Polytechnic kya hai- इसको कैसे करें

What is Polytechnic in Hindi- आज की इस पोस्ट में हम पॉलीटेक्निक के बारे में बताएंगे कि Polytechnic kya hai और Polytechnic kaise kare। अगर आप पॉलीटेक्निक करना चाहते हैं, तो हम आपको इससे जुड़ी हर जानकरी इस आर्टिकल में देंगे।

ये आर्टिकल उन स्टूडेंडस के लिए बेहद ज्ञानबर्धक होगा, जो पॉलीटेक्निक कोर्स करके एक बेहतरीन जॉब करना चाहते हैं। जो कैंडिडेट 10वीं और 12वीं के बाद कोई ऐसा कोर्स करना चाहते हैं, जिसको करने के तुरंत बाद ही एक अच्छी जॉब मिल जाये तो इस पोस्ट में ये सारी जानकारी यंहा पर डिटेल में मिलेगी। इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद में पॉलीटेक्निक से जुड़े हर प्रश्न के जबाब मिल।जॉएँगे। जिससे कि आप ये डिसाइड कर पाएंगे कि ये Course करना आपके लिए फायदेमंद होगा या नही।

पॉलिटेक्निक कोर्स काफी स्टूडेंडस करना चाहते हैं। क्योंकि इसकी माँग बहुत तेजी से बढ़ी है। इसके प्रति आकर्षण कारण ये है कि कम समय में ये हो जाती हैं, करियर और जॉब ओरिएंटेड इसमे Course होते है। इसमे बहुत सारे कोर्स उपलब्ध होते हैं। जोकीं छात्रों को अपनी दिलचस्पी वाले सब्जेक्ट पढ़ने का मौका देती हैं। पॉलीटेक्निक ऐसे कोर्स को सम्मिलित किया गया है, जिनका स्कोप भी काफी अच्छा है। जिस वजह से इसमे Career की ग्रोथ भी है।

पॉलीटेक्निक में ऐसे कोर्स सम्मिलित किये गए हैं, जिनका मुख्य उद्देश्य छात्रों को कोर्स से संबंधित थेरोटिकल और प्रैक्टिकल जानकारी सही से देना होता है। उस फील्ड में जॉब के लिए जिन स्किल्स की जरूरत होती हैं, वे स्किल्स स्टूडेंडस में डेवलप की जाती हैं। जिससे कि स्टूडेंडस को कोर्स करने के बाद में तुरंत आसानी से जॉब मिल सके। चलिये सबसे पहले हम आपको Polytechnic kya hota hai इसके बारे में डिटेल में बताते हैं।

Polytechnic Kya hai

पॉलिटेक्निक शब्द का उपयोग आमतौर पर ऐसे कॉलेजों के लिए किया जाता है, जो प्रौद्योगिकी संस्थान या व्यावसायिक कॉलेज या यूनिवर्सिटी के रूप में अर्हता प्राप्त करते हैं। इन कॉलेज में टेक्निकल कोर्स और व्यावसायिक कोर्सेज की शिक्षा दी जाती है। जैसेकि इंजीनियरिंग में डिप्लोमा ये टेक्निकल कोर्सव हैं। इसके अलावा फैशन डिजाइनिंग, मास कम्युनिकेशन, वेब डिजाइनिंग, ब्यूटीशियन आदि इसमे व्यावसायिक और प्रोफेशनल डिप्लोमा कोर्स भी उपलब्ध होते हैं। इस तरह से ऐसे college पॉलिटेक्निक कॉलेज कहलाते हैं।

पॉलिटेक्निक में डिप्लोमा कोर्स होते हैं। जिनको 10th और 12वीं के बाद किया जा सकता है। इसमे इंजीनियरिंग काफी ज्यादा ब्रांच होती है। इसलिए जो लोग इंजीनियरिंग में डिप्लोमा कोर्स करके इंजीनियर बनना चाहते हैं, उनके लिए पॉलीटेक्निक बहुत ही अच्छा कोर्स है।

Related Post

जो कैंडिडेट इंजीनियरिंग कोर्स नही करना चाहते हैं, या फिर आर्ट्स सब्जेक्ट के साथ मे 10th या 12th किया है, तो ऐसे कैंडिडेट के लिए ऐसे भी प्रोफेनल और वोकेशनल कोर्स उपलब्ध हैं।

इतना ही नही जो कैंडिडेट बीए, बीएससी या बीकाम या अन्य बैचलर डिग्री कोर्स कर चुके हैं, तो ऐसे लोग पॉलीटेक्निक के माध्यम से पीजी डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं। जैसेकि पीजी डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लिकेशन, पीजी डिप्लोमा इन एडवरटाइजिंग एंड पब्लिक रिलेशन और भी अन्य पीजी लेवल के कोर्स उपलब्ध हैं। आगे आर्टिकल में मैं आपको पॉलीटेक्निक के सारे कोर्सेज के बारे में भी बताऊंगा।

Polytechnic Kaise kare

वही कैंडिडेट पॉलीटेक्निक की पढ़ाई कर सकते हैं, जिन्होंने 10वीं या 12वीं की पढ़ाई किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से की है। अगर आप इसमे Engineering की पढ़ाई करना चाहते हैं, तो साइंस स्ट्रीम से 10 पास होना चाहिए। वंही अगर 12वीं के बाद में पॉलिटेक्निक के जरिये इंजीनियरिंग कोर्स करना चाहते हैं तो कैंडिडेट को 12th फिजीक्स, केमेस्ट्री और मैथ सब्जेक्ट से पास होना चाहिए।

इसमे इंजीनियरिंग की कुछ ऐसी भी ब्रांच होती है, जिनमें 12वीं के स्टूडेंडस लेटरल एंट्री पा सकते हैं, यानिकि उनको 1 साल की कोर्स में छूट मिल जाती है। जिससे कि Engineering डिप्लोमा 3 साल की बजाय 2 साल ही करना होगा। पॉलिटेक्निक में इंजीनियरिंग डिप्लोमा ग्रुप A में आते हैं। इसलिए अगर आपको इंजिनीरिंग करना है तो आप पॉलीटेक्निक का ग्रुप A से ही फॉर्म भरें।

अगर कोई भी कैंडिडेट पॉलिटेक्निक के माध्यम से D Pharma करना चाहता है तो इसके लिए कैंडिडेट को पीसीबी या पीसीएम ग्रुप से 12th पास होना चाहिए। डिप्लोमा इन फार्मेसी ग्रुप E में आता है। इसलिए फॉर्म भरने के दौरान डी फार्मा करने वाले स्टूडेंडस ग्रुप E चूज करें।

ग्रुप C और D में ऐसे कोरस आते हैं, जोकीं आर्ट्स स्ट्रीम और साइंस स्ट्रीम दोनो तरह के स्टूडेंडस कर सकते हैं। इसमे फैशन डिजाइनिंग, कॉस्ट्यूम डिजाइनिंग, गारमेंट टेक्नोलॉजी जैसे वोकेशनल और प्रोफेनल कोर्स आते हैं। इस तरह से और भी अनेक कोर्स पॉलीटेक्निक में उपलब्ध हैं, इन सारे कोर्स की लिस्ट मैं इस पोस्ट में दे दूंगा आप अपनी चॉइस के हिसाब से किसी भी ग्रुप में फॉर्म भरकर अप्लाई कर सकते हैं।

जो कैंडिडेट 10th या 12th की पढ़ाई कर रहे हैं, ऐसे स्टूडेंडस भी पॉलीटेक्निक में फॉर्म भर सकते हैं और एग्जाम दे सकते हैं। अगर एग्जाम पास कर लिया तो जब आप 10th या 12th का रिजल्ट आ जायेगा तो आपको एडमिशन मिल जाएगा।

Polytechnic Course me Admission kaise hota hai

पॉलीटेक्निक कॉलेज में एडमिशन के लिए कैंडिडेट को पॉलीटेक्निक का Entrance एग्जाम क्वालीफाई करना होता है। इसके बा परीक्षा में बैठने वाले सभी क्वालीफाई कैंडिडेट की एक मेरिट लिस्ट बनती है। इस मेरिट लिस्ट के हिसाब से कैंडिडेट को रैंक जारी की जाती है। इसके बाद में रैंक के आधार पर गवर्नमेंट Polytechnic College में प्रवेश मिलता है।

Polytechnic Course Fees

पॉलीटेक्निक की फीस बहुत ही कम होती है। और इसमे कोर्स बहुत ही अच्छे- अच्छे उपलब्ध हैं। कम फ़ीस की वजह से काफी ज्यादा लोग पॉलीटेक्निक करना चाहते हैं। अगर यही कोर्स प्राइवेट कॉलेज से करते हो तो 40 हजार से लेकर 70 हजार रुपये तक प्रतिबर्ष फीस देनी पड़ेगी। वंही सरकारी पॉलीटेक्निक कॉलेज में मात्र 10 से 15 हजार प्रतिबर्ष में ही कोर्स कर सकते हैं।

जिन स्टूडेंडस की पॉलीटेक्निक एंट्रेंस एग्जाम में रैंक अच्छी नही आती है तो ऐसे स्टूडेंडस को प्राइवेट कॉलेज में ही एडमिशन मिल सकता है। प्राइवेट कॉलेज गवर्नमेंट की तुलना में इतने अच्छे नही होते हैं। उनका मकसद पैसे कमाना होता है गवर्नमेंट कॉलेज का मकसद आपको अच्छी शिक्षा प्रदान करना होता है।

Polytechnic Exam ki तैयारी कैसे करें?

पॉलीटेक्निक में एडमिशन मिलना थोड़ा मुश्किल हो जाता है, वो इसलिए क्योंकि आपकी जब इसके एग्जाम में अच्छे मार्क्स नही आते हैं। अगर आपको इसके एग्जाम में अच्छे मार्क्स लाना है तो आपको मेहनत से तैयारी करनी होगी।

मान लीजिए अगर आप पॉलीटेक्निक से इंजीनियरिंग में डिप्लोमा कोर्स करना चाहते हैं तो आप पॉलीटेक्निक के एग्जाम की तैयारी करने के लिए क्लास 5 से लेकर 10 तक कि मैथ और साइंस की बुक्स पढ़नी हैं। इसके एग्जाम में बेसिक लेवल के क्वेश्चन ही आते है। इस तरह क्लास 5 से 10 की बुक्स काफी है। बस मैथ और साइंस में अच्छी पकड़ बनाये रखें।

रोजाना 2 से 3 घंटे कम से कम जरूर पढ़ें। ऐसा न करें कि एक दिन तो 5 घंटे पढ़ लें और फिर कई हप्ते तक किताबे छूते भी नही। आपको रेगुलर पढ़ना चाहिए और जो भी पढ़े उसका हफ्ते में एक बार रिविजन भी करिण। जिससे कि याद की हुई चीजें ज्यादा दिनों तक याद रहेंगी। दूसरी बात ये है कि क्वेश्चन के कांसेप्ट को समझें, रट्टा न लगाएं।

पॉलीटेक्निक के एग्जाम की तैयारी करने के लिए ये भी जरूरी है कि सबसे पहले आप इसके सिलेबस को समझें, कि किस टॉपिक से कितने और किस तरह के क्वेश्चन आते है। बहुत से लोग ये करते है, कि सिलेबस की तरफ ध्यान नही देते हैं, बस मेहनत से पढ़ाई करते जाते हैं, जिसका नतीजा ये होता है कि पढ़ाई तो काफी की लेकिन आपने उन टॉपिक को नही पढ़ा या पढ़ा तो कम पढा, जिसकी वजह से आपका पॉलीटेक्निक में सेलेक्शन नही हो पाता है।

गधे की तरह आपको मेहता नही करनी है। आपको स्मार्ट तरीके से तैयारी करनी है। सबसे पहले पॉलीटेक्निक एंट्रेन्स एग्जाम का सिलेबस देखें, बस इसके बाद उन्ही टॉपिक को पढ़ें। जिससे आपको तैयारी करने में मदद मिलेगी। काफी लोग ऐसे भी देखे हैं, जोकीं एग्जाम आने के 1 से 2 महीने पहले ही तैयारी करते हैं। आपको ऐसा नही करना है।

अगर आपको पॉलीटेक्निक करना है तो 10वीं या 12वीं के साथ ही इसकी भी 1 से 2 घंटे का टाइम निकालकर तैयारी करें। हाई स्कूल लेवल का ये एग्जाम होता है तो बहुत से क्वेश्चन आपके 10th क्लास के ही इसमे आ जाते हैं। अगर पूरे साल 1 से 2 घन्टे में एक्स्ट्रा टाइम निकालकर तैयारी करेंगे तो भी आप आसानी से इसमे एडमिशन पा सकते हैं।

Polytechnic Entrance Exam सिलेबस

अगर आप पॉलीटेक्निक में इंजीनियरिंग डिप्लोमा करना चाहते हैं तो इसके एंट्रेंस एग्जाम में मैथ और साइंस सब्जेक्ट से क्वेश्चन आते हैं। अगर एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग करना चाहते हैं तो मैथ, साइंस और एग्रीकल्चर सब्जेक्ट से क्वेश्चन आते हैं।

वंही अगर फैशन डिजाइनिंग, होटल मैनेजमेंट या अन्य ग्रुप कि और D से संबंधित कोर्स करना चाहते हैं तो उसमें हिंदी एंड इंग्लिश, रीजनिंग, जनरल अवेयरनेस सब्जेक्ट से क्वेश्चन आते है। इस तरह से आप जिस बहु ग्रुप से पॉलीटेक्निक करना चाहे उसका सिलेबस यूपी पॉलीटेक्निक की वेबसाइट पर मिल जायेगा। जिससे कि आपको एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी करने में मदद मिलेगी।

Polytechnic Karne ke Fayde

पॉलीटेक्निक करने के काफी फायदे हैं। जोकीं निम्न हैं।

इसकी फ़ीस बहुत ही कम होती है। जिससे कि आप बहुत ही कम फ़ीस में टेक्निकल, वोकेशनल और प्रोफेशनल कोर्स कर सकते हैं।

इसमे नौकरी के भी अच्छे अवसर होते हैं। अगर आपने गवर्नमेंट पॉलिटेक्निक कॉलेज से कोर्स किया है तो आपको आसानी से नौकरी मिल सकती हैं।

आप 10वीं या 12वी के बाद पॉलीटेक्निक करके जल्द से जल्द नौकरी पा सकते हैं।

पॉलीटेक्निक कोर्स की ड्यूरेशन भी कम होती है। कम समय मे आप नौकरी के लायक हो जाते हैं।

पॉलीटेक्निक करके आपको एक अच्छी जॉब।मिल जाती है।

पॉलीटेक्निक में रोजगारपरक कोर्स होते हैं। जिनका आज के समय मे काफी अच्छा महत्व है।

पॉलीटेक्निक में इंजीनियरिंग डिप्लोमा करके अगर आप बीटेक करना चाहें तो सेकेंड एअर में एडमिशन हो जाता है।

पॉलीटेक्निक में टेक्निकल, वोकेशन और प्रोफेसनल व स्किल डेवलोपमेन्ट से संबंधित कोर्स को सम्मिलित किया गया है। जोकीं आपको जॉब दिलाने में मदद करती हैं।

पॉलीटेक्निक कोर्स की काफी डिमांड भी है।

Polytechnic Me Career Scope kya hai

पॉलीटेक्निक के अंतर्गत ऐसे कोर्स कराए जाते हैं, जोकीं कैंडिडेट को जॉब दिलाने में सहायक होते हैं। जिससे कि युवाओं को जल्द से जल्द जॉब मिल सके। स्टूडेंडस कि बेरोजगारी दूर हो। इसमे इंजीनियरिंग कोर्स करके आप एक इंजीनियर बन सकते हैं। जिसमे कि काफी अच्छा कैरियर स्कोप भी है।

पॉलीटेक्निक के माध्यम से आप मास कॉम्युनिकेशन में डिप्लोमा कोर्स भी कर सकते हैं। जिसके माध्यम से आप मीडिया और फ़िल्म इंडस्ट्री और पत्रकारिता के फील्ड में जॉब कर सकते हैं। आजकल मीडिया और फ़िल्म इंडस्ट्री में काफी स्कोप भी है।

आज के समय मे फैशन का बोलबाला है। इसलिए आप पॉलीटेक्निक के माध्यम से फैशन डिजाइनिंग कोर्स करके फैशन डिज़ाइनर भी बन सकते हैं।

वर्तमान समय मे होटल मैनेजमेंट और ट्रैवेल एंड टूरिज्म के सेक्टर में भी ब्राइट कैरियर के ऑप्शन मौजूद हैं। ये कोर्स भी आप पॉलीटेक्निक के माध्यम से भी कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें:

एक्टर या एक्ट्रेस कैसे बनें

एमसीए में कैरियर कैसे बनाये

बीसीए में करियर कैसे बनाये

डॉक्टर कैसे बनें

एयरहोस्टेस कैसे बनें

फार्मेसी में कैरियर कैसे बनायें

12वीं के बाद आर्ट्स के स्टूडेंट्स क्या करें

एरोनॉटिकल इंजीनियर कैसे बनें

बीकॉम में कैरियर कैसे बनायें

सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बने

फेसबुक से पैसे कैसे कमाएं

फैशन डिज़ाइनर कैसे बनें

फिल्म डायरेक्टर कैसे बनें

फिल्म सिनेमेटोग्राफर कैसे बनें

टीवी न्यूज एंकर कैसे बनें

टीवी न्यूज़ रिपोर्टर कैसे बनें

अब आपको Polytechnic Kya hai और Polytechnic kaise kare इसके बारे में सम्पूर्ण जानकारी मिल गई है। चलिये अब हम आपको बता देते हैं कि आप पॉलीटेक्निक के माध्यम से कौन- कौन से कोर्स कर सकते हैं।

पॉलिटेक्निक ग्रुप A कोर्स

CHEMICAL ENGINEERING

FERTILIZER ENGINEERING

CIVIL ENGINEERING

COMPUTER SCIENCE AND ENGINEERING

ARCHITECTURAL ASSISTANTSHIP

DAIRY ENGINEERING

DIPLOMA IN TOOL AND MOULD MAKING

DIPLOMA IN PLASTIC MOULD TECHNOLOGY

ELECTRICAL AND ELECTRONICS ENGINEERING

ELECTRICAL ENGINEERING

FOOD TECHNOLOGY

INFORMATION TECHNOLOGY

GLASS AND CERAMIC ENGINEERING

LEATHER TECHNOLOGY

INTERIOR DESIGN AND DECORATION

MECHANICAL ENGINEERING

PAINT TECHNOLOGY

MINING ENGINEERING

PRINTING TECHNOLOGY

TEXTILE ENGINEERING

ग्रुप B कोर्स

AGRICULTURE ENGINEERING

ग्रुप C एंड D कोर्स

FASHION DESIGNING & GARMENT TECHNOLOGY

TEXTILE DESIGN

COUSTUME DESIGN AND GARMENT TECHNOLOGY

LIBRARY AND INFORMATION SCIENCE

MODERN OFFICE MANAGEMENT AND SECRETERIAL PRACTICE

ग्रुप E Course

DIPLOMA IN PHARMACY

ग्रुप G कोर्स

P G DIPLOMA IN ACCOUNTACY

P G DIPLOMA IN COMPUTER HARDWARE & NETWORKING

P G DIPLOMA IN CUSTOMER SERVICE MANAGEMENT

P G DIPLOMA IN HOME SCIENCE

P G DIPLOMA IN MASS COMMUNICATION

P G DIPLOMA IN RETAIL MANAGEMENT

P G DIPLOMA IN WEB DESIGNING

P.G.DIPLOMA IN ADVERTISING AND PUBLIC RELATION

P.G.DIPLOMA IN BEAUTY AND HEALTH CARE

P.G.DIPLOMA IN FASHION TECHNOLOGY

P.G.DIPLOMA IN COMPUTER APPLICATION

P.G.DIPLOMA IN MARKETING AND SALES MANAGEMENT

P.G.DIPLOMA IN TOURISM AND TRAVEL MANAGEMENT

P.G.DIPLOMA IN TEXTILE DESIGN

ग्रुप H कोर्स

DIPLOMA IN HOTEL MANAGEMENT AND CATERING TECHNOLOGY

ग्रुप I कोर्स

DIPLOMA IN AIRCRAFT MAINTENANCE ENGINEERING

ग्रुप K1 कोर्स

CIVIL ENGINEERING

ग्रुप K2 कोर्स

ELECTRICAL AND ELECTRONICS ENGINEERING

ग्रुप K3 कोर्स

ELECTRONICS ENGINEERING

ग्रुप K4 कोर्स

MECHANICAL ENGINEERING

ग्रुप k5 कोर्स

COMPUTER SCIENCE AND ENGINEERING

ग्रुप K6 कोर्स

PRINTING TECHNOLOGY

ग्रुप K7 कोर्स

TEXTILE TECHNOLOGY

पॉलीटेक्निक से संबंधित पूंछे जाने वाले प्रश्न

पॉलीटेक्निक में कौन- कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

पॉलीटेक्निक में हर कोर्स में अलग- अलग कोर्स होते हैं। जैसेकि अगर आप इंजीनियरिंग में डिप्लोमा कर रहे हैं तो इसमे आपको इंजीनियरिंग से सम्बंधित सब्जेक्ट पढ़ने होते हैं और अगर आप फैशन डिजाइनिंग कोर्स कर रहे हैं तो आपको इससे संबंधित सब्जेक्ट पढ़ने होते हैं हर कोर्स में अलग-अलग सब्जेक्ट होते हैं।

पॉलिटेक्निक में क्या क्या पढ़ना पड़ता है?

जैसी कि मैं आपको पहले ही बता चुका हूँ, आप जो कोर्सव कर रहे हैं, उसी से संबंधित आपको सब्जेक्ट पढ़ने होते हैं।

पॉलिटेक्निक में कितनी फीस लगती है?

इसकी फ़ीस 10 से 15 हजार रुपये बार्षिक होती है। प्राइवेट संस्थान में लाखों रुपए फ़ीस हो सकती है।

पॉलिटेक्निक में कितनी सैलरी मिलती है?

इस कोर्स के बाद में शुरुआत में सैलरी 10 से 15 हजार के बीच मे मिलती है, जोकीं अनुभव बढ़ने के साथ मे बढ़ती जाती है। अच्छा अनुभव होने के बाद में 70 हजार से लेकर 1 लाख तक सैलरी मिल सकती है।

मैं 12 वीं के बाद पॉलिटेक्निक कर सकते हैं

हां पॉलीटेक्निक को आप 12th के बाद भी कर सकते हैं।

पॉलिटेक्निक करने के फायदे

पॉलीटेक्निक करने के फायदे के बारे में मैं आपको पहले ही इस आर्टिकल में बता चुका हूँ।

पॉलिटेक्निक कोर्स लिस्ट in english

पॉलीटेक्निक के कोर्स की लिस्ट भी मैं इस आर्टिकल में आपको ग्रुप की डिटेल के साथ मे बता चुका हूं।

पॉलिटेक्निक फार्मेसी क्या है।

पॉलीटेक्निक में आप फार्मेसी में डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं। जिसको D Pharma कहते हैं।

ग्रेजयेशन के बाद में पॉलीटेक्निक में कौन- कौन से कोर्स किये जा सकते हैं?

P G DIPLOMA IN ACCOUNTACY

P G DIPLOMA IN COMPUTER HARDWARE & NETWORKING

P G DIPLOMA IN CUSTOMER SERVICE MANAGEMENT

P G DIPLOMA IN HOME SCIENCE

P G DIPLOMA IN MASS COMMUNICATION

P G DIPLOMA IN RETAIL MANAGEMENT

P G DIPLOMA IN WEB DESIGNING

P.G.DIPLOMA IN ADVERTISING AND PUBLIC RELATION

P.G.DIPLOMA IN BEAUTY AND HEALTH CARE

P.G.DIPLOMA IN FASHION TECHNOLOGY

P.G.DIPLOMA IN COMPUTER APPLICATION

P.G.DIPLOMA IN MARKETING AND SALES MANAGEMENT

P.G.DIPLOMA IN TOURISM AND TRAVEL MANAGEMENT

P.G.DIPLOMA IN TEXTILE DESIGN

मुझे पॉलीटेक्निक सरकारी कॉलेज से करना चाहिए या प्राइवेट कॉलेज से?

पॉलीटेक्निक आपको गवर्नमेंट कॉलेज से करना चाहिए। क्योंकि गवर्नमेंट कॉलेज में एडमिशन आपको तभी मिलेगा, जब आपके एंट्रेंस एग्जाम में अच्छी रैंक आयी होगा। इसका मतलब है कि गवर्नमेंट पॉलीटेक्निक कॉलेज प्राइवेट पॉलीटेक्निक की तुलना में अच्छे होते हैं। यंहा पर फ़ीस भी कम होती है।

उम्मीद है कि Polytechnic kya hai और Polytechnic kaise kare ये आर्टिकल आपको पसन्द आया होगा। क्योंकि यंहा पर मैंने पॉलीटेक्निक से संबंधित सारी जानकारी उपलब्ध कराई है। अगर फिर भी पॉलीटेक्निक से संबंधित आपके कोई भी सवाल हैं, तो आप कमेंट के माध्यम से पूँछ सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *