Computer Engineer Kaise Bane

Computer Engineer kaise bane- आज की पोस्ट में हम आपको कंप्यूटर इंजीनियरिंग के बारे में बताएंगे कि Computer Engineer kaise bane या कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग में कैरियर कैसे बनायें? अगर आपका भी Computer Engineer बनने का सपना है तो इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आप कंप्यूटर इंजीनियर बनने का सपना आसानी से पूरा कर सकेंगे। 
इस आर्टिकल में हम आपको Computer Engineering के कैरियर स्कोप, जॉब के अवसर, इसके लिए बेस्ट कॉलेज कौन से है, इस फील्ड में कैरियर बनाने के लिए कौन सा कोर्स करना चाहिए आदि की जानकारी जानकारी देंगे। 

Computer Engineer kaise bane

आज के समय मे दुनिया डिजिटलाइजेशन के ओर तेजी से बढ़ रही है। ऐसे में Computer Engineer के लिए मौके भी बढ़ रहे हैं। विभिन्न देशों की सरकारें भी डिजिटल सशक्तिकरण को बढ़ावा दे रही है। जिससे कंप्यूटर इंजीनियरस की डिमांड भी बढ़ रही है। इसलिए हम कह सकते हैं कि इस फील्ड में रोजगार के अवसरों की काफी अच्छी संभावनाएं हैं।

अगर आप भी Computer Engineer बनने का सपना पूरा करना चाहते हैं, तो आप 10वीं के बाद कंप्यूटर इंजीनियरिंग में डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं। इस कोर्स की अवधि 3 साल होती है। विभिन्न Engineering College में ये कोर्स संचालित किया जाता है। जिनमे आप एंट्रेंस एग्जाम या डायरेक्ट मेरिट के आधार पर एडमिशन पा सकते हैं। वंही गवर्नमेंट पॉलीटेक्निक कॉलेज से भी आप इस डिप्लोमा को कर सकते हैं। इसके लिए आपको पॉलीटेक्निक का जॉइंट एंट्रेंस एग्जाम देना होगा। इसके बाद मेरिट के बेस पर आपको कॉलेज में दाखिला मिलेगा।

वंही 12वीं पीसीएम के बाद BE/BTech in Computer Science Engineering कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं। जिसकी अवधि 4 साल होती है। लेकिन इनमें अच्छे कॉलेजों में एडमिशन के लिए नेशनल और स्टेट लेवल के जॉइंट एंट्रेंस एग्जाम देना पड़ेगा। जैसे कि आईआईटी, आरपीईटी, यूपीटीयू, केसीईटी, एमएचटीसीईटी, बीआईटीएसएटी, वीआईटीईई जैसे एग्जाम क्वालीफाई कर अच्छे इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश पा सकते हैं।

इसके अलावा आप Bsc in Computer Science या BCA और MCA जैसे कोर्स कर इस फील्ड में एंट्री कर सकते हैं। एमसीए के लिए स्टूडेंट्स किसी भी स्ट्रीम से ग्रेजुएट होना चाहिए लेकिन 12वीं में मैथ सब्जेक्ट अनिवार्य है। वंही कुछ यूनिवर्सिटी में अगर आप किसी भी स्ट्रीम से ग्रेजुएशन है तो भी इस कोर्स में दाखिला दे देते हैं। BCA Course के लिए कैंडिडेट को 10+2 पीसीएम से पास होना चाहिए।

Career Scope in Computer Engineering

कंप्यूटर इंजीनियरिंग के क्षेत्र में रोजगार की असीम संभावनाएं हैं क्योंकि आज के समय मे हम लोग जिस दुनिया मे जी रहे है वो सम्पूर्ण रूप से टेक्नोलॉजिकल उन्नति पर निर्भर है। इस टेक्नोलॉजिकल प्रोग्रेस के बिना जीवन की कल्पना करना भी मुश्किल है। पूरा विश्व मे आईटी हब्स और सॉफ्टवेयर कंपनियों की संख्या में काफी इजाफा हो रहा है। इससे साफ जाहिर हैं कि Computer Engineering में डिग्री डिप्लोमा होल्डर्स के लिए जॉब भरपूर अवसर हैं।

वर्तमान समय मे ऐसा कोई भी सेक्टर नही है जंहा पर कंप्यूटर का इस्तेमाल नही होता है। कंप्यूटर पर किसी भी कार्य को अंजाम देने के लिए सॉफ्टवेयर की जरूरत होती है। इन सॉफ्टवेयर को बनाने और डिज़ाइन, डेवलपमेंट करने का काम कंप्यूटर इंजीनियर या Software Engineer करते हैं। ऐसे में इस फील्ड में जॉब के बेहतरीन अवसर दिखाई दे रहे हैं।

Also Read- Software Testing Me Career Kaise banaye

कंप्यूटर इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल करने के बाद सॉफ्टवेयर इम्प्लीमेंटेशन, डेटाबेस मैनजमेंट, आईटी, टेलीकॉम्युनिकेशन, कंप्यूटर हार्डवेयर, एम्बेडेड सिस्टम्स, मल्टीमीडिया, गेमिंग, सॉफ्टवेयर डेवलोपिंग एंड मेंटीनेंस, एम्बेडेड सिस्टम्स के क्षेत्र में आसानी से जॉब हासिल कर सकते हैं।

Course for Career in Computer engineering

इस सेक्टर में कैरियर बनाने के लिए आप निम्न कोर्स कर सकते हैं जैसे कि-
बीईई इन कंप्यूटर साइंस
बीटेक इन कंप्यूटर साइंस
बीईई इन इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी
बीटेक इन इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी
डिप्लोमा इन इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी
बीएससी इन कंप्यूटर साइंस
डिप्लोमा इन कंप्यूटर साइंस
बीएससी आईटी

Computer Engineering सिलेबस

कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग कोर्स के अंतर्गत कंप्यूटर सिस्टम, प्रोग्रामिंग मैकेनिकल, कंप्यूटर आर्केटेक्चर, प्रोग्रामिंग लैंग्वेज, डेटाबेस एंड फ़ाइल सिस्टम, सॉफ्टवेर इंजीनियरिंग एंड आपरेटिंग सिस्टम, इन्फॉर्मेशन सिस्टम एंड सेक्युरिटी, कम्पाइलर सिस्टम, माइक्रोप्रोसेसर, एम्बेडेड सिस्टम, कंप्यूटर ग्राफ़िक्स, एडवांस सॉफ्टवेयर कोडिंग, ऑप्टिकल कॉम्युनिकेशन, नेचर लैन्वेज प्रोसेसिंग, आर्टिफिशियल एन्टीलेजेन्स, मल्टीमीडिया, वेब डेवलोपिंग, गेमिंग, एनालिसिस ऑफ डिज़ाइन एल्गोरिथ्म, सिस्टम सॉफ्टवेयर डेटाबेस, मोबाइल नेटवर्क, क्लाउड कंप्यूटर, सॉफ्टवेयर टेस्टिंग, डेटाबेस मैनेजमेंट, कंप्यूटर नेटवर्कस आदि की जानकारी प्रदान की जाती है।

Computer Engineering करने के बाद आप निम्न पदों पर जॉब हासिल कर सकते हैं।

कंप्यूटर इंजीनियर
सॉफ्टवेयर इंजीनियर
एप्लिकेशन कंसलटेंट
सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर
वेब डेवलोपर
गेम डेवलोपेर
मोबाइल एप्लीकेशन डेवलोपर
नेटवर्क एडमिनिस्ट्रेटर

Computer Engineering Course करने के बाद जॉब किन क्षेत्रों में मिलेगी?

गवर्नमेंट एंड प्राइवेट सेक्टर
कॉलेज एंड यूनिवर्सिटी
टेलीकॉम्युनिकेशन इंडस्ट्री
हेल्थकेयर सेक्टर
एग्रीकल्चर सेक्टर
डिफेन्स एंड एरोस्पेस सेक्टर
मैनुफैक्चरिंग सेक्टर
रिटेल सेक्टर
आईटी सेक्टर
आटोमोबाइल सेक्टर
नेशनल एंड इंटरनेशनल ट्रेड
एंटरटेनमेंट सेक्टर
टीचिंग, आदि

ये भी पढ़े – सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बने

Computer Engineer क्या करता है?

कंप्यूटर इंजीनियर कंप्यूटर और इसके पुर्जों को डिज़ाइन और टेस्टिंग और इम्प्लीमेंटेशन का कार्य करते हैं। इसके लिये उनको काफी रिसर्च और मेहनत करनी होती है। प्रोसेसर, सर्किट, मदरबोर्ड, राऊटर डिवाइस, मेमोरी, ऑपरेटिंग सिस्टम, मोबाइल डिवाइस आदि का निर्माण करते हैं। Computer Making के दौरान ये भी जांचते हैं कि कंप्यूटर के हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर एक साथ प्रॉपर तरीके से काम करते हैं या नही। ये लोग नेटवर्क की डिज़ाइन, टेस्टिंग और सेटिंग का भी काम करते हैं। इसके साथ ही रोबोट्स की डिजाइनिंग और टेस्टिंग का कार्य भी कंप्यूटर इंजीनियर करते हैं।

Computer Engineering के क्षेत्र में लोकप्रिय ट्रेड

डाटाबेस एडमिनिस्ट्रेटर्स- किसी भी कंपनी या संगठन में डेटाबेस एडमिनिस्ट्रेटर का कार्य उस संगठन के डेटाबेस को डिज़ाइन, रिपेयर, मेन्टेन और इम्प्लीमेंटेशन का कार्य करना होता है।

Hardware Engineer- इनका कार्य कंप्यूटर के कलपुर्जे (हार्डवेयर) से संबंधित रिसर्च, डिज़ाइन, टेस्टिंग, डेवलोपमेन्ट जैसे कार्य इनकी जिमेदारी होती है। वंही Hardware Engineers को इंस्टालेशन और ओवरसीइंग के कार्य भी करने होते हैं।

System Analyst- सिस्टम एनालिस्ट प्रोफेशनल का कार्य सॉफ्टवेयर और सिस्टम से रिलेटेड समस्याओं के समाधान ढूढने होते हैं। इसके साथ ही बिजनेस डेवलोपमेन्ट टीम के साथ कॉर्डिनेशन भी बनाये रखना होता है।

Networking Engineer- नेटवर्किंग इंजीनियर को कंप्यूटर नेटवर्किंग की डिजाइनिंग, टेस्टिंग, इम्प्लीमेंटेशन, ट्रबलशूटिंग के कार्य करने होते हैं।

Software Engineer- ये लोग सॉफ्टवेयर को डिज़ाइन और डेवेलोप करने का कार्य करते हैं। यह फील्ड काफी युवाओं का पसंदीदा कैरियर ऑप्शन है।

ये भी पढ़े – इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी (आईटी) में करियर कैसे बनाये

Computer Engineering के क्षेत्र में सैलरी-

कंप्यूटर इंजीनियरिंग हाईएस्ट सैलरी पेइंग सेक्टर के रूप में जाना जाता है। एक फ्रेशर या कैरियर के शुरुआती समय में आपको 10 से 15 हजार रुपए आसानी से मिल जाते हैं। अगर आप नामी संस्थान जैसे कि आईआईटी से Computer Engineering पूरी की है तब तो आपको काफी आकर्षक सैलरी ऑफर होगी। 4 से 5 साल का अनुभव होने के बाद लाखों रुपये प्रतिमाह कमा सकते हैं।

Computer Engineering में बेस्ट स्पेशलाइजेशन

आप Computer Science में मास्टर डिग्री पूरी करने के बाद किसी भी एक फील्ड में स्पेशलाइजेशन कर उस सेक्टर के महारथी बन सकते हैं। निम्न क्षेत्रों में स्पेशलाइजेशन किया जा सकता है-
सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग
मशीन लर्निंग
आर्टिफिशियल एन्टीलेजेन्स
डाटासाइंस एंड एनालिस्ट
बायोइन्फरमेटिक्स
नेटवर्किंग
ह्यूमन कंप्यूटर इंटरेक्शन
वेब एंड मोबाइल कंप्यूटिंग
साइबर सिक्योरिटी

Also Read- Bsc Computer Science Course me Career kaise banaye

Computer Engineering Job के लिए बेस्ट कंपनी

गूगल
माइक्रोसॉफ्ट
आईबीएम
टीसीएस
adobe
एम्फोसिस
याहू
टेक महिंदा
आर्केल
सिस्को
एचसीएल
सनमाइक्रोसिस्टम
एक्सेंचर सीटीएस
विप्रो
एपल
अमेज़न
फ्लिपकार्ट
स्नैपडील
एलजी
एचपी
डैल
फेसबुक
माइंडट्री
MPhasis
CGI

ये भी पढ़े – कंप्यूटर हार्डवेयर नेटवर्किंग इंजीनियरिंग में करियर कैसे बनाये

Best College for Computer Engineering Course

आईआईटी, मद्रास
आईआईटी, बॉम्बे
आईआईटी, खरगपुर
आईआईटी दिल्ली
आईआईटी रुड़की
आईआईटी कानपुर
आईआईटी हैदराबाद
आईआईटी गोहाटी
जादवपुर विश्विद्यालय, कोलकाता
अन्ना विश्विद्यालय, चेन्नई
BITS पिलानी
बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी
VIT वेल्लोर
NIT’s
इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी, हैदराबाद
पंजाब यूनिवर्सिटी
इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी
दिल्ली यूनिवर्सिटी
अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी
पुणे कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग
मणिपाल यूनिवर्सिटी

ये भी पढ़े – एमसीए में करियर कैसे बनाये

हमे उम्मीद है कि Computer Engineer kaise bane ये आर्टिकल आपको पसंद आया होगा क्योंकि इस पोस्ट में मैंने Computer Science Engineering कोर्स एंड कैरियर से रिलेटेड सारी जानकारी दी है। फिर भी अगर आपके मन मे कोई सवाल या सुझाव हैं तो आप हमें निसंकोच कमेंट करें।

ये भी पढ़े – बीसीए में करियर कैसे बनाये

4 thoughts on “Computer Engineer Kaise Bane”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x