्री कॉलेज ऑफ एडवांस मरीन टाइम स्टडीज एंड रिसर्च, मुंबई

Also Read

1 thought on “Marchent Navy me career kaise banaye- Course Details”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *