MassCommunication Course & Career Details in Hindi

Mass Communication Course- क्या आप मास कॉम्युनिकेशन कोर्स या मास कॉम्युनिकेशन में कैरियर के बारे में जानना चाहते हैं। अगर Mass Communication Course की आपको डिटेल में जानकारी चाहिए, तो ये पोस्ट आपके लिए बहुत यूजफुल है। इस पोस्ट में Mass Communication Course के बारे में मैंने  सारी जानकारी दी है। इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको Mass Communication के बारे में हर तरह की जानकारी मिल जाएगी। यंहा पर मैंने Mass Media या Mass Communication में कैरियर स्कोप क्या है। इस कोर्स के लिए टॉप कॉलेज कौन से हैं। इस कोर्स की फीस कितनी होती हैं। इसमे कैरियर के क्या ऑप्शन हैं। Mass Communication course के बाद जॉब कंहा मिलेगी। इन सभी के बारे में हम इस पोस्ट में चर्चा करेंगे।


Mass Communication Course & Career Detail


मास कम्युनिकेशन वर्तमान समय मे बहुत ही ज्यादा पॉपुलर कोर्स हैं। यह पत्रकारिता और जनसंचार का कोर्स है। इसको Mass Media या Mass Communication भी कहते हैं। इस कोर्स के अंतर्गत फिल्म, रेडियो, टीवी, न्यूजपेपर, एडवरटाइजिंग, पब्लिक रिलेशन, इवेंट मैनेजमेंट, मार्केटिंग आदि के बारे में पढ़ाया जाता है। मास कम्युनिकेशन को कई नामो से जान जाता है। भिन्न- भिन्न यूनिवर्सिटी या में इसके अलग अलग नाम हो सकते हैं,जैसे कुछ कॉलेज में इसको बैचलर इन जर्नलिज्म एंड मास कॉम्युनिकेशन (BJMC) या बीए इन जर्नलिज्म एंड मास कॉम्युनिकेशन के नाम से जाना  जाता है। लगभग सारे कोर्स एक ही तरह के हैं। मैं यंहा पर मास कॉम्युनिकेशन के सारे कोर्स के नाम बताता हूं। 

डिप्लोमा इन मास कॉम्युनिकेशन
डिप्लोमा इन प्रिंट मीडिया
डिप्लोमा इन इलेक्ट्रॉनिक मीडिया
डिप्लोमा इन वेब मीडिया
डिप्लोमा इन मास कॉम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म
बैचलर इन जर्नलिज्म एंड मास कॉम्युनिकेशन
बीए इन जर्नलिज्म एंड मास कॉम्युनिकेशन
बीएससी इन मास कम्युनिकेशन एडवरटाइजिंग एंड जर्नलिज्म
बीए इन जर्नलिज्म
बैचलर इन जर्नलिज्म
बीएससी मास कॉम्युनिकेशन
बैचलर इन ब्रॉडकास्ट जर्नलिज्म
बैचलर इन मास कॉम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म
मास्टर इन मास कॉम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म
मास्टर इन मास कॉम्युनिकेशन
मास्टर इन मास कॉम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म
एमएससी इन मास कॉम्युनिकेशन
एमएससी इन मास कॉम्युनिकेशन एडवरटाइजिंग एंड जर्नलिज्म
मास्टर इन जर्नलिज्म
मास्टर इन ब्रॉडकास्ट जर्नलिज्म
पीजी डिप्लोमा इन जर्नलिज्म
पीजी डिप्लोमा इन एडवरटाइजिंग एंड जर्नलिज्म
पीजी डिप्लोमा इन मास कॉम्युनिकेशन


Qualification for Mass Communication course


मास कम्युनिकेशन में बैचलर डिग्री या डिप्लोमा कोर्स के लिए 12वीं किसी भी स्ट्रीम से होना चाहिए। वंही मास कॉम्युनिकेशन में मास्टर या पीजी डिप्लोमा के लिए किसी भी स्ट्रीम से ग्रेजुएशन होना जरूरी है। कुछ यूनिवर्सिटी में मास्टर इन मास कॉम्युनिकेशन में एडमिशन के लिए मास कॉम्युनिकेशन में बैचलर डिग्री होना आवश्यक है। 
बैचलर डिग्री की अवधि 3 साल और मास्टर डिग्री की अवधि 2 साल होती है। डिप्लोमा और पीजी डिप्लोमा की अवधि क्रमशः 2, और 1 बर्ष होती है। फीस की बात करें, तो ये हर कॉलेज की अलग अलग होती है। प्राइवेट कॉलेज में Mass Communication course fees 50 हजार से 1 लाख प्रतिवर्ष तक होती है। गवर्नमेंट कॉलेज में फीस मात्रा 5 से 10 हजार प्रतिवर्ष होती है। अधिकतर गवर्नमेंट कॉलेज में एडमिशन एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर मिलता है। कुछ प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम देना होता है। यंहा पर मैं आपको बेस्ट मास कम्युनिकेशन के कॉलेज के बारे में बताऊंगा।


Career in Mass Communication Course


आज के समय मे मास कम्युनिकेशन काफी स्टूडेंट्स पसंदीदा कैरियर है। मीडिया की चमक दमक ने सभी को प्रभावित किया है। इन दिनों बहुत से लोग रौब रुतवा बनाने के लिए Media industry को जॉइन करते हैं। इस कोर्स के बाद आप पत्रकारिता, फ़िल्म इंडस्ट्री, टीवी न्यूज़ चैनल और न्यूजपेपर में रिपोर्टर, एडिटर, कैमरामैन, फ़िल्म डायरेक्टर, आदि क्षेत्रों में कैरियर बना सकते हैं। इसके अलावा विज्ञापन इंडस्ट्री में भी मास कॉम्युनिकेशन के स्टूडेंट्स के लिए रोजगार के द्वार खुले रहते हैं। वर्तमान समय मे mass communication के फील्ड में काफी शानदार कैरियर के ऑप्शन हैं।


विज्ञापन यानी कि एडवरटाइजिंग के फील्ड में आज के समय मे काफी प्रोफेशनल कर्मचारियों की डिमांड रहती है, क्योकि इन दिनों एडवरटाइजिंग इंडस्ट्री काफी बुलंदियो पर पहुंच चुकी है। एडवरटाइजिंग के बिना तो मानव जीवन की कल्पना करना भी मुश्किल से हो गया है। आज की युवा पीढ़ी उसी प्रोडक्ट को ज्यादा से ज्यादा यूज करने लगे हैं, जिनका वे टीवी चैनल, समाचारपत्र, पत्रिकाओं, होर्डिंग्स आदि में एड देखते हैं। एड मानव संस्कृति पर गहरा प्रभाव डालते हैं। आज के समय मे विज्ञापन इस तरह से प्रस्तुत किये जाते हैं, कि ज्यादा से ज्यादा लोग उसकी ओर आकर्षित हों। आज के समय मे हर कंपनी अपनी प्रोडक्ट और सर्विस की मार्केटिंग के लिए एड का सहारा लेती है। जिसकी वजह से इस सेक्टर में कैरियर की अनेक संभावनाएं बढ रही हैं।


इसके अलावा आप पब्लिक रिलेशन ऑफिसर के तौर पर भी कैरियर बना सकते हैं। पब्लिक रिलेशन में भी आजकल कैरियर की अनेक संभावनाएं मौजूद हैं। इन दिनों हर कंपनी अपनी साख जनता या पब्लिक के बीच बनाने के लिए पब्लिक रिलेशन ऑफिसर की नियुक्ति करती हैं। इस क्षेत्र में आप गवर्नमेंट सेक्टर में भी काम करने का मौका पा सकते हैं।


न्यू मीडिया ने सूचना और मनोरंजन के फील्ड में नई क्रांति ला दी है। न्यू मीडिया के अंतर्गत न्यूज पोर्टल, ऑनलाइन मीडिया, वेब मीडिया, सोशल मीडिया को सम्मलित किया जाता है। न्यू मीडिया में भी जॉब के बहुत सारे विकल्प हैं। आज के समय मे हर न्यूज़पेपर, न्यूज़ चैनल अपना वेब पोर्टल भी चलते हैं आप इनमें भी कंटेंट राइटर या रिपोर्टर के तौर पर जॉब कर सकते हैं। इसके अलावा अन्य बहुत से न्यूज़ पोर्टल और न्यूज़ वेबसाइटों में काम करने का मौका पा सकते हैं। अगर आप जॉब नही करना चाहते हैं, तो आप खुद का ब्लॉग या न्यूज़ पोर्टल स्टार्ट कर सकते हैं। जिससे आपको बहुत अच्छी कमाई हो सकती है। इसमे कोई खास खर्च भी नही होता है। 10 से 15 हजार में आप न्यूज़ पोर्टल की स्टार्टिंग कर सकते हैं।


आज के समय मे न्यूज़ चैनल की भरमार सी हो गई है। दिन प्रतिदिन नए नए टीवी न्यूज चैनल लांच हो रहे हैं, इन न्यूज़ चैनल में आप न्यूज़ रिपोर्टर, वीडियो एडिटर, कंटेंट राइटर, एंकर आदि के तौर पर काम करने का मौका पा सकते हैं। प्रिंट मीडिया यानी कि न्यूज़पेपर या पत्रिकाओं में भी आप रिपोर्टर, एडिटर, कंटेंट राइटर के तौर पर काम कर सकते हैं। इसके अलावा रेडियो में भी आप रेडियो जॉकी के तौर पर कैरियर की शुरआत कर सकते हैं।

मास कम्युनिकेशन कोर्स के माध्यम से फिल्मो में भी जाने का रास्ता साफ हो जाता है। अगर आपको फ़िल्म इंडस्ट्री में डायरेक्टर या वीडियो एडिटर या फिर फ़िल्म स्क्रिप्ट राइटर, सिनेमेटोग्राफर बनना है, तो आप mass communication course के बाद फ़िल्म इंडस्ट्री में भी कैरियर की तलाश कर सकते हैं।


Mass Communication के बाद किन क्षेत्र में मिलेगी नौकरी।


इलेक्ट्रॉनिक मीडिया
प्रिंट मीडिया
वेब मीडिया
फ़िल्म
फ़िल्म प्रोडक्शन हाउस
दूरदर्शन
आकाशवाणी
पब्लिक रिलेशन
एडवरटाइजिंग


Mass Communication course के बाद किन पदों पर कर सकते हैं, काम


टीवी न्यूज रिपोर्टर
न्यूज़ चैनल में एंकर
न्यूज़ चैनल में कैमरामैन
न्यूज़ चैनल में वीडियो एडिटर
न्यूज़ चैनल में कंटेंट राइटर
न्यूज़पेपर में रिपोर्टर
न्यूज़पेपर में एडिटर
कंटेंट राइटर
वेब पोर्टल में कंटेंट राइटर
फ़िल्म एंड टीवी स्क्रिप्ट राइटर
स्क्रीन प्ले राइटर
फ़िल्म डायरेक्टर
फ़िल्म आर्ट डायरेक्टर
सिनेमेटोग्राफर
पब्लिक रिलेशन ऑफिसर
एड डिपार्टमेंट में क्रिएटिव राइटर
कार्टूनिस्ट
इवेंट मैनेजर


Best Mass Communication College in India


इंडियन इंस्टीटूट ऑफ मास कॉम्युनिकेशन, दिल्ली
माखनलाल चतुर्वेदी यूनिवर्सिटी, भोपाल
एजेके मास कॉम्युनिकेशन एंड रिसर्च सेंटर, दिल्ली
अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी
बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी
गुरुगोविंद इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी, दिल्ली
दिल्ली यूनिवर्सिटी
भारतीय विद्या भवन, दिल्ली
महाराज शायजीराव यूनिवर्सिटी, बड़ोदरा
इलाहाबाद यूनिवर्सिटी
गुरुघासीदास यूनिवर्सिटी, छत्तीसगढ़
हैदराबाद यूनिवर्सिटी
जेवियर इंस्टीट्यूट ऑफ मास कॉम्युनिकेशन
सिम्बोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ मास कॉम्युनिकेशन, दिल्ली
आंध्र यूनिवर्सिटी
अन्ना यूनिवर्सिटी, चेन्नई
बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी, झांसी
बैंगलोर यूनिवर्सिटी
लखनऊ यूनिवर्सिटी

23 thoughts on “MassCommunication Course & Career Details in Hindi”

  1. Mai EK print media me reporter Hu Anchor banne ke liye Kaun se course behtar honge Anchor banne ke liye Kaun se course Karne chahiye iski Mai 12 pas Hu Ache number se lekin anchoring Mein mujhe bahut interest hai lekin Kaise Kya Karen yah samajh Nahin a raha hai kaun se course ki liye admission le

    Reply
  2. Sir mai graduation pass out hoo aur ab mai radio jockey banna chahta hoon to iske liye diploma 1 yr ka kr sakta hu but I have not paid above 10 thousand for this course aur mai government college ke liye entrance exam ki preparation.kaise kbse Karu..pls suggest

    Reply
  3. I have just passed 10th and I want to become a anchor tho mujhe kya kara na chahiye or diploma me kon sa course lana chahiye..

    Reply

Leave a Comment