Print Media Me Career kaise banaye- प्रिंट मीडिया में जाना तो जान लो सही से

Career in Print Media in hindi- क्या आप प्रिंट मीडिया के क्षेत्र में कैरियर बनाना चाहते हैं या Print Journalism के फील्ड में कैरियर बनाने का सपना देख रहे हैं, तो इस पोस्ट में आपको Print Media Me Career kaise Banaye इसके बारे में सारी इन्फॉर्मेशन मिलेगी। जिससे आप इस सेक्टर के बारे में सही तरह से जान और समझ पाएंगे और अपने कैरियर का सही निर्णय ले सकेंगे। इस पोस्ट में हम आपको ये भी बताएंगे कि Print Media Me Career Scope क्या है और इस क्षेत्र में कैरियर के ऑप्शन क्या हैं? इस कोर्स के बाद जॉब आपको कैसे मिलेगी? Print Media Course कंहा से करना चाहिए और कोर्स की फीस क्या होगी? एक तरह से इस आर्टीकल में Print Media Me Career kaise banaye इससे संबंधित हर जानकारी आपको यंहा पर मिलेगी जोकि आपको किसी अन्य पोस्ट में ये जानकारी नही मिल पाएगी। क्योकि मैं भी Media का स्टूडेंट रह चुका हूं, इसलिए हमें इस फील्ड की सारी नोलोज है, जोकि मैं आपको इस पोस्ट के माध्यम से शेयर करूँगा।

Print Media Me Career kaise banaye

प्रिंट मीडिया कैरियर की शुरुआत 12वीं या ग्रेजुएशन के बाद की जा सकती है। अगर आप किसी भी स्ट्रीम से 12वीं पास कर चुके हैं तो आप Print Media में सर्टिफिकेट, डिप्लोमा और मास कम्युनिकेशन जैसे कोर्स कर Print Media के क्षेत्र में कैरियर बनाने का सपना पूरा कर सकते हैं। वंही ग्रेजुएशन के बाद Print Media में पीजी डिप्लोमा और मास कम्युनिकेशन में मास्टर डिग्री हासिल कर सकते हैं।

Print Media या Mass Communication Course में एडमिशन कैसे मिलेगा?

इस फील्ड में एडमिशन प्रोसेस की बात करें तो अगर आप ज्यादा रेपुटेड और पॉपुलर संस्थान से Course करना चाहते हैं तो आपको एंट्रेंस एग्जाम क्वालीफाई करना होगा। इसके बाद ही आपको एडमिशन मिल पायेगा। इसके अलावा कुछ ऐसे भी संस्थान हैं जिनमे आपको मेरिट के आधार पर डायरेक्ट ही एडमिशन मिल जाता है।

Print Media या Mass Communication Course की fees क्या होगी?

अगर आप इस क्षेत्र में डिप्लोमा या पीजी डिप्लोमा Course करते हैं तो इन कोर्स की फीस 40 हजार से लेकर एक लाख के बीच मे होगी और इनकी अवधि 1 साल से 2 साल होती है। वंही मास कम्युनिकेशन में डिप्लोमा कोर्स की ड्यूरेशन 2 साल और पीजी डिप्लोमा की ड्यूरेशन 1 साल होती है। यदि आप मास कम्युनिकेशन में बैचलर डिग्री करना चाहते हैं तो ये 3 साल का अंदर ग्रेजुएट कोर्स होता है। इस course की फीस 50 हजार से लेकर एक 1 लाख प्रतिबर्ष के बीच होती है वंही मास्टर इन मास कम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म जैसे कोर्स की फीस भी इतनी ही होती है।

Print Media kya hai?

जब प्रिंट किये हुए या छपे हुए सूचना या संदेश एक स्थान से दूसरे स्थान पर भेजे जाते हैं, तो इसको ही Print Media कहा जाता है। प्रिंट मीडिया के अंतर्गत समाचार पत्र, मैगजीन, पत्र- पत्रिकायें आते हैं। इन सभी मे मशीनों के माध्यम से ही खबर या सूचना Print होकर लोगों के पास पहुचते हैं, तो इसी को Print Media कहा जाता है।

Print Media Me Career Scope kya hai?

आज के समय मे मीडिया के सभी क्षेत्रों में कैरियर की काफी संभावनाएं हैं। प्रेजेंट समय मे न्यूजपेपर की संख्या काफी ज्यादा हो चुकी है, इसलिए यंहा पर आपके लिए जॉब के अच्छे चांस हैं। आये दिन- नए-नये न्यूज़पेपर लांच हो रहे हैं, जिससे आपके लिए जॉब के अवसर बढ़ रहे हैं। इसके अलावा आप न्यूज़ एजेंसियों में भी Job पा सकते हैं। पत्र- पत्रिकायें, मैगजीन में भी आप जॉब कर सकते हैं। इसके साथ ही बुक पब्लिशिंग के फील्ड में भी बेहतरीन कैरियर के ऑप्शन हैं।

इस फील्ड में आप न्यूज़ रिपोर्टिंग के फील्ड में जॉब कर सकते हैं। इसके अंतर्गत रिपोर्टर को फील्ड में जाकर News कवर करना पड़ता है।

आप प्रिंट मीडिया में क्षेत्र में एडिटर के तौर पर भी जोब कर सकते हैं। एडिटर का का डेस्क पर होता है। एडिटर फील्ड से आये समाचारों को छापने के लिए सेलेक्ट करता है। इसकी बाद उनकी राइटिंग और एडिटिंग कर छापने के योग्य बनाता है। एडिटर ही ये डिसाइड करता है कि कौन सी खबर अखबार में कंहा पर छपेगी। न्यूज़पेपर या मैगजीन, पत्र- पत्रिकाओं में एडिटर का बहुत अहम रोल होता है। किसी भी न्यूज़पेपर में जो कुछ भी छपता है, इसकी जिम्मेदारी एडिटर की ही होती है। किसी भी print media संस्थान में एडिटर ही मुख्य होता है। जिसकी बिना पायलट के जहाज नही चल सकता, ठीक इसी तरह बिना एडिटर के अखबार भी नही पब्लिश हो सकता।

इन सभी के अतिरिक्त आप प्रिंट मीडिया के क्षेत्र में कार्टूनिस्ट, कॉलमिस्ट और फोटोग्राफी के फील्ड में कैरियर बना सकते हैं। इस क्षेत्र में आप फ्रीलांसर के तौर पर भी आप किसी भी media संस्थान के लिए राइटिंग के क्षेत्र में काम कर सकते हैं, जंहा पर आपको प्रोजेक्ट के हिसाब से रुपये मिलते हैं।

Print Media में किन पदों पर जॉब करने का मौका मिलता है?

प्रिंट मीडिया के क्षेत्र में कैरियर के बहुत सारे विकल्प हैं। अपनी चॉइस और स्किल के हिसाब से Print Media के किसी भी क्षेत्र में Job कर सकते हैं। जैसे कि-

सीनियर रिपोर्टर
रिपोर्टर
कोरोस्पोंडेंट
ट्रेनी रिपोर्टर
चीफ एडिटर
सीनियर एडिटर
एडिटर
कार्टूनिस्ट
कॉलमनिस्ट
फ़ोटो जॉर्नलिस्ट
एसोसिएट एडिटर
आसिस्टेंट एडिटर
सब एडिटर

Print Media Me Career बनाने के लिए कौन सा कोर्स करें?

प्रिंट मीडिया सेक्टर में कैरियर बनाने के लिए आप डिप्लोमा इन प्रिंट मीडिया, पीजी डिप्लोमा इन प्रिंट मीडिया, डिप्लोमा इन प्रिंट जर्नलिज्म, बैचलर इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन, मास्टर इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन, बीए इन मास कम्युनिकेशन, एमए इन मास कम्युनिकेशन, बीएससी इन मास कम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म, एमएससी इन मास कम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म, पीजी डिप्लोमा इन एडवरटाइजिंग एंड जर्नलिज्म जैसे कोर्स कर सकते हैं।

मास कम्युनिकेशन के अंतर्गत आपको प्रिंट मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, नई मीडिया या डिजिटल मीडिया इन, एडवरटाइजिंग, पब्लिक रिलेशन, फिल्म्स, मार्केटिंग, इवेंट मैनेजमेंट इन सभी के बारे में पढ़ाया जाता है। प्रिंट मीडिया के डिप्लोमा कोर्स में सिर्फ आपको Print Media के बारे में हीं पढ़ाया जाता है।

Also Read-

Print Media के क्षेत्र में आपको क्या काम करने होते हैं?

अगर आप प्रिंट मीडिया में रिपोर्टर के तौर पर काम करेंगे तो आपको फील्ड में जाकर न्यूज़ कलेक्ट करना होगा। जिन लोगों को सोसायटी और फील्ड का अच्छा नॉलेज है उन लोगो के लिए फील्ड वर्क अच्छा रहता है। इसके अलावा रिपोर्टर को संपर्क सूत्र बनाने होते हैं, जिससे कि अगर कंही कोई घटना हो गई है, तो उस संपर्क सूत्र से घटना या समाचार की जानकारी मिल सके। इसके अलावा लोगों के इंटरव्यू लेना।

अगर आप Print media में फोटोग्राफर के तौर पर काम करते हैं तो आपको न्यूज़ से संबंधित फ़ोटो लाने होते हैं। वंही अगर आप एडिटर के तौर पर काम करते हैं, न्यूज़ रीडिंग एडिटिंग, न्यूज़ सेलेक्शन जैसे काम करने पड़ते हैं।

Print Media Me Career बनाने के लिए आवश्यक स्किल्स क्या होनी चाहिए?

प्रिंट मीडिया के जिस भी क्षेत्र में आप कैरियर बनाना चाहते हैं, उस भाषा पर आपको अच्छी पकड़ होनी चाहिए। आप उस भाष को सही ढंग से लिख और बोल लेते हैं, ग्रामर की कोई त्रुटि नही होनी चाहिए। आपको हिंदी या अंग्रेजी जिस भी भाषा के क्षेत्र में कैरियर बनाना चाहते हैं तो उसकी आपको टाइपिंग भी आनी चाहिए। अगर आप हिंदी के क्षेत्र में काम करना चाहते हैं तो आपको हिंदी टाइपिंग आती है, अगर इंग्लिश के क्षेत्र में काम करना है तो इंग्लिश टाइपिंग आनी चाहिए।

इसके अलावा आपको न्यूज़ राइटिंग फ़ॉर्मेट की भी जानकारी होनी चाहिए। आपको न्यूज़ और आर्टिकल लिखना आता हो। आपको न्यूज़ कंहा से मिल सकती है, इस तरह के न्यूज़ सोर्स कैसे बनायें इनके बारे में भी पता होना चाहिए।

आपके अंदर निडरता और निष्पक्षता और तार्किक और बौद्धिक क्षमता होना जरूरी हैं। बेहतर कॉम्युनिकेशन स्किल, साथ ही प्रेजेंटेशन स्किल होना चाहिए। किसी भी समाचार को लिखे तो उसमें किसी भी एक पक्ष को लेकर न लिखें यानी कि आपका समाचार निष्पक्ष होना चाहिए। नए- नए समाचारों से अपडेट रहना, एनालिसिस करने की योग्यता का होना भी जरूरी है।

Print Media या Mass Communication Course कहाँ से करें?

आईआईएमसी, दिल्ली
माखनलाल चतुर्वेदी यूनिवर्सिटी, भोपाल
सिम्बायोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ कॉम्युनिकेशन
जेवियर इंस्टीट्यूट ऑफ कॉम्युनिकेशन
जामिया मिलिया इस्लामिया दिल्ली
बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी
जागरण इंस्टीट्यूट ऑफ कॉम्युनिकेशन
बेनेट यूनिवर्सिटी
TAMS इंस्टीट्यूट ऑफ मास कॉम्युनिकेशन
दिल्ली यूनिवर्सिटी
गुरुगोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी, दिल्ली
इंदिरागांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी, दिल्ली
हैदराबाद यूनिवर्सिटी
पंजाब यूनिवर्सिटी
चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी
गुरुनानकदेव यूनिवर्सिटी
गुरुकुल कांगिणी यूनिवर्सिटी
बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी झांसी
व्हिसलिंग वुड्स इंटरनेशनल मुम्बई
मुम्बई यूनिवर्सिटी
महाराजा सयाजीराव यूनिवर्सिटी
गुरुघासीदास यूनिवर्सिटी
अलीगढ़ यूनिवर्सिटी
आंध्र यूनिवर्सिटी
CSJM यूनिवर्सिटी कानपुर
लखनऊ यूनिवर्सिटी
इलाहाबाद यूनिवर्सिटी, आदि

फ्रेंड्स हमे उम्मीद है कि Print Media Me Career kaise banaye ये पोस्ट आपको अवश्य ही पसन्द आयी होगी। अगर फिर भी आपके कोई सवाल या सुझाव है, तो आप कमेंट के माध्यम से बता सकते हैं।

Best Course List After 12th in hindi-

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *