RD Meaning in Hindi

RD Meaning in hindi: आरडी का मीनिंग (मतलब), RD क्या है, आरडी के फायदे आदि के बारे में डिटेल में जानकारी।

आज के इस लेख में हम आपको RD Meaning in Hindi से जुड़ी सारी जानकारी देंगे। आप सभी ने RD नाम तो सुना ही होगा। अक्सर लोग बैंकों और बीमा कंपनियों में RD करवाते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि RD का मतलब क्या होता है और RD Ka Full Form क्या होता है। शायद नही मालूम होगा। अगर नही मालूम है तो जान लें।

RD Meaning in Hindi

आरडी का फुल फॉर्म रिकरिंग डिपॉजिट होता है। रिकरिंग डिपॉजिट का मतलब होता है कि एक ऐसा निश्चित डिपॉजिट या धन राशि जो आपको एक निश्चित अवधि में बार- बार RD खाते में जमा करनी पड़ती है।

RD kya hai

रिकरिंग डिपॉजिट (Recurring Deposits) में निवेशक को एक निश्चित रकम हर महीने, एक निश्चित अवधि तक जमा करनी होती हैं। जब ये स्कीम में मेच्योर हो जाती है तो निवेशक को उसकी जमा रकम ब्याज सहित मिल जाती है।

रिकरिंग डिपॉजिट, सामान्य बैंक डिपॉजिट से अलग है। लेकिन रिकरिंग डिपॉजिट भी फिक्स्ड डिपाजिट के समान सुरक्षित होते हैं।

RD के लिए आप महीने, तीन महीने, 6 महीने वाली किस्त चुकाने का विकल्प भी चुन सकते हैं। अगर आपके पास में RD है तो ज्यादातर बैंक आपको लोन भी दे देंगे। यह लोन आरडी राशि का 95% जितना भी हो सकता है, उतना मिल सकता है। आरडी पर लोन का उपयोग इमरजेंसी कंडीशन में किया जा सकता है।

Intrest Rate on RD in Hindi

आमतौर पर RD पर ब्याज 2.5% से लेकर 8.5% के बीच मिलता है। रिकरिंग डिपॉजिट को छोटे समय के लिए भी करवाया जा सकता है। इस पर इंटरेस्ट रेट आम तौर पर की गई सेविंग एकाउंट से ज्यादा मिलता है।

Recurring Deposits की विशेषताएं

रिकरिंग डिपॉजिट की विशेषताओं की बात करें तो निवेशक इसमें छोटे अमाउंट से भी निवेश कर सकता है। आप अपनी सुविधा के अनुसार महीने, तीन महीने, 6 महीने वाली किस्त चुनकर भुगतान कर सकते हैं। इसमे नियमित मासिक बचत पर आपको ब्याज मिलता है और एक अल्पकालिक बचत खाते की स्थापना में आपकक योगदान करती है।

आरडी के के माध्यम से भविष्य में उपयोग के लिए आवश्यक पूंजी बनाने के लिए किश्तों की व्यवस्था करना भी संभव है। आपको नियमित मासिक योगदान करने के कारण, एक आवर्ती जमा योजना आपको बचत करने के लिए प्रेरित करती है।

नियमित भुगतान जैसेकि RD आपके निवेश को ट्रैक पर रखने का अच्छा तरीका है। चूंकि इसमे किस्तों का भुगतान हर महीने की निश्चित तारीख को किया जाना होता है तो निवेशक आरडी की किस्त की राशि का पहले से ही बंदोबस्त कर लेता है।

इस तरह पैसों की बचत की ये प्लानिंग अनुशासन के साथ-साथ किस्त की राशि तक भी बचत करने की आदत भी डालता है। 10 साल से अधिक उम्र का कोई भी व्यक्ति बैंक में आरडी खाता खुलवा सकता है।

FD (सावधि जमा) और RD (आवर्ति जमा) ये दोनों ही बैंक ग्राहकों को समान ब्याज दर पर भुगतान करते हैं। रिकरिंग डिपॉजिट में आप RD की सुरक्षा पर भी बैंक से पैसा उधार ले सकते हैं। जिसका उपयोग आप एमरजेंसी में कर सकते हैं। इसके साथ ही एक निश्चित अवधि के बाद आपको आपकी रकम ब्याज सहित मिल जाती है। ये बचत करने का बहुत ही अच्छा तरीका माना जाता है।

Which is Better RD or FD

जब FD और RD में रिटर्न की तुलना की जाती है, तो FD ज्यादा रिटर्न देती दिखाई देती है। इसका कारण यह है कि आरडी में खाताधारक मासिक तौर पर पैसा जमा करता है और इसलिए ब्याज भी उसी के अनुसार मिलता है। वंही FD की राशि एक बार में जमा की जाती है, और ये एक एकमुश्त राशि होती है जो उच्च ब्याज दर अर्जित करके देती है।

Which RD has highest Intrest Rate

उस RD पर ग्राहक को ज्यादा व्याज मिलता है जो ज्यादा अवधि की होती है। मान लीजिये अपने दो RD खुलवाई हैं, जिसमे एक 1 साल की है और दूसरी 2 साल की है। तो इन दोनों में से 2 साल वाली RD ज्यादा ब्याज देती है।

उम्मीद है RD Meaning in Hindi ये लेख आपको पसंद आया होगा, क्योंकि यंहा पर मैंने RD से संबंधित सारी जानकारी दी है, जोकि आपके लिए काफी यूजफुल साबित होगी।

Tags: RD interest rates Post Office, RD interest rates 2022, IDFC RD interest rates, RD interest rate SBI, RD interest rate HDFC, RD interest Rates ICICI, RD interest rate Calculator, RD interest rates in Axis Bank, RD interest rates Post Office 2021

Leave a Comment

Your email address will not be published.