Mass Communication in Hindi

Mass Communication in Hindi: मास कॉम्युनिकेशन कोर्स क्या है, इसमे कैरियर कैसे बनाये? इसमे कैरियर स्कोप क्या है, कोर्स कंहा से करें, मास कम्युनिकेशन के लिए बेस्ट कॉलेज कौन से है, इसकी फीस कितनी होती है एंड इस कोर्स को करने के बाद जॉब कैसे मिलेगा, आदि के बारे में डिटेल में जानकारी।

अगर आप मास कम्युनिकेशन कोर्स (Mass Communication in Hindi) के बारे में डिटेल में जानकारी चाहते हैं, तो आप बिलकुल सही पोस्ट पढ़ रहे हैं, यंहा पर हम आपको इस कोर्स से जुड़ी सारी जानकारी देंगे। जिससे आपके इस कोर्स से सम्बंधित सारे डाउट दूर हो जाएंगे। इसके साथ ही हम आपको ये भी बताएंगे कि आपको मास कम्युनिकेशन कोर्स करना चाहिए या नही।

आजकल मास कम्युनिकेशन कोर्स की डिमांड काफी ज्यादा बढ़ गई है। इसलिए12वीं या ग्रेजुएशन के बाद बहुत से स्टूडेंट्स मास कॉम का कोर्स करके मीडिया जगत में करियर बनाना चाहते हैं। चलिये पहले मास कम्युनिकेशन क्या है, इसके बारे में जानते हैं?

Mass Communication in Hindi

मास कॉम्युनिकेशन को हिंदी में जनसंचार कहते हैं। यह एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमे कोई व्यक्ति या संगठन एक बड़े समूह तक विभिन्न प्रशारण माध्यम के जरिए संदेश भेजता है। जैसेकि टेलीविजन विजन के जरिये तमाम न्यूज़ चैनल्स खबरें एक साथ ही बहुत बड़ी संख्या के लोगों के बीच एक ही समय मे संदेश या खबरे भेजते हैं।

मास कम्युनिकेशन, कम्युनिकेशन के विभिन्न प्लेटफॉर्म जैसेकि टी.वी, रेडियो, अखबार, इंटरनेट, मैगजीन, वेबसाइटों आदि के ज़रिए दुनिया भर के लोगों के बीच जानकारी उपलब्ध कराना है।

इस तरह आप आप सोंच रहे होंगे कि मास कॉम्युनिकेशन कोर्स क्या होता है? तो हम आपको बता दें कि मास कम्युनिकेशन कोर्स में जनसंचार (Mass Communication) की टेक्निनिक्स के बारे में पढ़ाया जाता है। इस कोर्स में फिल्म, रेडियो, टीवी न्यूज चैनल, पब्लिक रिलेशन, एडवरटाइजिंग, न्यूज़ एंकरिंग, न्यूज़ रिपोर्टिंग, स्क्रिप्ट राइटिंग आदि के बारे में अध्धयन कराया जाता है। जिससे कि स्टूडेंट्स मास कम्युनिकेशन कोर्स करने के बाद में न्यूज़ चैनल्स, फ़िल्म और टीवी इंडस्ट्री, एडवरटाइजिंग व पब्लिक रिलेशन जैसे फील्ड में अपना कैरियर बना सकें।

पिछले कुछ सालों मे मास कम्युनिकेशन के फील्ड में तेजी से विस्तार हुआ है, जिस वजह से इस फील्ड में रोजगार के अवसर भी बढ़े हैं।
अगर आपको लिखना पसंद हैं, आपकी राइटिंग और प्रेजेंटेशन स्किल अच्छी है, आपको फैक्ट्स को अच्छे से पेश करना आता है, और आपकी कम्युनिकेशन में दम है, तो मास कम्युनिकेशन में आप अच्छा करियर बना सकते हैं

Mass Communication Me Career kaise banaye

इस फील्ड में कैरियर बनाने के लिए उम्मीदवार को मास कॉम्युनिकेशन में डिग्री या डिप्लोमा करने की जरूरत होती है। जिनको 12th या ग्रेजुएशन किसी भी स्ट्रीम से कर चुके कैंडिडेट कर सकते हैं। चलिये आपको बताते हैं कि आप कौन से मास कॉम्युनिकेशन के कोर्स 12th के बाद कर सकते हैं।

Mass Communication Course after 12th in hindi

बीजेएमसी
बीएमसी
डिप्लोमा इन मास कॉम्युनिकेशन
बीएससी मास कॉम्युनिकेशन

Mass Communication Course after Graduation

पीजी डिप्लोमा इन मास कॉम्युनिकेशन
एमजेएमसी
एमएमसी
एमएससी मास कॉम्युनिकेशन
एमसीएजे

Mass Communication Career Scope in Hindi

आज के समय मे मास कॉम्युनिकेशन एक ऐसा कोर्स है जिसमे कैरियर के अवसरों की कमी नही। ये कैरियर के अवसरों का भंडार है। वर्तमान में इस कोर्स की काफी ज्यादा लोकप्रियता बढ़ चुकी है, जिस वजह से तमाम स्टूडेंट्स का ये लोकप्रिय फील्ड है। जिस तरह से दिनोदिन जनसंख्या में इजाफा हो रहा है, उसी तरह सूचना को लोगों के बीच पहुचाने के लिए जनसंचार के साधन जैसेकि न्यूज़ चैनल्स, न्यूजपेपर, फिल्म्स व न्यूज़ पोर्टल्स व वेबसाइट अन्य मीडिया हाउस लांच हो रहे हैं, जंहा पर मास कॉम्युनिकेशन के डिग्री या डिप्लोमा होल्डर्स के लिए जॉब के अच्छे मौके होते हैं।

Job Areas after Mass Communication in Hindi

काफी स्टूडेंट्स जानना चाहते हैं कि मास कम्युनिकेशन कोर्स करने के बाद वे किन- किन क्षेत्रों में जॉब के सकते हैं, तो चलिए हम आपको बताते हैं कि Mass Communication कोर्स के बाद आप कंहा- कंहा जॉब के किये आवेदन कर सकते हैं।

फिल्म इंडस्ट्री
टीवी शो
न्यूज़ चैनल्स
समाचारपत्र
न्यूज़ पोर्टल (न्यूज़ वेबसाइट)
मीडिया और मार्किट रिसर्च
एड एजेंसी
मैगजीन
फ़िल्म स्क्रिप्ट राइटिंग
वीडियो एडिटिंग
फोटोग्राफी
जर्नलिज्म
पब्लिक रिलेशन
कारपोरेट कॉम्युनिकेशन
कंटेंट राइटिंग
सोशल मीडिया
पीआर एजेंसी
एड एजेंसी
रेडियो

Job Profile After Mass Communication in Hindi

अब आपको ये तो मालूम हो गया कि मास कम्युनिकेशन कोर्स के बाद आप कंहा- कंहा जॉब कर सकते हैं, चलिये अब जानते हैं कि आप किन- किन पदों पर इस कोर्स के बाद जॉब कर सकते हैं।

न्यूज़ चैनल में एंकर
न्यूज़ चैनल में रिपोर्टर
न्यूज़ चैनल में वीडियो एडिटर
न्यूज़ चैनल में कैमरामैन
न्यूज़पेपर में रिपोर्टर
न्यूज़पेपर में फ़ोटो जॉर्नलिस्ट
न्यूज़ पोर्टल्स में रिपोर्टर
न्यूज़ पोर्टल्स में कंटेंट राइटर
मैगजीन में रिपोर्टर एंड फ़ोटो जर्नलिस्ट
फिल्म और टीवी सीरियल में असिस्टेंट डायरेक्टर
फिल्म और टीवी सीरियल में आर्ट डायरेक्टर
फिल्म एंड टीवी सीरियल में सिनेमेटोग्राफर
फिल्म एंड टीवी सीरियल प्रोडक्शन होउस में वीडियो एडिटर
फिल्म टीवी सीरियल में स्क्रीनप्ले और स्क्रिप्ट राइटर
फ़िल्म और टीवी सीरियल में साउंड इंजीनियर
फिल्म और टीवी सीरियल प्रोडक्शन हाउस में कास्टिंग डायरेक्टर
फिल्म और टीवी सीरियल में प्रोडक्शन मैनेजर
पब्लिक रिलेशन ऑफिसर
मार्किट रिसर्चर
कारपोरेट कॉम्युनिकेटर
कस्टमर रिलेशनशिप मैनेजर
एड एजेंसियों में क्रिएटिव राइटर
कार्टूनिस्ट
वेबसाइटों में कंटेंट राइटर
रेडियो जॉकी

Mass Communication Course Fees in Hindi

इस कोर्स की फीस अलग- अलग संस्थानों में अलग- अलग होती है। अगर आप प्राइवेट कॉलेज से इसको करते हैं तो आपको काफी ज्यादा फीस चुकानी पड़ सकती हैं। वंही गवर्नमेंट कॉलेजों में फीस बहुत ही कम होती है। आमतौर पर इसकी औसत फीस 10 हजार से एक लाख प्रतिबर्ष के बीच होती है।

Mass Commumication course कंहा से नही करना चाहिए।

आज के समय मे मास कम्युनिकेशन के कॉलेजों की भरमार सी है, लेकिन आप बिना सोंचे समझे किसी भी कॉलेज में एडमिशन न लें। जिस कॉलेज का प्लेसमेंट अच्छा हो और उसमें प्रैक्टिकल के लिए प्रॉपर लैब हो, जंहा से Mass Communication किये हुए स्टूडेंट्स अच्छे मीडिया हाउस में जॉब कर रहे हों, आपको उसमे एडमिशन लेना चाहिए। वैसे बहुत से ऐसे कॉलेज हैं, जंहा से मास कॉम्युनिकेशन करने के बाद आपको सिर्फ डिग्री ही हांथ लगती है, जॉब नही, तो ऐसे।कॉलेजों से बिल्कुल भी ये कोर्स न करें।

Mass Communication के बाद जॉब कैसे मिलेगी।

जब आप इस कोर्स को करते हैं तो फाइनल ईयर में आपको इंटर्नशिप करती है तो इंटर्नशिप के दौरान इस बात का ध्यान दें कि आपको जिस भी फील्ड में जाना हो उसी में इंटर्नशिप करें, जैसेकि रेडिओ, न्यूज़ चैनल्स, फिल्मस, वीडियो एडीटिंग, पब्लिक रिलेशन, एडवरटाइजिंग इनमे से जिस फील्ड में जाना हो उसमे ही इंटर्नशिप करें।

काफी लोगों को इंटर्नशीप के दौरान ही मीडिया हाउस में जॉब मिल जाती है, इसलिए इंटर्नशिप मेहनत, ईमानदारी और लगन से करें। अगर आप अपने काम से सेनिअर्स को प्रभावित कर लेते हैं तो आपको इंटर्नशिप से ही उस कंपनी में जॉब मिल जाती हैं, जंहा पर आप इंटर्नशिप करते हैं।

इंटर्नशिप करने के बाद में आपको जिस फील्ड में जाना हो, उसमे आप जॉब के लिए आवेदन करें और इंटरव्यू दें। इस तरह से आप मास कॉम्युनिकेशन के बाद जॉब हासिल कर सकते हैं।

Mass Communication करना है तो इन बातों का रखें, ध्यान-

मास कॉम्युनिकेशन करते समय इस बात का ध्यान रखें कि आपको मीडिया के जिस भी फील्ड में जाना हो, उस पर ज्यादा फोकस करें। जैसेकि अगर आप मास कॉम्युनिकेशन के बाद न्यूज़ चैनल में न्यूज़ एंकर बनना चाहते हैं तो आप कोर्स के दौरान न्यूज़ एंकरिंग पर ज्यादा से ज्यादा फोकस करें। न्यूज़ एंकरिंग से संबंधित ज्यादा अपने नॉलेज को बढ़ाये। जिससे कोर्स के बाद आपको आसानी से जॉब मिल सके। हो सके उस फील्ड में जॉब करने वाले लोगों से संपर्क बढ़ाएं।

ज्यादा सस्ते प्राइवेट मास कॉम्युनिकेशन कॉलेज से कोर्स न करें।

प्रतिष्ठित मीडिया कॉलेज से ही मास कॉम करें।

आपको मास कॉम्युनिकेशन के जिस फील्ड में जाना हो, उससे संबंधित स्किल्स को अपने।अंदर डेवलप करें।

Best Mass Communication Communication College in Hindi

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कॉम्युनिकेशन दिल्ली

जामिया मिलिया इस्लामिया दिल्ली

दिल्ली यूनिवर्सिटी

माखनलाल चतुर्वेदी यूनिवर्सिटी भोपाल

बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी बनारस

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी अलीगढ़

सिम्बोइसिस इंस्टीट्यूट ऑफ कम्युनिकेशन पुणे

दिल्ली यूनिवर्सिटी

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी

मणिपाल यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ कम्युनिकेशन मणिपाल

कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी

गुरुगोविंदसिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी दिल्ली

हैदराबाद यूनिवर्सिटी

गुरुघासीदास यूनिवर्सिटी बिलासपुर

उम्मीद है Mass Communication in Hindi ये लेख आपको पसंद आया होगा, क्योंकि इस आर्टिकल में मैंने इस कोर्स से संबंधित सारी जानकारी दी है, जोकीं आपके लिए काफी यूजफुल साबित होगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published.