Software Testing Me Career Kaise banaye

Software Testing Me Career- क्या आप सॉफ्टवेयर टेस्टिंग में कैरियर बनाना चाहते हैं? क्या आप Software Testing Me Career kaise banaye इसके बारे में जानकारी चाहते हैं तो इस पोस्ट में हम आपको डिटेल में बताएंगे कि Software Teaster kaise bane। यंहा पर हम आपको इस इंडस्ट्री में कैरियर स्कोप, जॉब्स, बेस्ट कॉलेज और फीस आदि की जानकारी देंगे।

आज Computer की वजह से पूरी दुनिया का परिदृश्य बदल चुका है। कंप्यूटर ने अनेकों काम आसान कर दिए हैं, जिसमे नए- नए Softwares का काफी योगदान होता है। 
इसके बिना कंप्यूटर कोई काम नही कर सकता है। इसलिए किसी भी काम को अंजाम देने के लिए सॉफ्टवेयर की जरूरत होती है और इनको डेवेलोप करने का काम Software Engineer करते हैं तथा सॉफ्टवेयर Tester इन सॉफ्टवेयर को टेस्ट करते हैं। किसी भी सॉफ्टवेयर Devloping की प्रक्रिया में Software Tester का अहम रोल होता है।   

Software Testing Me Career Kaise banaye

Software Testing में कैरियर बनाने के लिए कैंडिडेट को 10+2 PCM सब्जेक्ट से होना चाहिए। इसके बाद Software Engineering या Computer Science से रिलेटेड कोर्स कर इस फील्ड में कैरियर बनाया जा सकता है। 

आजकल तो अनेक Institute और कॉलेजों में Computer Science या सॉफ्टवेयर टेस्टिंग में सर्टिफिकेट और डिप्लोमा से कोर्स संचालित किए जाते हैं। इसके साथ ही  International Softawre Testing बोर्ड द्वारा अंतरराष्ट्रीय सॉफ्टवेयर टेस्टिंग कोर्स भी उपलब्ध है, जिसको क्वालीफाई करने के बाद आप देश के अलावा विदेशों में भी Software testing के क्षेत्र में Job कर सकते हैं।

इसमे Career बनाने के लिए Student बीएससी इन कंप्यूटर साइंस, BCA, MCA, B Tech और बीई जैसे कोर्स कर सकते हैं। BCA Course और बीएससी कंप्यूटर साइंस की अवधि 3 साल होती है। 

वंही बीटेक और बीई 4 साल का कोर्स होता है। Computer Science में डिप्लोमा कोर्स या डिप्लोमा इन IT की अवधि 3 साल होती है। इस कोर्स को 10वीं के बाद भी किया जा सकता है। MCA Course के लिए स्टूडेंट को Bsc मैथ से होना चाहिए। इस कोर्स की अवधि 3 साल होती है। 

Course For Career in Software Testing

Software Tester बनने के लिए आप निम्न कोर्स कर सकते हैं। जैसेकि-
Bsc in Computer Science
BSC IT
BCA
MCA
BTech
MTech
Diploma in Computer Science
Diploma in IT
Diploma in Software Testing
Certificate in Sofware Testing

Career Scope in Software Testing

कंप्यूटर साइंस के इस क्षेत्र में कैरियर को लेकर कोई भी असमंजस नही है। इस क्षेत्र में बहुत ही बेहतरीन Career के अवसर उपलब्ध हैं, जो भी दिन आ रहे हैं इस फील्ड में रोजगार के अवसर और भी ज्यादा बढ़ रहे हैं। 

आज पूरा विश्व डिजिटिलाइज हो चुका है। ये सब कंप्यूटर की ही देन है और इन कंप्यूटर पर कोई भी कार्य सम्पन्न करने के लिए सॉफ्टवेयर की आवश्यकता होती है। इन सॉफ्टवेयर को टेस्ट करने का कार्य Software Tester करते हैं। इस तरह हम कह सकते हैं कि इस फील्ड में Job के अवसरों की कमी कभी नही हो सकती।

जिस तरह से Computer के क्षेत्र में ग्रोथ हो रही है उसी तरह से सॉफ्टवेयर इंडस्ट्री भी ग्रो कर रही है क्योंकि दोनों एक दूसरे के पूरक हैं। इसलिए इस फील्ड में एक्सपर्ट लोगों की डिमांड भी बढ़ रही है।

पहले के दिनों में आईटी कंपनियों की हालत बहुत अच्छी नही मानी जा सकती है। लेकिन कुछ समय से इस फील्ड में काफी ज्यादा ग्रोथ हुई है। इंडिया ही नही बल्कि सभी देशों की सरकारें भी digitalization को बढ़ावा दे रही हैं। जिससे इस इंडस्ट्री में कामगारों के लिए और भी अच्छे मौके हैं।

कुछ इंडस्ट्री के विशेषज्ञओं के मुताबिक इंडिया आउटसोर्स टेस्टिंग market का लगभग 70 प्रतिशत हिस्सा हासिल करने की क्षमता है। इससे साफ जाहिर है कि Software Testing कैरियर के लिहाज से उम्दा कैरियर विकल्प है।

Software Testing kya hai

Software जब तैयार हो जाता है, तो इसके बाद अगला काम इसकी Quality (गुणवत्ता)  को जांचने और परखने के लिए Software Tester की आवश्यकता पड़ती है। आपको बता दें कि Software Testing भी सॉफ्टवेयर डेवलपर या सॉफ्टवेयर इंजीनियर की तरह एक प्रोफेशन होता है। 

Software Engineer या डेवलपर जब किसी सॉफ्टवेयर का निर्माण कर लेते हैं तो इसके बाद अगलक चरण सॉफ्टवेयर टेस्टिंग का होता है। Software Tester इन सॉफ्टवेयर की तकनीकी क्षमता, गुणवत्ता के साथ मे इनकी स्टैबिलिटी को जांचते हैं। यह टेस्टिंग आमतौर पर दो तरह से की जाती है, जोकि मैनुअली और आटोमेटेड टेस्टिंग के तौर पर जानी जाती है।

मैनुअली टेस्टिंग को Software Tester खुद ही किसी सॉफ्टवेयर की जांच करते हैं जबकि आटोमेटेड टेस्टिंग में कंप्यूटराइज Testing Tools का इस्तेमाल किया जाता है। जिसके अंतर्गत वाइट बॉक्स टेस्टिंग, ब्लैक बॉक्स टेस्टिंग, फंक्शनल टेस्टिंग, ग्रे टेस्टिंग, इंटीग्रेटेड टेस्टिंग, सिस्टम टेस्टिंग, रीग्रेशन टेस्टिंग, स्ट्रेस टेस्टिंग और लोड टेस्टिंग, स्मोक टेस्टिंग जैसे काम किये जाते हैं।

Software Testing Career Skills

एक software Tester को तकनीकी ज्ञान के साथ ही बिजनेस की भी अच्छी जानकारी होनी चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि जब टैस्टर को मार्किट की अच्छी समझ होगी तो और भी बेहतरीन तरीके से अपना कार्य कर सकेंगे। 

Tester के सबसे पहले टेस्टिंग की सभी तरह की आवश्यकताओं का आकलन बहुत अहम होता है। इसके बाद उसकी कार्यप्रणाली को तैयार करना, उनको लागू करना, दोष और उसके खतरों को जानना तथा उनकी रिपोर्ट तैयार करना इनकी जिम्मेदारी होती है। इसके साथ ही Application से संबंधित सभी खतरों से आगाह करना भी Software Tester का ही कार्य होता है।

ये भी पढ़े – कंप्यूटर इंजीनियर कैसे बने

Career Option in Software Testing


इस फील्ड में कई कैरियर ऑप्शन मौजूद हैं। जब आप कोर्स कर College से निकलते हैं तब आप Fresher होते हैं ऐसे में आप QA Analyst के तौर पर कैरियर की शुरुआत करते हैं। जब आपको इस फील्ड में 2 से 3 साल का अनुभव हो जाता है तब आप Sr. QA Analyst के तौर पर काम कर सकते हैं।

5 से 6 बर्ष का एक्सपेरिएंस होने के बाद आप QA टीम कॉर्डिनेटर के पद पर जॉब कर सकते हैं। वंही 8 से 10 साल का अनुभव होने के बाद आप Test Manager के तौर पर अपने कैरियर की पारी शुरू कर सकते हैं। 14 बर्ष या इससे ज्यादा अनुभव होने पर आप सीनिअर Test Manager के तौर पर काम करने का मौका पा सकते हैं।

Software Tester के लिए अन्य कैरियर के अवसर-

आटोमेशन टेस्टिंग
परफॉर्मेन्स टेस्टिंग
बिजनेस एनालिस्ट

Technicial Skills For Software Tester

डाटाबेस की बुनियादी जानकारी/SQL
डिफेक्ट ट्रैकिंग टूल्स की जानकारी
टेस्ट मैनेजमेंट टूल्स की जानकारी
Linux कमांड की बेसिक जानकारी
ऑटोमेशन टूल्स की जानकारी

Non Technicial Skills For Software Tester

एनालिसिस स्किल
गुड़ कम्युनिकेशन स्किल
टाइम मैनेजमेंट स्किल
पैशन
ग्रेट Attitude

Best College For Software Testing Course

इंटरनेशनल सॉफ्टवेयर टेस्टिंग क्वालिफिकेशन बोर्ड
CMC लिमिटिड
क़सपीडर्स सॉफ्टवेयर टेस्टिंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट
STC टेक्नोलॉजी
QA कैंपस
SQTL इंटीग्रेटेड सोलुशनस इंटीग्रेटेड 
अन्ना यूनिवर्सिटी
PQR सॉफ्टवेयर
त्यजराज कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग
क्रेस्टक
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ सॉफ्टवेयर टेस्टिंग
माखनलाल चतुर्वेदी यूनिवर्सिटी, भोपाल
बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी
दिल्ली यूनिवर्सिटी

हमे उम्मीद है कि Software Testing me Career kaise banaye ये जानकारी आपको पसंद आयी होगी। अगर आपको कैरियर से रिलेटेड कोई भी इंफॉर्मेशन चाहिए तो आप हमें कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *