BHMS Course Details in Hindi

BHMS Course Details in Hindi- अगर आप बीएचएमएस कोर्स करना चाहते हैं और आपको इसके बारे में डिटेल में जानकारी चाहिये कि BHMS Course kaise kare तो आज की इस पोस्ट में हम आपको इसके बारे में बिलकुल डिटेल में बताएंगे। जिससे आप इस कोर्स के बारे में सही तरह से जान और समझ पाएंगे। इसके माध्यम से आप ये डिसाइड कर पाएंगे कि आपको ये कोर्स करना चाहिए या नही।

कई स्टूडेंट्स मुझे कमेंट करके पूंछते हैं कि सर BHMS Me Career kaise banaye? क्या इस कोर्स को करना सही रहेगा या नही। BHMS Ki Fees Kitni hoti hai। इसमे एडमिशन का प्रोसेस क्या होता है। कैसे इस कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं। इसके लिए योग्यता क्या होनी चाहिए (Qualification For BHMS Course) इन सभी के बारे में तो मैं आपको इस लेख में बताऊंगा ही। इसके साथ ही BHMS Course and Career से जुड़ी और भी अन्य जानकारी मैं आपको इस पोस्ट में दूंगा। जिससे आपके कैरियर को सही डायरेक्शन मिलेगा।

BHMS Course Details in Hindi

ये कोर्स उन कैंडिडेट्स के लिए बहुत ही फायदेमंद कोर्स है, जो लोग होमेओपैथिक चिकित्सा के फील्ड में कैरियर बनाना चाहते हैं। कोर्स के बाद में इसमे कैरियर के भी अच्छे विकल्प होते हैं। इस कोर्स के बाद जॉब तो आप हॉस्पिटल और नृसिंग होम में कर ही सकते हैं और साथ ही आप आप चाहें तो खुद का भी क्लिनिक स्टार्ट कर सकते हैं।

यह साढ़े 5 बर्ष का अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स होता है। एक तरह से इस कोर्स की अवधि तो साढ़े 4 साल ही होती है, लेकिन इसमे 1 साल इंटर्नशिप भी करना जरूरी होता है। इस तरह से यह साढ़े 5 साल का कोर्स हो जाता है। इस कोर्स के बाद में आप होमेओपैथिक डॉक्टर बन सकते हैं।

BHMS Career Scope

चिकित्सा विज्ञान के इस फील्ड में कैरियर स्कोप तो काफी अच्छा है। दिनोदिन हॉस्पिटल्स की संख्या बढ़ती ही जा रही है। ऐसे में यंहा पर डॉक्टर की डिमांड भी बढ़ रही है। चूंकि यह मेडिकल और हेल्थ सेक्टर से जुड़ा कोर्स है तो कोर्स को पूरा करने के बाद में आप बेरोजगार नही रहेंगे। जैसा कि अन्य सेक्टर में होता है।

इसमे आप कोर्स पूरा करने के बाद तुरंत ही किसी भी हॉस्पिटल या क्लिनिक में जॉब की तलाश कर सकते हैं। मान लीजिए अगर आपको जॉब नही भी मिलती है तो खुद का क्लिनिक स्टार्ट कर लें। वैसे भी डॉक्टरी की पढ़ाई करने के बाद में बहुत ही कम लोग जॉब करते हैं। बल्कि वे खुद का क्लिनिक खोलना पसन्द करते हैं। इसलिए इस फील्ड में जॉब की झिकझिक नही होती है।

Qualification for BHMS Course in Hindi

इस कोर्स के लिए आवश्यक योग्यता किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं पीसीबी सब्जेक्ट से पास होना चाहिए। ऐसे कैंडिडेट BHMS Course के लिए योग्य माने जाते हैं।

How Get Admission in BHMS Course

जो स्टूडेंट्स BHMS Course करना चाहते हैं तो उनको नीट एग्जाम क्वालीफाई करना होगा। फिर इस एग्जाम की मेरिट के आधार पर कॉलेज में एडमिशन मिलेगा। अगर आपको बहुत ही अच्छे College से BHMS करना है तो आपको नीट एग्जाम में भी अच्छे मार्क्स लाने होंगे।

BHMS Ki Fees Kitni Hoti hai

इस कोर्स की फीस इस बात पर निर्भर करती है कि आप सरकारी कॉलेज से BHMS Course करते हैं या प्राइवेट से। अगर आप कम फीस में इसको करना चाहते हैं तो गवर्मेन्ट कॉलेज से कोर्स को करें। फिलहाल BHMS Course Ki Fees 1 लाख से लेकर 10 लाख तक हो सकती है।

BHMS Full Form in Hindi

बीएचएमएस कोर्स की फुल फॉर्म Bachelor of Homoeopathic Medicine & Surgery होता है। कुछ लोग इसका मतलब पूंछते हैं कि BHMS Ka Matlab Kya Hota hai तो हम आपको बता दें कि इसका मतलब भी Bachelor of Homoeopathic Medicine & Surgery ही होता है।

BHMS Course कंहा से करें?

वैसे तो आज के समय मे बहुत से मेडिकल कालेज बीएचएमएस कोर्स संचालित करते हैं। इसलिये कोशिश करें कि किसी भी अच्छे मेडिकल कॉलेज से ही आप इस कोर्स करें। क्योंकि वंहा पर प्रैक्टिकल की भी अच्छी सुविधा मिलेगी। जिससे आपको ज्यादा से ज्यादा सीखने को मिलेगा।

Homeoparhic Doctor Salary

होमेओपैथिक डॉक्टर को सैलरी 20 हजार से 30 हजार के बीच मे आसानी से मिल जाती है। जब अच्छा अनुभव हो जाता है तो 40 से 50 हजार तक सैलरी मिल सकती है। गवर्नमेंट सेक्टर में तो सरकार के नियमानुसार सैलरी मिलती है।

Best College For BHMS Course

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ होमेओपेथी कलकत्ता

लोकमान्य होमियोपैथीक मेडिकल कॉलेज पुणे

गवर्नमेंट होमियोपैथीक मेडिकल कॉलेज एंड।हॉस्पिटल पुणे

चंदोला होमेओपैथीक मेडिकल कॉलेज रुद्रपुर

होमेओपैथीक मेडिकल कॉलेज मुम्बई, आदि

Some Important Question Related To BHMS Course

होम्योपैथिक डॉक्टर कैसे बनें (Homeopathic Doctor kaise bane)

होम्योपैथिक डॉक्टर बनने के लिए कैंडिडेट को कैंडिडेट को 12वीं फिजीक्स केमेस्ट्री और बायोलॉजी बिषय से पास होना चाहिए। इसके बाद नीट एग्जाम को पास करें। फिर आपको BHMS Course करना होगा। इस तरह से आप Homeopathic Doctor बन सकते हैं।

Sarakari Homeopathic Doctor kaise bane

सरकारी होम्योपैथिक डॉक्टर बनने का बहुत ही आसान तरीका है। सबसे पहले आप BHMS कंप्लीट करें। इसके बाद जॉब भी सरकारी हॉस्पिटल्स में वैकेंसी निकले तो अप्लाई करें। इसके बाद आप सरकारी होम्योपैथिक डॉक्टर बन सकते हैं।

बीएचएमएस कौन सी डिग्री है?

बीएचएमएस होम्योपैथीक मेडिकल साइंस की अंडर ग्रेजुएट बैचलर डिग्री होती है। जोकीं BAMS, BUMS, MBBS के समान ही अंडर ग्रेजुएट बैचलर डिग्री कोर्स हैं। बस चिकित्सा पद्दतियों का अंतर होता है।

क्या BHMS Doctor एलोपैथी दवाएं परस्कराइव कर सकता है।

जी नही, जो BHMS डॉक्टर होते हैं वे सिर्फ होम्योपैथिक दवाएं ही दे सकते हैं, क्योंकि उनको सिर्फ इसी चिकित्सा पध्दति का ज्ञान होता है। होम्योपैथिक के बारे में ही उनको कोर्स के दौरान पढ़ाया जाता है।

क्या होम्योपैथिक डॉक्टर की एलोपैथिक डॉक्टर से वैल्यू कम होती है?

ऐसा नही है कि होम्योपैथिक डॉक्टर की।MBBS (एलोपैथिक) डॉक्टर से वैल्यू कम होती है। दोनो ही अपनी- अपनी चिकित्सा पध्दति के डॉक्टर हैं। इसलिए दवाएं भी अलग- अलग इस्तेमाल करनी होती हैं। आमतौर पर एलोपैथिक दवाएं तुरंत की किसी बीमारी को सही करने में अपना असर शुरू कर देती हैं। जबकि होम्योपैथिक दवाएं धीरे- धीरे असर करती हैं। लेकिन इसका मतलब ये मत निकाले कि BHMS डॉक्टर की MBBS डॉक्टर से कम वैल्यू होती है।

BHMS Course ke fayde

इस कोर्स का सर्वप्रथम फायदा ये होता है कि आप जब BHMS Course कंप्लीट कर लेते हैं तो आसानी से जॉब मिल जाती हैं।

BHMS की डिग्री हासिल करने के बाद में खुद का स्वरोजगार (क्लीनिक स्टार्ट) कर सकते हों।

इस फील्ड में कभी मंदा नही आता है।

अपने नाम के आगे डॉक्टर लगा सकते हो, जोकीं काफी रेस्पेक्टफुल लगता है।

BHMS और BAMS में क्या अंतर होता है।

बीएमएस एक आयुर्वेदिक चिकित्सा पध्दति होती है, जबकि BHMS एक होम्योपैथिक चिकित्सा पध्दति होती है। BHMS के बाद में आप होम्योपैथिक डॉक्टर बनते हैं। BAMS जे बाद में आप आयुर्वेदिक डॉक्टर बनते हैं। जबकि एमबीबीएस के बाद में एलोपैथिक डॉक्टर बनते हैं।

Is BHMS and MBBS is Equal (क्या बीएचएमएस और एमबीबीएस समान ही होता है।)

हां बिल्कुल BHMS और MBBS समान ही होते हैं। बस दोनो पे पैथी का अंतर है। BHMS होमेओपेथी और MBBS एलोपैथी से सम्बंधित है।

Is BHMS is A Doctor

हां बीएचएमएस भी एक डॉक्टर होता है।

मुझे BHMS करना चाहिए या MBBS

देखिए आप पर निर्भर करता है कि आप दोनों में से कौन सा कोर्स करना चाहते हैं। इतना तो है कि वर्तमान समय मे MBBS का स्कोप ज्यादा है। अन्य डॉक्टर जैसेकि BAMS या BHMS की तुलना में MBBS डॉक्टर की सैलरी भी ज्यादा होती है। इतना ही नही MBBS डॉक्टर की फीस अन्य डॉक्टर की तुलना में काफी ज्यादा होती है।

सबसे बड़ी बात तो ये है कि ज्यादातर लोग MBBS डॉक्टर को ही तवज्जो देते हैं। इसका कारण सिर्फ एक ही है कि MBBS Doctor एलोपैथिक चिकित्सा पध्दति से इलाज करते हैं, जोकीं एकदम साइंटिफिक होती है। गंभीर से गंभीर स स्थिति में इस चिकित्सा पध्दति से आसानी से इलाज संभव है। जोकीं होमेओपेथी और आयुर्वेदिक या यूनानी (BUMS) किसी मे भी नही है। अगर आपको लाइफ में ज्यादा पैसा कमाना है तो आपको MBBS करना चाहिए।

ये भी पढ़े- एनस्थीसिया टेक्नीशियन कैसे बने

ये भी पढ़े- बी फार्मा में कैरियर कैसे बनाये

ये भी पढ़े- ऑप्थमोलिक टेक्नीशियन कैसे बनें

ये भी पढ़े- नर्सिंग में कैरियर कैसे बनाये

दोस्तों उम्मीद है कि BHMS Course Details in Hindi ये पोस्ट आपको पसन्द आयी होगी। क्योंकि इस पोस्ट में मैंने BHMS कोर्स से रीलेटेड हर जानकारी दी है जैसेकि BHMS Course kaise kare या BHMS Me Career kaise banaye इन सभी टॉपिक पर मैंने डिटेल में बताया है। अगर आपके कोई भी सवाल या सुझाव हैं तो आप हमें कमेंट कर सकते हैं।

Tags- BHMS Course Details in hindi, BHMS Kya hai, BHMS Course me career kaise banaye, Best BHMS College in india, BHMS Course ki fees Kitni Hoti hai, BHMS Doctor salary, BHMS Course Qualification, BHMS Course Duration, BHMS Course ke baare me detail me bataye, what is BHMS in Hindi,

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *